विकसित होंगे बायोडायवर्सिटी पार्क, तीन लोकेशन पर चर्चा

विकसित होंगे बायोडायवर्सिटी पार्क, तीन लोकेशन पर चर्चा

बायो डायवर्सिटी पार्क विकसित करने के लिए तीन लोकेशन पर काम शुरू हो सकता है।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 04:00 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता जालंधर : नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) के निर्देश पर शहर में पर्यावरण सुधार के लिए बायो डायवर्सिटी पार्क विकसित करने के लिए तीन लोकेशन पर काम शुरू हो सकता है। आम भाषा में जंगल कहे जाते बायोडायवर्सिटी पार्क के लिए विधायक बावा हैनरी ने ब‌र्ल्टन पार्क मं एक एकड़ जमीन तय की है। इसके अलावा शहीद भगत सिंह कालोनी के साथ खाली पड़ी जमीन और इंडस्ट्री एरिया में थाना एक के पास इंडस्ट्री की खाली पड़ी जमीन पर भी बायोडायवर्सिटी पार्क विकसित करने पर बात शुरू हुई है। पार्क विकसित करने के लिए एनजीटी के आदेश पर बायोडायवर्सिटी मैनेजमेंट कमेटी का गठन किया है।

कमेटी को निगम हाउस की मीटिग में मंगलवार को मंजूरी मिलनी है। कमेटी की चेयरपर्सन वार्ड नंबर 21 की पार्षद मनजीत कौर हैं। सेक्रेटरी के पद पर पर्यावरणविद संजीव खन्ना, अनुसूचित जाति सदस्य के तौर पर पार्षद जगदीश समराय को शामिल किया गया है। दो जनरल सदस्यों में पार्षद सुशील कालिया और पर्यावरणविद प्रदुमन सिंह ठुकराल हैं जबकि महिला कोटे से वार्ड नंबर 1 के पार्षद तमनरीत कौर और वार्ड नंबर 15 की पार्षद डौली सैनी को शामिल किया गया है। क्या होता है बायोडायवर्सिटी पार्क

बायोडायवर्सिटी पार्क एक तरह से जंगल की तरह होता है। जहां पर हर तरह के पेड़ पौधे लगाए जाएंगे। इसका उद्देशय शहर में ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाना है। यह प्राकृतिक तरीके से विकसित होगा और यहां पक्षी अपना डेरा लगा सकेंगे। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देश पर निगम ने इसकी कमेटी बनाई है। कमेटी न बनाने पर निगम को हर महीने 10 लाख रुपये का जुर्माना पीपीसीबी को देना पड़ सकता है। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण कमेटी के गठन के पहले ही देरी हो चुकी है। लोगों से लोकेशन पर मांगे सुझाव

चेयरपर्सन मनजीत कौर और सदस्य सुशील कालिया ने कहा कि शहर में बायोडायवर्सिटी पार्क जितने ज्यादा होंगे उतना फायदा होंगे। इसके लिए निगम और अन्य विभागों की जमीनें भी चिन्हित करेंगे जहां पार्क विकसित किए जा सकें। इसके लिए जल्द ही मीटिग करेंगे। उन्होंने लोगों से भी अपील की है कि जिन लोगों के पास इस संबंध में कोई सुझाव या नई लोकेशन है तो उस बारे में भी सूचना दे सकते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.