पुलिस ने बाइक इंपाउंड की तो BSP Workers ने जालंधर में घेरा थाना, आधी रात को बैकफुट पर आई पुलिस

गुरु रविदास चौक के पास पुलिस पार्टी ने बसपा वर्कर को मोटरसाइकिल के कागज दिखाने को कहा। उसने पहले चालान होने के कारण आरसी जमा होने और ड्राइविंग लाइसेंस एक दूसरे मामले में कोर्ट में होने की बात कही पर उसकी गाड़ी जब्त कर ली गई।

Pankaj DwivediFri, 06 Aug 2021 10:24 AM (IST)
वीरवार रात थाना भार्गव कैंप में धरना देते हुए बसपा वर्कर्स। जागरण

जासं, जालंधर। पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन के बाद बसपा कार्यकर्ताओं के तेवर बदल गए हैं। इसकी बानगी देखने को मिली वीरवार रात भार्गव कैंप थाना के बाहर देखने को मिली। वीरवार देर रात एक बीएसपी वर्कर की बाइक जब्त करने से भड़के BSP कार्यकर्ताओं और नेताओं ने थाने का घेराव कर डाला। थाने के एएसआइ पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए बसपा कार्यकर्ताओं ने भार्गव कैंप थाने के बाहर जमकर नारेबाजी की। वहां पहुंचे थाना प्रभारी से बसपा नेताओं की तीखी बहस हुई। BSP नेताओं ने थाना प्रभारी पर भी जमकर आरोप लगाए। उनके तेवर देखकर पुलिस बैकफुट पर नजर आई। बाद में मौके पर पुलिस के आला अधिकारी भी पहुंचे। उन्होंने बसपा कार्यकर्ताओं को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया और बाइक छोड़ दी।

एक बसपा कार्यकर्ता ने बताया कि वीरवार रात करीब 8 बजे वह अपने काम से लौटकर बुलंदपुर गांव जा रहा था इस दौरान गुरु रविदास चौक के पास पुलिस पार्टी ने उसे रोककर उससे एक कागज दिखाने को कहा। उसने बताया कि उसकी गाड़ी का पहले भी चालान कट चुका है और और उसकी आरसी पहले ही जमा है। उसका ड्राइविंग लाइसेंस एक दूसरे मामले में कोर्ट में है। कागज ना दिखाने पर पुलिसकर्मी ने उसकी बाइक को जब्त कर थाने भिजवा दी।

गाड़ी छोड़ने को लेकर एएसआइ से भिड़ंत

इसकी खबर लगने पर बड़ी संख्या में BSP नेता थाने पहुंचे और एएसआई से इस बाबत बात की। उनकी बात सुनकर वह भड़क गया और दोनों के बीच बहस होने लगी। मामला अधिकारियों तक पहुंचा तो उन्होंने कहा कि कोई भी एक ड्राइविंग लाइसेंस मंगवा दो, उसके आधार पर गाड़ी छोड़ दी जाएगी। इसके बाद जब बीएसपी कार्यकर्ताओं ने एएसआइ को एक दूसरा ड्राइविंग लाइसेंस दिया तो वह उसे फर्जी बताने लगा। इसके बाद बीएसपी कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों में तीखी बहस हुई। बसपा कार्यकर्ता थाने के अंदर ही धरने पर बैठ गए। बाद में पुलिस के आला अधिकारियों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराया और बाइक को छोड़ दी। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.