जालंधर में Catch the Rain पर सेमिनार, विधायक बेरी ने यूथ क्लबों को दिया स्वच्छ गांव का संदेश

जालंधर में क्लीन विलेज-ग्रीन विलेज, कैच द रैन के तहत सेमिनार में मौजूद लोग।

जालंधर में विधायक राजिंदर बेरी ने कहा कि इंसान की अपनी गलती के कारण ही जीवन मुश्किल होता जा रहा है। पानी के दुरुपयोग से भूजल स्तर दिनों-दिन कम हो रहा है। हमें कुदरत के इस अद्भुत तोहफे का सही प्रयोग करना चाहिए। बारिश के पानी को बचाना चाहिए।

Pankaj DwivediMon, 15 Mar 2021 05:46 PM (IST)

जालंधर, जेएनएन। नेहरू युवा केंद्र जालंधर की ओर से सोमवार को क्लीन विलेज-ग्रीन विलेज, कैच द रैन के तहत खालसा कालज में सेमिनार करवाया गया। जिला युवा अधिकारी नित्यानंद यादव के नेतृत्व में युवा स्वयंसेवक और यूथ क्लब के सदस्यों को पर्यावरण और जल सरंक्षण के लिए प्रशिक्षण दिया गया। 

कार्यक्रम में जालंधर केंद्रीय के विधायक राजिंदर बेरी ने भी शिरकत की। इस मौके पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इंसान की अपनी गलती के कारण ही जीवन मुश्किल होता जा रहा है। पानी के दुरुपयोग से भूजल स्तर दिनों-दिन कम होता जा रहा। इसलिए जहां हमें कुदरत के इस अद्भुत तोहफे का सही प्रयोग करना चाहिए, वहीं बारिश के पानी को बचाने के लिए भी अथक प्रयास करने चाहिए। विधायक ने यूथ क्लब के सदस्यों को स्वच्छ गांव का संदेश दिया। नित्यानंद यादव ने  कहा की हर नागरिक का फर्ज बनता है की वह अपने गांव, इलाके, शहर को साफ-सुथरा रखे और साथ ही ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाकर हरियाली को बढ़ावा दे।

यूथ क्लबों को दिया खेल का सामान

इस अवसर पर बड़ी संख्या में युवा स्वयंसेवक, यूथ क्लब मेंबरों ने प्राकृतिक संसाधनों को बचाने के लिए शपथ भी ली। कार्यक्रम में विधायक राजिंदर बेरी के अलावा लायलपुर खालसा कॉलेज के प्रिंसिपल गुरपिंदर सिंह समरा, नोडल अधिकारी सुरजीत लाल, प्रो. संदीप आहूजा, रिशिव सिंगला, जगदीश कौर, दविंदर कौर मौजूद रहे। इस मौके पर यूथ क्लबों को खेल का सामान भी दिया गया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.