वैक्सीन हुई समाप्त, रिजनल सेंटर को लगा ताला

वैक्सीन हुई समाप्त, रिजनल सेंटर को लगा ताला

कोरोना का कहर चरम पर है लोग लगातार पाजिटिव आ रहे हैं। इसके साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। कोरोना की रोकथाम के लिए जहां सावधानियां अपनाने के लिए गाइडलाइंस जारी की है वहीं वैक्सीन के लिए भी सरकार व स्वास्थ्य विभाग द्वारा अपील की जा रही थी।

JagranFri, 14 May 2021 07:48 PM (IST)

जागरण संवाददाता, होशियारपुर : कोरोना का कहर चरम पर है, लोग लगातार पाजिटिव आ रहे हैं। इसके साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। कोरोना की रोकथाम के लिए जहां सावधानियां अपनाने के लिए गाइडलाइंस जारी की है वहीं वैक्सीन के लिए भी सरकार व स्वास्थ्य विभाग द्वारा अपील की जा रही थी। पहले तो लोग इसके लिए आगे नहीं आ रहे थे और जब लोगों ने मन बनाया व वैक्सीन के काम में तेजी आई तो सरकारी सेंटरों में स्टाक ही समाप्त हो गया। इसके कारण फिर वैक्सीनेशन का काम ठप हो गया। हालात यह हैं कि कोरोना की वैक्सीन के लिए सिविल अस्पताल में स्थापित रिजनल सेंटर के गेट पर ताला लगा हुआ है। यानी वैक्सीनेशन की मुहिम दम तोड़ रही है। वहीं जिला टीकाकरण अधिकारी डा. सीमा गर्ग का कहना है कि एक या दो दिन में वैक्सीन होशियारपुर मेन सेंटर में पहुंच जाएगी और टीकाकरण फिर से युद्धस्तर पर शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि 18 साल से ऊपर वालों के लिए शुरू मुहिम के लिए अलग से 6500 डोज मंगवाई गई थी, वह अभी चल रही है। अब तक 3,21,946 लोगों को लग चुकी है डोज

जिला टीकाकरण अधिकारी डा. सीमा गर्ग ने बताया कि शुरू में जब वैक्सीनेशन की जानी थी तो होशियारपुर सिविल अस्पताल में रिजनल सेंटर बनाया गया था। यहीं से ही गुरदासपुर, पठानकोट, रोपड़ आदि को वैक्सीन सप्लाई होनी थी, बाद में मुहिम ने रफ्तार पकड़ी और सभी जिलों को सरकार की नई पालिसी के तहत अपने स्तर पर वैक्सीन सप्लाई होनी शुरू हो गई। अब तक जिले में कोवि शील्ड की 3,06,570 डोज पहुंची है जिसमें से 3,21,946 लग चुकी हैं। इसके तहत 13 मई तक हेल्थ केयर वर्करों को 13,863, फ्रंटलाइन वर्करों को 42,770, 45 साल से ऊपर वालों को 1,68,905 व 60 साल से ऊपर वालों को 96,462 को डोज लग चुकी हैं। रिजनल सेंटर से तीन जिलों को पहले होनी थी वैक्सीन सप्लाई

डा. सीमा गर्ग ने बताया कि रिजनल सेंटर से तीन जिलों होशियारपुर, गुरदासपुर व पठानकोट को दवाई सप्लाई होनी थी। पालिसी थी कि इसी सेंटर में चंडीगढ़ से सीधी वैक्सीन पहुंचाई जाएगी और यहीं पर हरेक जिले की आबादी के हिसाब से कोटा फाइनल कर वैक्सीन सप्लाई की जाएगी ताकि सप्लाई चेन बनाई जा सके और कहीं पर भी वैक्सीन शार्ट होती है तो यहीं से सप्लाई की जाएगी। रिजनल सेंटर में तैनात टीम कोई कमी आने पर स्टाक पूरा करेगी। पहले यह काम क्रमवार होना था, पर जब एक साथ पूरे पंजाब में वैक्सीनेशन का काम शुरू हुआ तो सारी प्लानिग धरी रह गई। जिस हिसाब से डिमांड हुई उस मुताबिक सप्लाई नहीं हो पाई। 15 लाख डोज रखने का किया था प्रबंध

रिजनल सेंटर में 15 लाख डोज रखने का प्रबंध किया गया था। वैक्सीन खराब न हो इसके लिए कोल्ड चेंबर बनाए गए हैं जो प्लस तीन से प्लस आठ डिग्री तापमान बनाए रखेंगे। कोल्ड चेंबरों के लिए होशियारपुर सिविल अस्पताल में बकायदा अलग से जनरेटर का प्रबंध किया गया है ताकि बिजली की सप्लाई प्रभावित न हो। सेंटर पर जिला कोल्ड चेन अधिकारी नियुक्त किया गया है।

कब और कितनी आई कोवि शील्ड की डोज

तारीख डोज

14 जनवरी 9570

22 जनवरी 9000

15 फरवरी 20,000

05 मार्च 33,000

12 मार्च 51,000

18 मार्च 30,000

02 अप्रैल 24,000

07 अप्रैल 18,000

11 अप्रैल 24,000

18 अप्रैल 7000

22 अप्रैल 22,500

24 अप्रैल 24,000

29 अप्रैल 12,000

30 अप्रैल 3000

04 मई 13,000

10 मई 6500

कुल जोड़ 3,06,570 कोवि वैक्सीन

26 फरवरी 8000

17 अप्रैल 8000

कुल जोड़ 16000 प्राइवेट अस्पतालों को इतनी भेजी

कोवि वैक्सीन - 4460

कोवि शील्ड - 4460

जल्द होगी सप्लाई : टीकाकरण अधिकारी

टीकाकरण अधिकारी डा. सीमा गर्ग ने बताया कि अभी केवल 18 साल से ऊपर वालों को भेजी गई 6500 डोज में से टीकाकरण जारी है। वह भी उन्हें जिनके लिए आदेशों के तरह मंगवाई गई थीं, बाकी हाईकमान को डिमांड भेजी गई है। उम्मीद है कि रविवार को वैक्सीन चंडीगढ़ पहुंच जाएगी और सप्लाई शुरू हो जाएगी। इस संबंधी विभाग की तरफ से शनिवार सुबह गाड़ी चंडीगढ़ भेजने के आदेश जारी किए गए हैं। अगले एक या दो दिन में वैक्सीनेशन का काम फिर शुरू हो जाएगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.