प्रोफेशनल टैक्स हटाने की मांग को लेकर विधायक राजिंदर बेरी से मिले जालंधर के कंप्यूटर डीलर्स

जालंधर में विधायक राजिंदर बेरी को ज्ञापन सौंपते हुए कंप्यूटर डीलर्स एसोसिएशन के सदस्य।

जालंधर कंप्यूटर डीलर्स एसोसिएशन के प्रधान राजेश जोशी व उप-प्रधान संजीव चौधरी ने कहा कि शहर में 100 से अधिक डीलर्स हैं जिन्होंने एक हजार से अधिक लोगों को रोजगार दिया हुआ है। कोरोना के कारण अभी कारोबार पटरी पर नहीं है। ऐसे में प्रोफेशनल टैक्स वापस लिया जाए।

Pankaj DwivediTue, 23 Mar 2021 02:25 PM (IST)

जालंधर, जेएनएन। पंजाब सरकार की ओर से लगाए गए प्रोफेशनल टैक्स को हटाने के लिए मंगलवार को जालंधर कंप्यूटर डीलर्स एसोसिएशन के सदस्यों ने विधायक राजिंदर बेरी को ज्ञापन सौंपा। प्रधान राजेश जोशी व उप-प्रधान संजीव चौधरी ने कहा कि शहर में 100 से अधिक डीलर्स हैं जिन्होंने एक हजार से अधिक लोगों को रोजगार दिया हुआ है। कोरोना के कारण अभी कारोबार पटरी पर नहीं है। सरकार टैक्स जमा करवाने के लिए कह रही है। वर्ष 2018 में सरकार टैक्स लेकर आई थी। वर्ष 2019 में सरकार ने टैक्स वापस लेने की बात कही थी। अब जीएसटी स्टेट ने भी डीलर्स को टैक्स जमा करवाने के नोटिस भेज दिए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने टैक्स जमा करवाने से पहले लोगों को अवेयर नहीं किया। टैक्स अभी पेचीदा है। लोगों के समझ से परे है। टैक्स लगाकर लोगों पर अतिरिक्त बोझ ना डाला जाए।

विधायक राजिंदर बेरी ने डीलर्स को आश्वासन देते हुए कहा कि सभी विधायक एकत्रित होकर वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल के समक्ष मुद्दा रखेंगे। टैक्स हटाए जाने की बात कहेंगे। कोशिश रहेगी कि टैक्स को जल्द से जल्द हटाया जाए। मीडिया एडवाइजर जस्सी कोचर ने कहा कि पहले ही डीलर्स कई टैक्सों का भुगतान कर रही है। कोरोना काल में कारोबार का सरवाइव करना मुश्किल है। ऐसे में प्रोफेशनल टैक्स वापस लिया जाए। इस अवसर पर महासचिव सुप्रीत सिंह, संयुक्त सचिव भुपेश सौंगध, कोषाध्यक्ष गुरप्रीत सिंह, साहिल कपिला उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.