अबोहर में प्रेमी जोड़े ने की लव मैरिज, लड़की के घरवालों ने किया एसडीएम आफिस में घुसकर हमला

नगर थाना पुलिस ने शकुंतला पत्नी सोहन पाल निवासी किक्करखेड़ा के बयान पर मामला दर्ज किया है। शकुंतला ने बताया कि उसने अपनी मर्जी से कोर्ट मैरिज की है। दोनों पक्षों को एसडीएम कार्यालय में बुलाया गया था। वहां उसके मायके वालों ने उन पर हमला कर दिया।

Pankaj DwivediThu, 02 Dec 2021 07:36 PM (IST)
सोहन लाल और शकुंतला भिन्न जाति से संबंधित थे। यह बात लड़की के घरवालों को पसंद नहीं थी। सांकेतिक चित्र।

संवाद सहयोगी, अबोहर। नगर थाना पुलिस ने लव मैरिज करवाने वाले पति-पत्नी पर एसडीएम कार्यालय में हमला करने के आरोप में तीन लोगों को दबोचा है। पुलिस ने इस मामले में 9 ज्ञात जबकि 5-7 अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज किया है। काबू किए गए आरोपितों की पहचान मोहन लाल पुत्र अमरजीत निवासी तु्ंबड़भान, मुनी राम निवासी पट्टी सदीक, गुरविंदर सिंह निवासी लक्कड़ वाले के रूप में हुई है। 

नगर थाना पुलिस ने शकुंतला पत्नी सोहन पाल निवासी किक्करखेड़ा के बयान पर मामला दर्ज किया है। शकुंतला ने बताया कि उसने अपनी मर्जी से कोर्ट मैरिज की है। दोनों पक्षों को एसडीएम कार्यालय में बुलाया गया था। वह अपने पति सोहन पाल के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंची तो वहां उसके मायके के कुछ लोगों ने उन पर हमला बोल दिया।

वहीं, पति सोहन पाल का कहना है कि उन्होंने एसडीएम कार्यालय में घुसकर अपनी जान बचाई। उनकी लव मैरिज के कारण पत्नी के घरवाले उससे रंजिश रखने लगे थे। उन्होंने हाई कोर्ट से सुरक्षा की मांग की थी। उन्हें एक सुरक्षा कर्मी भी मिला हुआ है। पुलिस ने शकुंतला के पिता नरेश कुमार निवासी सियागवाली (श्रीगंगानगर, राजस्थान) और मां रोशनी देवी के अलावा नाना महावीर प्रसाद, मामा दयाल चंद, नानी निर्मला देवी समेत मोहन लाल, मुनी राम, गुरविंदर सह मोनू निवासी धर्मपुरा समेत 5-7 अज्ञात लोागें पर केस दर्ज किया है। 

पति सोहन लाल ने मांगी सुरक्षा

सोहन पाल मेघवाल बिरादरी से संबंधित है। उसने गत 11 अक्टूबर को शकुंतला से कोर्ट मैरिज की थी। उसने बताया कि शकुंतला कुम्हार बरादरी से संबंध रखती है लेकिन वह दोनों एक दूसरे को चाहते थे। शकुंतला के घरवालों को यह गांवारा नहीं था। कोर्ट मैरिज के बाद शकुंतला के परिजन उसे व उसके घरवालों को धमकी दे रहे थे कि वह उनका सप्पांवाली कांड जैसा हाल करेंगे। सोहनपाल का आरोप है कि मंगलवार को एसडीएम कार्यालय में वह उन्हें उठाकर ले जाने की नीयत से कापे, किरपाण व अन्य हथियारों से लैस होकर आए थे। एसडीएम कार्यालय में भीड़ व मौके पर पुलिस के मौजूद होने के कारण वे ऐसा नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस ने इन लोगों के खिलाफ कड़ी कारवाई नहीं की। उन्हें पुरी सुरक्षा मुहैया नहीं करवाई गई तो वे वे उन्हें जान से मार सकते हैं। 

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.