बुल्लोवाल के पास महिला की गोली मारकर हत्या, खेत में मिला शव

बुल्लोवाल के पास महिला की गोली मारकर हत्या, खेत में मिला शव

होशियारपुर-टांडा रोड पर सीकरी बस अड्डे के पास खेत में महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। महिला का कत्ल गोलियां मारकर किया गया है। उसकी पहचान खड़ियाला सैनिया की मनप्रीत कौर पत्नी पवन दीप के रूप में हुई है।

JagranThu, 22 Apr 2021 07:32 PM (IST)

संवाद सहयोगी, होशियारपुर : होशियारपुर-टांडा रोड पर सीकरी बस अड्डे के पास खेत में महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। महिला का कत्ल गोलियां मारकर किया गया है। उसकी पहचान खड़ियाला सैनिया की मनप्रीत कौर पत्नी पवन दीप के रूप में हुई है। महिला को नौ गोलियां मारी गई और कत्ल के बाद शव को सिकरी बस स्टैंड के पास गांव बूरे राजपूतां के खेत में फेंक दिया गया। कत्ल का तब पता चला जब सुबह लोग खेतों में काम के लिए पहुंचे। गांव के सरपंच ने सूचना थाना बुल्लोवाल पुलिस को दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। हालांकि अभी तक कत्ल किसने किया है इसके बारे में पता चल नहीं पाया। इस मामले में अलग अलग थ्यूरी में जांच हो रही है। दरअसल, मनप्रीत कौर का पति पवनदीप के साथ तलाक का केस चल रहा है। हालांकि दोनों की लव मैरिज हुई थी। झगड़े के दौरान मनप्रीत पति से अलग रह रही थी। मनप्रीत कौर व पवनदीप के दो बेटे हैं जो दादा-दादी के पास ही रहते हैं। बताया जा रहा है कि पति से अलग होने के बाद जब तलाक का केस कोर्ट में गया, तो कुछ देर बार मनप्रीत कौर किसी के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही थी। प्राथमिक जांच से एक बात सामने आई है कि मनप्रीत कौर की हत्या करने के बाद उसका शव खेतों में फेंक दिया गया। शव पर नौ गोलियां के अलावा जख्मों के निशान भी पाए गए हैं जैसे मारने से पहले उसके साथ मारपीट की गई हो। थाना प्रभारी बुल्लोवाल इंस्पेक्टर प्रदीप सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल होशियारपुर में रखवा दिया गया है। उन्होंने दावा किया है कि मामले को जल्द ही सुलझा लेंगे और आरोपित सलाखों के पीछे होगा।

दस वर्ष पहले हुआ था मनप्रीत और पवनदीप का प्रेम विवाह

मनप्रीत के ससुर रछपाल सिंह ने बताया कि दस वर्ष पहले मनप्रीत और पवनदीप ने प्रेम विवाह किया था, परंतु मनप्रीत के परिवार वाले इससे खुश नहीं थे। एक वर्ष के बाद मनप्रीत और पवनदीप के घर लड़के का जन्म हुआ। इसके बारे में मनप्रीत के माता-पिता को पवन ने फोन पर बताया। मगर, वहां से कोई भी नहीं पहुंचा था। कुछ समय बाद मनप्रीत और पवनदीप में अनबन हो गई थी जिसके चलते दोनों में तलाक तक बात पहुंच गई, लेकिन दोनों में समझौता हो गया था। पहले बेटे के जन्म के करीब डेढ़ वर्ष पहले पवनदीप के घर दूसरे लड़के का जन्म हुआ था। इसके बाद ही मनप्रीत और पवनदीप में फिर अनबन हो गई, जिसके चलते दोनों का झगड़ा तलाक तक पहुंच गया।

अलग होने के बाद विदेश चला गया पवनदीप

मनप्रीत कौर के ससुर रछपाल सिंह ने बताया कि मनप्रीत कभी ससुराल परिवार में नहीं रही। झगड़े के बाद वह अलग रहने लगी और इसी दौरान पवनदीप विदेश चला गया तो ससुराल परिवार ने मनप्रीत को एक अलग मकान रहने के लिए दे दिया। रछपाल सिंह ने बताया कि मनप्रीत कौर दोनों बच्चों नौ वर्षीय और डेढ़ वर्षीय लड़कों को उसके दादा दादी के पास छोड़ कर अकेली ही दूसरे मकान में रहती थी।

अपने बच्चों से करती थी नफरत

रछपाल सिंह ने बताया कि जब भी मनप्रीत के बच्चे उसके पास मिलने के लिए जाते तो वह यही कहती थी कि वह बच्चों को नहीं संभाल सकती है और एक बार तो उसने यह तक बोल दिया कि अगर आप से बच्चे नहीं संभल रहे तो दोनों को सड़क किनारे बैठा देना, किसी वाहन के नीचे आ जाएं तो उसे मत बताना।

जल्द सुलझेगी हत्या की गुत्थी : थाना प्रभारी

थाना प्रभारी प्रदीप सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि पुलिस जांच कर रही है। मगर, आसपास कोई भी सीसीटीवी कैमरा नहीं होने पर जांच करने में परेशानी हो रही है। पूरा यकीन है कि हमलावर जल्द ही गिरफ्त में होंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.