Jalandhar Coronavirus Update: जालंधर में काेराेना वायरस से चार लोगों की मौत, 170 नए केस

Jalandhar Coronavirus Update: जालंधर में काेराेना वायरस से चार लोगों की मौत, 170 नए केस
Publish Date:Wed, 12 Aug 2020 07:53 AM (IST) Author: Vipin Kumar

जालंधर, जेएनएन। कोरोना वायरस तेजी से लोगों को गिरफ्त में लेने के साथ-साथ जानलेवा भी साबित होने लगा है। बुधवार को जिले में कोरोना वायरस से चार लोगों की मौत हो गई और 170 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले में कोरोना से 89 लोगों की मौत हो गई है और संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 3432 हो गया है।

इससे पहले मंगलवार को कोरोना से पहली बार एक ही कॉलोनी में तीन मरीजों की मौत हो गई। तीनों मरने वाले गोपाल नगर इलाके के रहने वाले हैं। इसके अलावा मंगलवार को आई रिपोर्ट में एक सिविल जज, कोरोना के नोडल अफसर डॉ. टीपी सिंह सहित चार डॉक्टरों व सिविल सर्जन आफिस के स्टाफ के तीन मुलाजिमों सहित कुल 90 लोग संक्रमित पाए गए। इनमें से 82 लोग जिले से और आठ मरीज बाहरी जिलों से संबंधित हैं। वहीं, राहत की खबर ये रही कि 73 मरीजों को सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों से छुट्टी देकर घर में आइसोलेशन के लिए रवाना किया गया।


उधर, सिविल जज के कोरोना पॉजिटिव होने से कचहरी परिसर में मुलाजिमों में अफरातफरी का माहौल रहा। संबंधित विभाग ने उनके साथ काम करने वाले मुलाजिमों को क्वारंटाइन करने की हिदायतें जारी कर दी हैं। उनके सैंपल लेकर भी जांच करवाई जाएगी। सिविल सर्जन ऑफिस में कोरोना के नोडल अफसर के अलावा तीन मुलाजिम भी कोरोना का शिकार हुए। इसके अलावा जेपी नगर में रहने वाली महिला डॉक्टर के अलावा निजी अस्पताल के डॉक्टरों तथा पैरामेडिकल स्टाफ के दो सदस्य भी संक्रमित पाए गए। वहीं, शाहकोट में पांच, जालंधर छावनी से तीन, जीटीबी नगर, आजाद नगर, कालिया कालोनी, फ्रेंड्स कालोनी से दो-दो लोग कोरोना वायरस की चपेट में आए।

उधर, सेहत विभाग से मिली जानकारी के अनुसार गोपाल नगर में रहने वाले 44 साल के व्यक्ति को बुखार, सांस में लेने में दिक्कत के बाद डीएमसी अस्पताल लुधियाना में दाखिल करवाया गया था। जांच के बाद उन्हें कोरोना की पुष्टि हुई। मरीज को शुगर व मोटापा था। सांस लेने में दिक्कत बढऩे के बाद तबीयत बिगड़ी और उनकी मौत हो गई। दूसरे मरने वाले 45 साल के व्यक्ति को खांसी, बुखार और सांस लेने में दिक्कत के बाद सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया।

जांच में वह पॉजिटिव पाया गया। मरीज को शुगर, हाई बीपी तथा दिल की बीमारी होने की वजह से तबीयत खराब होने पर सरकारी मेडिकल कॉलेज अमृतसर में रेफर किया गया था। वहीं, गोपाल नगर में ही रहने वाले तीसरे 60 साल के मरीज को सोमवार तबीयत खराब होने पर सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। वह शुगर का मरीज था।
 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.