एचएमवी ने हेल्थ रिस्क बिहेवियर पर वर्कशाप करवाई

एचएमवी ने हेल्थ रिस्क बिहेवियर पर वर्कशाप करवाई
Publish Date:Fri, 30 Oct 2020 01:00 AM (IST) Author: Jagran

जासं, जालंधर

एचएमवी में हेल्थ रिस्क बिहेवियर पर वर्कशाप आयोजित की गई। इसमें आइआइटी रूपनगर के रिसर्च प्रोजेक्ट आफिसर अमनदीप सिंह ने किशोरावस्था में आने वाले बदलाव के प्रति विद्यार्थियों को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि किशोरावस्था में परिवार, समाज और दोस्तों की भूमिका बेहद अहम है, इसलिए सभी अपना बहुमूल्य योगदान दें। उसका कारण यह है कि किशोरावस्था में ही युवक-युवतियां गलत राह पर चलने लगते हैं, क्योंकि उन्हें उस समय सह गलत का अंतर पता नहीं होता है। इसके परिणामस्वरूप कई किशोर शराब और ड्रग सेवन करने लगते हैं। उन्होंने कहा कि इनका संबंध असफलता, अवसाद और आत्महत्या से भी जुड़ा हुआ है। इसके लिए परिजनों को चाहिए कि वे बच्चे के व्यवहार पर नजर रखें। प्रिसिपल डा. अजय सरीन ने कहा कि इस विषय का चयन युवाओं के हर प्रकार से बेहतर विकास को ध्यान में रखते हुए किया गया है। डा. आशमीन कौर ने सभी का स्वागत किया। अंत में छात्राओं ने अपनी समस्याओं से जुड़े प्रश्न भी पूछे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.