लोगों को सताने लगा गर्म-सर्द मौसम, सर्दी जुकाम के मरीज बढ़े

मौैसम में बदलाव के चलते लोग कई तरह की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। रोजाना सिविल अस्पताल में खांसी जुकाम व सिर दर्द से ग्रस्त करीब 15 से 20 केस पहुंच रहे हैं।

JagranSat, 18 Sep 2021 10:36 PM (IST)
लोगों को सताने लगा गर्म-सर्द मौसम, सर्दी जुकाम के मरीज बढ़े

रवि कुमार, गुरदासपुर :

मौैसम में एकदम से आए बदलाव के चलते लोग कई तरह की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। रोजाना ही सिविल अस्पताल में खांसी, जुकाम व सिर दर्द से ग्रस्त करीब 15 से 20 केस पहुंच रहे हैं।

उधर, बीमारियों का शिकार होने के कारण प्राइवेट डाक्टरों के पास बड़ी संख्या में मरीज पहुंच रहे है। जिससे प्राइवेट डाक्टरों की चांदी बनी हुई है।

गौरतलब है कि दोपहर में गर्म हवा और रात में हल्की ठंडक होने से लोग बीमार हो रहे हैं। कई बार लोग गर्मी लगने पर शीतल पेय या फ्रिज का ठंडा पानी पी लेते हैं। ये भी बीमारी का बड़ा कारण है। बड़ों के साथ बच्चे भी वायरल की चपेट में आ रहे हैं। इस मौसम में वैसे तो सभी विशेषकर बच्चों और बुजुर्गों को खास एहतियात बरतने की जरूरत है। हालांकि चिकित्सकों का कहना है कि बदलते मौसम में रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है। ऐसे में सर्दी, जुकाम और बुखार जकड़ लेता है। यदि ऐसी बीमारी नजर आए तो उसे अनदेखा करने के बजाए तुरंत डाक्टर के पास जाना चाहिए।

ओपीडी में बढ़ने लगी संख्या

उधर सिविल अस्पताल गुरदासपुर की एसएमओ डा. चेतना का कहना है कि ऐसे मौसम में खानपान और रहन-सहन के मामले में खास ध्यान देने की जरूरत है। ऐसे में फ्रिज का पानी नुक्सानदेह हो सकता है। उन्होंने बताया कि मौसम के बदलाव के कारण आजकल ओपीडी की भी संख्या बढ़ने लगी है। रोजाना ही करीब 15 से 20 मरीज सर्दी खांसी, जुकाम, वायरल आदि से पीड़ित आ रहे हैं।

बच्चों का रखें ध्यान

लगातार तापमान के उतार चढ़ाव के कारण सबसे अधिक छोटे बच्चे प्रभावित हो रहे हैं। कभी सर्द तो कभी गर्म मौसम होने के कारण सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार जैसी बीमारियां लोगों को परेशान कर रही हैं। सबसे पहले बच्चे इनकी चपेट में आते हैं। बीमारियों से बचाने के लिए बच्चों के कपड़ों को साफ रखना चाहिए। इसके साथ ही हरी सब्जियों को फ्रीज में अधिक देर तक ना रखें और फ्रीज का ठंडा पानी का सेवन न करें।

ये सावधानी बरतें

- बदलते मौसम में संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है।

- पौष्टिक आहार लेना चाहिए, इससे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

- खानपान का विशेष ध्यान रखें, पर्याप्त पानी पीना चाहिए।

- ठंडे पदार्थों का सेवन भी कई बार बुखार का कारण बन जाता है।

- सिर दर्द या बुखार महसूस हो तो विशेषज्ञ चिकित्सक की सलाह से ही दवा लें।

- सुबह की सैर के साथ-साथ नियमित योग करना चाहिए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.