जालंधर में हिंदू संगठनों ने घेरा सांसद संतोख चौधरी का घर, जूते पहन ज्योति जलाने के मामले में केस दर्ज करने की मांग

जालंधर में हिंदू संगठनों ने सांसद चौधरी संतोख सिंह के कोठी का फिर से घेराव किया है। जूते पहनकर जोत जगाने के मामले को लेकर हिंदू संगठन सांसध चौधरी के खिलाफ पर्चा दर्ज करने की मांग कर रहे हैं।

Vinay KumarSat, 18 Sep 2021 11:46 AM (IST)
जालंधर में सांसद संतोख चौधरी के घर के बाहर प्रदर्शन करते हुए हिंदू संगठन के नेता

जागरण संवाददाता, जालंधर। सांसद चौधरी संतोख सिंह द्वारा जूते पहनकर मां भगवती की ज्योत जगाने को लेकर हिंदू संगठनों में रोष कम होने का नाम नहीं ले रहा है। विरोध कर रहे हिंदू संगठनों ने सांसद के खिलाफ पर्चा दर्ज ना होने पर नेशनल हाईवे जाम करने का ऐलान किया है। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस प्रशासन को भी मामले को गंभीरता से लेने की मांग रखी है। दरअसल बीएसएनएल द्वारा आयोजित हिंदी दिवस समारोह के दौरान बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए सांसद चौधरी संतोख सिंह ने जूते पहनकर मां भगवती के चित्र के आगे ज्योति जलाई थी।

इस दौरान उनके साथ बीएसएनएल के कई अधिकारी भी जूते पहन कर उनके साथ खड़े रहे। यह तस्वीर सांसद द्वारा खुद ही अपने फेसबुक पेज पर अपलोड की गई थी। जिसे इंटरनेट मीडिया पर किसी ने वायरल कर दिया। जिसका संज्ञान लेते हुए शिवसेना हिंद ने डीसीपी गुरमीत सिंह को मांग पत्र देकर सांसद के खिलाफ पर्चा दर्ज करने की मांग रखी थी। लेकिन 2 दिन बीत जाने के बाद भी सांसद के खिलाफ मामला दर्ज ना होने पर शनिवार को फिर से शिवसेना हिंद के नेताओं ने सांसद चौधरी संतोष सिंह के घर का घेराव कर दिया। इस दौरान पार्टी के राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष इशांत शर्मा ने कहा कि सांसद ने जूते पहनकर मां भगवती के चित्र के समक्ष ज्योति जलाकर हिंदुओं की धार्मिक भावनाएं आहत की है।

उन्होंने कहा कि सनातन धर्म में जूते पहन कर पूजा करना मर्यादा के विपरीत है। ऊपर से सांसद ने खुद की हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करते हुए इस चित्र को अपने फेसबुक पेज पर अपलोड कर दिया। जिसे लेकर हिंदुओं में भारी रोष है। उन्होंने कहा कि अगर सांसद के खिलाफ जल्द कार्रवाई न की गई तो पार्टी की तरफ से संघर्ष तेज करने को विवश होंगे। जिसके तहत नेशनल हाईवे जाम किया जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.