Jalandhar MC House Meeting: निगम सदन में गूंजा सचिन जैन हत्याकांड, प्रोजेक्ट्स में भ्रष्टाचार को लेकर भाजपा ने मांगा मेयर राजा का इस्तीफा

भाजपा जिला प्रधान और पार्षद सुशील शर्मा ने पिछले दिनों हिंसक वारदात का शिकार हुए सचिन जैन टिंकू और हैप्पी संधू को भी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने हाउस में मांग की कि शहर में बढ़ रही हत्याओं की वारदातों और बिगड़ रहे लॉ एंड ऑर्डर की निंदा की जाए।

Pankaj DwivediTue, 27 Jul 2021 03:31 PM (IST)
मंगलवार को जालंधर नगर निगम की बैठक में मौजूद मेयर जगदीश राजा और कमिश्नर करनेश शर्मा।

जागरण संवाददाता, जालंधर। कारोबारी सचिन जैन हत्याकांड की गूंज नगर निगम सदन की साढ़े 5 महीने बाद मंगलवार को हुई मीटिंग में भी सुनाई दी है। भाजपा जिला प्रधान और पार्षद सुशील शर्मा ने पिछले दिनों मैं शहर में हिंसक वारदात का शिकार हुए सचिन जैन, टिंकू और हैप्पी संधू को भी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने हाउस में मांग की कि शहर में बढ़ रही हत्याओं की वारदातों और बिगड़ रहे लॉ एंड ऑर्डर की निंदा की जाए। 

इससे पहले, मेयर जगदीश राज राजा और कमिश्नर करनेश शर्मा की अगुआई में मीटिंग शुरू करने से पहले पूर्व पार्षद सुखमीत सिंह डिप्टी, पूर्व पार्षद शिवदयाल चुघ, पूर्व पार्षद सरदील सिंह काहलाें सहित शहर के अन्य प्रमुख लोगों को श्रद्धांजलि दी गई।

कांग्रेस के सीनियर पार्षद जस्सल ने मेयर से इस्तीफा मांगा

उधर, मीटिंग में रखे गए विज्ञापन के टेंडर को रद करने को लेकर अभी तक फैसला ना होने पर पार्षद देस राज जस्सल ने कहा कि या तो मेयर जगदीश राजा माफी मांगें या इस्तीफा दें। कांग्रेस पार्षद मनदीप जस्सल ने कहा कि अगर अफसरशाही इसी तरह हावी रखनी है तो उनसे इस्तीफा ले लिया जाए।

भाजपा पार्षदों ने मेयर से मांगा इस्तीफा

भाजपा पार्षदों ने भी मेयर जगदीश राजा से इस्तीफा मांगा। उन्हाेंने आरोप लगाया कि सभी बड़े प्रोजेक्ट्स में भ्रष्टाचार हो रहा है। भाजपा पार्षदों ने मेयर के सामने आकर मंच पर चढ़कर मुर्दाबाद के नारे लगाए।  जवाब में कांग्रेसी पार्षदाें ने मोदी सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाए। कांग्रेस की 20 से ज्यादा महिला पार्षद मेयर के समर्थन में आकर खड़ी हो गई है। कांग्रेसी और भाजपा पार्षदों आपने सामने और लगातार नारेबाजी चली। गाैरतलब है कि कई महीनाें बाद हाे रही निगम की बैठक काे लेकर विपक्ष कई दिनाें से मेयर काे घेरने की रणनीति तैयार कर रहा था।

यह भी पढ़ें-इतिहास की परतें खोलतीं अमृतसर की सुरंगें, लाहौर तक जाते थे गुप्त संदेश, जुड़े हैं कई रोमांचक किस्से

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.