माइनिग की शिकायत करने पर घर में घुसकर हमला

माइनिग की शिकायत करने पर घर में घुसकर हमला

मैली के जंगल में अवैध माइनिग की शिकायत करने पर असामाजिक तत्वों ने घर में घुसकर हमला कर दिया। लोगों की भीड़ होते देख हमलावर बाइक व तेजधार हथियार छोड़कर फरार हो गए।

JagranMon, 12 Apr 2021 07:15 PM (IST)

संवाद सहयोगी, माहिलपुर : मैली के जंगल में अवैध माइनिग की शिकायत करने पर असामाजिक तत्वों ने घर में घुसकर हमला कर दिया। लोगों की भीड़ होते देख हमलावर बाइक व तेजधार हथियार छोड़कर फरार हो गए।

शिकायतकर्ता संदीप भाटिया देवराज, अवतार चंद व जतिदर कुमार के साथ घर में था। इस दौरान गेट खटखटाने पर जब बाहर आए, तो दर्जन के करीब हथियारबंद लोग घर में घुस गए और उसे रेत की अवैध माइनिग की शिकायत करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकियां देने लगे। शोर सुनकर आस पड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए तो हथियारबंद लोग भाग गए और जाते समय मोटरसाइकिल व तेजधार हथियार छोड़ गए। घटना की शिकायत पुलिस विभाग के फोन नंबर पर दी। इस पर जैजों पुलिस चौकी के इंचार्ज एएसआइ सतविदर सिंह ने पीड़ित परिवार का बयान लिया और आरोपियों पर कड़ी करवाई करने का आश्वासन दिया। संदीप कुमार ने बताया कि हमलावरों में पंचायत सदस्य और हत्या के मामले में जमानत पर आया व्यक्ति शामिल था। उसने अंदेशा जताया कि उक्त व्यक्ति जान से मार सकते हैं।

गार्ड पर भी किया था हमला

कुछ दिन पहले जंगल में रेत की अवैध माइनिग करने जा रहे लोगों को जंगलात विभाग के कर्मचारी जतिदर सिंह ने रोकने की कोशिश की थी, तो माइनिग माफिया के लोगों ने गार्ड का मोबाइल फोन छीन लिया था और उसके साथ धक्का मुक्की की थी। इसकी शिकायत गार्ड ने चब्बेवाल पुलिस व एसएसपी होशियारपुर को दी थी, लेकिन माइनिग करने वालों पर सियासी आशीर्वाद के चलते कोई कार्रवाई नही हुई बल्कि गार्ड को राजीनामा के लिए बेबस किया गया।

मिलीभगत का परिणाम भुगत रहे लोग

चब्बेवाल विधानसभा का पहाड़ी गांव मैली जंगलों में रेत की अवैध माइनिग व खैर के पेड़ों की अवैध कटाई से चर्चा में है। यहां से 30 के करीब ट्रैक्टर ट्राली चालक जंगलों से रेत की अवैध माइनिग कर माहिलपुर सहित दर्जनों गांवों में बेचते है।इस काले धंधे को सियासी पार्टी के नेताओं का आशीर्वाद प्राप्त है। इसमें जंगलात विभाग के कर्मचारी भी शामिल हैं। काफी अरसे से मैली के जंगलों से अवैध माइनिग की जा रही है। इसे रोकना पंचायत व जंगलात विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों का मुख्य कर्तव्य बनता है। गांव से कोई व्यक्ति इसकी शिकायत करता है, तो कार्रवाई करने की जगह माइनिग करने वाले लोग शिकायतकर्ता के घर पहुंचकर धमकियां देते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.