एजीएम में बहस के बाद एजेंडा पास, 19 को होंगे जिमखाना चुनाव

जिमखाना क्लब की एनुअल जनरल मीटिग (एजीएम) में बैलेंस शीट पर बहस होने के बाद एजेंडा पास कर दिया गया है।

JagranMon, 29 Nov 2021 01:01 AM (IST)
एजीएम में बहस के बाद एजेंडा पास, 19 को होंगे जिमखाना चुनाव

जागरण संवाददाता, जालंधर : जिमखाना क्लब की एनुअल जनरल मीटिग (एजीएम) में बैलेंस शीट पर बहस होने के बाद एजेंडा पास कर दिया गया है। मीटिग में 19 दिसंबर को क्लब की नई कार्यकारिणी के चुनाव की घोषणा पर मोहर लग गई। पांच से दस दिसंबर तक उम्मीदवारों की नामांकन की प्रक्रिया होगी। जूनियर उपप्रधान, सचिव, संयुक्त सचिव व कोषाध्यक्ष सहित दस कार्यकारिणी सदस्यों के पदों पर मतदान किया जाएगा। क्लब के प्रधान व डिविजनल कमिश्नर वीके मीणा ने एजीएम में पहुंचे सदस्यों को चुनाव करवाने को लेकर हाथ खड़े करने के लिए कहा। अधिकतर सदस्यों ने हाथ खड़े करके चुनाव करवाने को सहमति दे दी। चुनाव का नतीजा मतदान वाले दिन ही घोषित कर दिया जाएगा।

एजीएम में वर्किंग कमेटी के सचिव तरुण सिक्का ने क्लब में किए कार्य का ब्यौरा दिया। फिलहाल एजीएम में बैलेंस शीट का मुद्दा गर्माया रहा। इसे लेकर कई सदस्यों ने सवाल उठाए। सदस्यों का कहना था कि कोरोना काल के दौरान सभी सालों की बैलेंस शीट सदस्यों को उपलब्ध नहीं करवाई गई है। उसके बिना एजीएम का क्या मतलब है। चुनाव अधिकारी जैनइंद्र सिंह ने कहा कि क्लब के 3778 सदस्य उम्मीदवारों को मतदान करेंगे। क्लब के प्रेसिडेंट वीके मीणा व सीनियर वाइस प्रेसीडेंट व डीसी घनश्याम थोरी ने कहा कि अगर कोई सदस्य बकाया राशि न देने पर वोट के अधिकार से वंचित रह गए है तो वे अधिकार प्राप्त करने के लिए अपील कर सकते है।

-----

बैलेंस शीट का मुद्दा गर्माला

एजीएम में पहला मुद्दा वर्ष 2018-19 की बैलेंसशीट का उठा। क्लब के पूर्व सचिव एडवोकेट दलजीत सिंह छाबड़ा ने कहा कि किसी भी सदस्य के पास वर्ष 2018-19 की बैलेंस शीट नहीं पहुंची है। एजीएम में वर्ष 2019-20 की बैलेंस शीट की बात की जा रही है लेकिन कोई 2018-19 बैलेंस शीट की बात नहीं कर रहा। इस पर वीके मीणा ने कहा कि बैलेंसशीट का चुनाव से कोई ताल्लुक नहीं है। किसी अन्य दिन एजीएम रखकर बैलेंस शीट को सदस्यों के समक्ष रख दिया जाएगा। इस दौरान सदस्यों के बीच क्लब के प्रेसिडेंट व सीनियर प्रेसीडेंट ने वर्ष 2018-19 व 2019-20 की बैलेंस शीट को पास कर दिया।

------------------------------------ --इन सदस्यों ने रखे सुझाव--

-क्लब सदस्य एसवी हंस ने कहा कि अगर क्लब में काम हुआ तो टीम को प्रोत्साहित करना चाहिए। छोटी-छोटी बातों को एजीएम में डिस्कस नहीं करना चाहिए। अगर कोई घोटाला हुआ तो एजीएम के सामने रख सकते है।

-क्लब के पूर्व सचिव कुकी बहल ने कहा कि वर्ष 2018-19 की बैलेंस शीट सदस्यों को न मिलना क्लब कमेटी द्वारा की गई गलती है। गलती को सुधारा जाना चाहिए।

-क्लब के सदस्य आरके गांधी ने कहा कि दीपावली व नए वर्ष पर सदस्य की जेबखर्ची से ही फोटो वाला फ्रेम भेजा गया। चुनाव होते है, डेकुरम नहीं रहता है। पार्टी का दौर चलता है। चुनाव को लेकर डिबेट होनी चाहिए।

-क्लब सदस्य चरणजीत सिंह मैंगी ने कहा कि क्लब में होने वाले काम के चलते ग्रीनरी को नुकसान न पहुंचाया जाए। क्लब के बनने वाले नए सदस्यों को फीस में डिस्काउंट मिल रहा है लेकिन पुराने सदस्य के पारिवारिक सदस्य को क्लब का सदस्य बनने पर कोई डिस्काउंट नहीं दिया जा रहा है। क्लब के साथ सरकारी कोठी खाली पड़ी है। सरकार से कहकर इसे पार्किंग के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। पार्किंग का रेवेन्यू सरकार को दिया जा सकता है। पार्किंग की समस्या का सुझाव देते हुए कहा कि जिस गाड़ी में चार लोग बैठकर आ रहे है उसे वैलिड पार्किंग में जगह दी जाए।

-क्लब सदस्य सुरजीत अरोड़ा ने कहा कि क्लब के बार को रेनोवेट किया जाना जरूरी है। वहां दो हाल है। एक हाल में डासिग फ्लोर बनाया जाना चाहिए।

-क्लब रिशु झांजी ने कहा कि चुनाव में मोबाइल ले जाने पर पाबंदी होनी चाहिए। चुनाव के समय उम्मीदवार फोन करके पूछते है कि किस सदस्य को वोट की है। वोट करते समय की फोटो भेजने की बात कहते है।

------

सिक्का ने दो वर्ष किए कार्यो को गिनाया

वर्किंग कमेटी सचिव तरुण सिक्का ने दो वर्ष में किए कार्यों को गिनाया। कहा कि क्लब में आरएफडी कार्ड सिस्टम शुरू किया है। तीन रेस्तरां का निर्माण किया, नए बैडमिंटन कोर्ट के साथ नया वालीबाल कोर्ट बनाया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.