Jalandhar School Open News : कल से खुलेंगे जालंधर के 273 सरकारी स्कूल, छात्रों को इन नियमों का करना होगा पालन

राज्य सरकार की तरफ से मिली हिदायतों के तहत सभी प्रबंध सुनिश्चित कर लिये गए हैं और इस संबंध में विद्यार्थियों को संक्रमण से बचाए रखने के लिए खास ध्यान के लिए स्कूल मुखियों को भी सूचित कर दिया गया है

Vikas_KumarSun, 25 Jul 2021 09:29 AM (IST)
पंजाब में दसवीं से 12वीं के 273 सरकारी स्कूल 26 जुलाई से खुलेंगे।

जासं, जालंधर। कोरोना की दूसरी लहर की वजह से बंद पड़े दसवीं से 12वीं के 273 सरकारी स्कूल 26 जुलाई से खुलेंगे। स्कूलों में सारी तैयारी हो चुकी है और कोविड-19 की गाइडलाइंस के तहत स्कूल खुलेंगे। इनमें 152 सेकेंडरी और 121 हाई स्कूल शामिल हैं। जिला शिक्षा अधिकारी सेकेंडरी हरिंदरपाल सिंह ने बताया कि राज्य सरकार की तरफ से मिली हिदायतों के तहत सभी प्रबंध सुनिश्चित कर लिये गए हैं और इस संबंध में विद्यार्थियों को संक्रमण से बचाए रखने के लिए खास ध्यान के लिए स्कूल मुखियों को भी सूचित कर दिया गया है। सभी स्कूलों में सैनीटाइज सप्रे करवा लिया गया है और स्कूलों में विशेष सफाई भी करवाई गई है।

सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल कराड़ी की प्रिंसिपल सुमन शर्मा ने बताया कि स्कूल के प्रवेश द्वार पर ही विद्यार्थियों को मास्क पहन कर आने, शारीरिक दूरी को ख्याल रखने संबंधी पहले ही जूम मीटिंगों के जरिये जागरूक कर दिया गया है। इसके अलावा कोविड-19 की हिदायतों का पालन हो इसके लिए सारे स्टाफ की डयूटियां लगा दी गई हैं। सरकारी हाई स्कूल किशनपुरा के मुख्य अध्यापक परमिंदर सिंह ने कहा कि आफलाइन क्लासें शुरू होने को लेकर विद्यार्थियों और अध्यापकों में उत्साह है। कोविड-19 की हिदायतों का अच्छी तरह से पालन हो इसके सारे इंतजाम पूरे कर लिये गए हैं।

'स्कूल की पढ़ाई का मुकाबला किसी तकनीक से संभव नहीं'

छात्रा दिलप्रीत के पिता कमलजीत सिंह कहते हैं कि शिक्षा विभाग की तरफ से भले ही आनलाइन क्लासें या टीवी के जरिये विद्यार्थियो को पढ़ाने के प्रबंध किए। मगर जो स्कूल जाकर पढ़ने से पढ़ाई होती है उसका मुकाबला किसी और तकनीक से नहीं किया जा सकता है। स्कूल खुलने की खबर के बाद से बेटी में उत्साह है और उसने पहले ही मास्क, सैनिटाइजर, पानी की बोतल आदि का प्रबंध खुद ही करके रख लिया है। ताकि किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो। इसके अलावा उन्होंने भी बेटी को जागरूक किया है कि कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षित रहने के लिए खुद को और दूसरों को बचाए रखना बेहद जरूरी है।

'आफलाइन क्लासें शुरू होने की खुशी'

सरकारी कन्या सीनियर सेकेंडरी स्कूल नेहरू गार्डन की छात्रा राधिका का कहना है कि लंबे समय से घर पर पढ़ाई हो रही थी, बस इंतजार था कि जल्द से जल्द स्कूल खुलें। क्योंकि जो क्लास में जाकर शिक्षक से रूबरू होकर पढ़ाई करते सीखा जा सकता है वो आनलाइन में संभव नहीं हो सकता। उत्सुकता है कि फिर से हालात सुधर रहे हैं और आफलाइन क्लासें शुरू हो रही हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.