बच्चा न होने पर ससुराली मारते थे ताने, तंग आकर विवाहिता ने खुद को लगाई आग, मौत

ससुरालियों की प्रताड़ना से तंग आकर विवाहिता ने आत्म हत्या कर ली। विवाहिता को उसके पति व ससुराल वालों ने इतना परेशान किया किउसने आजिज होकर अपने आप को आग लगाकर आत्म हत्या कर ली।

JagranFri, 03 Dec 2021 06:17 PM (IST)
बच्चा न होने पर ससुराली मारते थे ताने, तंग आकर विवाहिता ने खुद को लगाई आग, मौत

संवाद सहयोगी, गढ़दीवाला

ससुरालियों की प्रताड़ना से तंग आकर विवाहिता ने आत्म हत्या कर ली। विवाहिता को उसके पति व ससुराल वालों ने इतना परेशान किया कि उसने आजिज होकर अपने आप को आग लगाकर आत्म हत्या कर ली। मामला थाना गढ़दीवाला के अधीन पड़ते गांव रामटटवाली का है। मृतका की पहचान सुमनदीप कौर पत्नी सर्वजीत सिंह के रूप में हुई है।

पुलिस ने इस मामले में सुमनदीप कौर के पिता हरमेल सिंह पुत्र श्रीमल सिंह निवासी बोड़ावाल थाना भीखी, तहसील बुढ़लाडा, जिला मानसा के बयान पर सुमन के पति, ससुर और सास के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपितों की पहचान पति सर्वजीत सिंह, ससुर अश्वनी कुमार व सास सरिष्ठा देवी के रूप में हुई है। पुलिस ने सुमनदीप के शव को को पोस्टामार्टम के बाद परिवार वालों को सौंप दिया है। सुमनदीप कौर की मौत से जहां उसका मायका परिवार सदमे में है वहीं पूरे इलाके में शोक की लहर है। इलाका निवासियों की माने तो सुमनदीप हंसमुख स्वभाव की संस्कारी महिला थी।

बात-बात पर सुमन को परेशान करते थे सास, ससुर और पति

सुमन के पिता हरमेल सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सुमन उसकी सबसे छोटी बेटी थी। जिसकी शादी उसने दो साल पहले रामटटवाली के रहने वाले सर्वजीत सिंह के साथ की थी। शादी के दौरान उसने अपनी हैसियत के अनुसार दहेज दिया था। उसने ससुराल परिवार द्वारा की गई हर मांग को मांग से बढ़कर पूरा किया था। शादी के बाद कुछ समय तक सबकुछ ठीक चलता रहा। परंतु जैसे जैसे शादी को समय बीतता गया परिवार वाले सुमन के गर्भवती न होने के कारण उस पर दवाब बनाने लगे। पहले तो मामला हलकी फुलकी बात जताकर चलता रहा, लेकिन पिछले कुछ दिनों से सुमनदीप का पति सर्वजीत, ससुर अश्वनी व सास श्रेष्ठा उसे बहुत अधिक परेशान करने लगे थे। वह उसे बात बात पर व्यंग कंसते थे और मानसिक तौर पर परेशान करते थे।

पिता का आरोप, आत्महत्या के लिए उकसाते थे ससुराली

हरमेल सिंह ने बताया कि सुमन ने उन्हें कुछ दिन पहले सारी बात बताई थी और कहा था कि ससुराल वाले उसे हर रोज तंग कर रहे हैं। जो दिन ब दिन अधिक हो रहा है। इस दौरान उन्होंने उसे धैर्य रखने के लिए कहा था और कहा था कि भगवान की कृपा होगी चाहे व देरी से हो वह घबराए नहीं और परेशान न हो। परंतु इस बीच एक दिन सुमन ने फोन पर उन्हें बताया कि ससुराल वाले उसे यह तक कह रहे हैं कि यदि वंश नहीं चला सकती तो उसे जीने का कोई हक नहीं है। इससे अच्छा तो वह कहीं जाकर मर जाए, जिसके सुमनदीप बहुत परेशान हो गई थी। जिसे उन्होंने उसे बहुत समझाया था। परंतु गत दिवस सुमनदीप ने अपने आप को आग लगा ली।

गांव के किसी व्यक्ति ने सुमन के मायके में फोन कर दी सूचना

मृतका के पिता ने बताया कि उन्हें घटना की सूचना गांव के किसी व्यक्ति ने फोन पर दी। सूचना मिलते ही वह तुरंत सुमन के घर पहुंच गए और पुलिस को सूचना दी। पहले वह सुमन को होशियारपुर लेकर आए लेकिन हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने उसे रेफर कर दिया। जिसे वह पीजीआई ले गए। परंतु दो दिसंबर को सुमनदीप ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

तीनों आरोपित फरार, पुलिस कर रही छापामारी

इस मामले की जांच कर रहे आइओ एसआइ अमरीक सिंह ने बताया कि पुलिस ने सुमन के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद मायके परिवार को सौंप दिया है। उन्होंने बताया कि इस मामले सुमनदीप के पिता हरमेल सिंह के बयान के आधार पर ससुर अश्वनी कुमार, सास श्रेष्ठा देवी व पति सर्वजीत सिंह के खिलाफ मौत के लिए उकसाने के मामले तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामला दर्ज होने की भनक लगते ही सुमनदीप के परिवार वाले फरार हो गए जिन्हें गिरफ्तार करने के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। उन्होंने कहा कि आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.