top menutop menutop menu

गांव खोदे बांगड़ में दो गुटों में हुई हवाई फायरिंग

गांव खोदे बांगड़ में दो गुटों में हुई हवाई फायरिंग
Publish Date:Wed, 08 Jul 2020 05:36 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, बटाला : थाना फतेहगढ़ चूड़ियां के अंतर्गत आते गांव खोदे बांगड़ में मंगलवार शाम को गोलियां से हड़कंप मच गया। दो गुटों में हुए विवाद में लगभग नौ गोलियां चली। इसकी पुष्टि जांच अधिकारी एसएचओ सुखविदर सिंह ने की। मौके पर पहुंचे डीएसपी बलबीर सिंह संधू को एक चला हुआ 315 का कारतूस मिला।

पुलिस ने किसान बावा सिंह के बयान पर हरभजन सिंह, अवतार सिंह, जगतार सिंह, दीवान सिंह, रतन सिंह, लखविदर सिंह, पलविदर सिंह, हरजिदर सिंह, मनजिदर सिंह, हरपाल सिंह सहित आठ अज्ञात को मिलाकर कुल 18 लोगो के खिलाफ इरादे-ए-कत्ल का मामला दर्ज कर लिया। बावा सिंह ने बताया कि उनके गांव के आढ़ती गुरपिदर सिंह का आरोपित हरभजन सिंह से पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद था। मंगलवार को सेखोवाली के रहने वाले आरोपित आढ़ती गुरपिंदर सिंह को धमकाने के लिए गांव खोदे बांगर पहुंचे। इस बीच उनका बेटा चमकौर सिंह दोनों गुटों को छुड़ाने का प्रयास किया तो हरभजन सिंह और उसके साथी उसके साथ तू-तू , मैं-मैं करने लग पड़े। गांववासियों ने इस विवाद को समाप्त कराया तो हरभजन सिंह अपने साथ अन्य साथियों के साथ अवैध हथियार, पिस्तौल, राइफलों सहित बावा सिंह के घर जा पहुंचे। बाहर से उन्होंने 4-5 फायर किए। आत्म-सुरक्षा के लिए चमकौर सिंह ने घर की छत से से 3-4 हवाई फायर किए, जिसके बाद सभी आरोपित वहां से फरार हो गए। हालांकि कोई घायल नहीं हुआ। पुलिस ने इस केस से जुड़े तीन आरोपितों को हिरासत में लिया है। मुख्यारोपित हरभजन सिंह, रतन सिंह तथा चमकौर सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। फतेहगढ़ चूड़ियां के थाना प्रभारी सुखविंदर सिंह ने बताया कि हरभजन सिंह शिअद से जुड़ा है। उसका चचेरा भाई शिअद का पूर्व सरपंच रह चुका है। गांव में डर का माहौल

बावा सिंह ने बताया कि जब आरोपितों ने उनके घर को घेरकर गोलियां चलाई तो मोहल्ले में दहशत का माहौल हो गया। सभी परिवार के बच्चों और महिलाओं को एक कमरे में बंदकर उनकी जान बचाई। आत्म सुरक्षा के लिए बेटे चमकौर सिंह ने अपने लाइसेंसी हथियार से हवा में तीन-चार फायर किए, जिसके बाद सभी फरार हो गए। तीन हिरासत में लिए : डीएसपी

फतेहगढ़ चूड़ियां के डीएसपी बलबीर सिंह संधू ने बताया कि मामला दर्ज किया गया है। विवाद पैसे के लेनदेन के कारण हुआ। दोनों तरफ से गोली चली है। तीन आरोपितों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। हथियार के लाइसेंस का पता लगाया जा रहा है कि कहीं अवैध तो नहीं है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.