पूर्व पंच के हत्यारों के पंजाब में ही छिपे होने की आशंका, गिरफ्तारी के लिए पुलिस की तीन टीमें रवाना

हत्या का मास्टरमाइंड इंदरप्रीत इस वक्त कपूरथला जेल में सजा काट रहा है। उसने ही कत्ल कराया है।
Publish Date:Sat, 31 Oct 2020 08:05 AM (IST) Author: Vikas_Kumar

जालंधर, जेएनएन। जमशेर खास के पास पूर्व पंच मान सिंह राणा की गोलियां मारकर हत्या करने के मामले में पुलिस ने हत्यारोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की। लेकिन अभी तक कोई हाथ नहीं आया था। जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी कि आरोपित पंजाब के ही किसी शहर में छिपे हुए हैं। ऐसे में शुक्रवार को पुलिस ने तीन टीमें बनाकर पंजाब के अलग-अलग शहरों में रवाना की हैं। इसके अलावा एक टीम हिमाचल के लिए भी भेज दी।

वहां पर भी आरोपितों के छिपे होने की संभावना है। वहीं जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाए गए आरोपित इंदरप्रीत सिंह से पुलिस को काफी जानकारी मिली है। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर कई जगह छापेमारी की।  थाना सदर के प्रभारी कमलजीत सिंह ने बताया कि आरोपित की गिरफ्तारी के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बीते दिनों जमशेर में रहने वाले पूर्व पंचायत मेंबर मान सिंह की घर के बाहर ही गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी।

पुलिस को दी शिकायत में मृतक मान सिंह के बेटे हरजीत सिंह ने बताया था कि सोमवार सुबह उन्हें परिवार समेत सुल्तानपुर गुरुद्वारा श्री बेर साहिब के दर्शन करने जाना था। उसके 65 वर्षीय पिता घर के नजदीक ही गांव के गुरुद्वारा साहिब में चले गए। जब वह तैयार होकर घर के बाहर निकला तो सुबह करीब पौने पांच-छह बजे जमशेर से जालंधर साइड की तरफ एक मारूति कार आई, जो गुरुद्वारा साहिब के गेट के पास पहुंचे उनके पिता के बराबर खड़ी हो गई। उनमें तीन व्यक्ति नीचे उतरे और एक कार की ड्राइविग सीट पर बैठा रहा।

कार में से उतरने वाले जमशेर खास के रहने वाले जसकरन सिंह उर्फ जस्सा, बहादुर सिंह व सतविदर सिंह थे। बहादुर सिंह व सतविदर सिंह ने उसके पिता को पकड़ लिया और जसकरन जस्सा ने पिस्तौल से पिता पर चार-पांच फायर किए। जिसके बाद वो कार में बैठकर जालंधर की तरफ भाग निकले। अस्पताल ले जाते हुए पिता मान सिंह की मौत हो गई। हरजीत ने कहा कि उसके पिता का कत्ल जमशेर खास के रहने वाले इंदरप्रीत सिंह के साथ चल रहे मुकदमे की वजह से हुआ है। इंदरप्रीत इस वक्त कपूरथला जेल में सजा काट रहा है। उसने ही उसके पिता का कत्ल कराया है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.