छात्रों को बताए सेना में जाने के तरीके

विद्यार्थियों को भारतीय सेना में सेवा की जानकारी देने के उद्देश्य से डीसीएम इंटरनेशनल स्कूल में शनिवार को सेमिनार का आयोजन किया गया

JagranSat, 04 Dec 2021 04:14 PM (IST)
छात्रों को बताए सेना में जाने के तरीके

संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : विद्यार्थियों को भारतीय सेना में सेवा की जानकारी देने के उद्देश्य से डीसीएम इंटरनेशनल स्कूल में शनिवार को सेमिनार का आयोजन किया गया, जिसमें स्कूल के एलुमनी छात्र व भारतीय सेना के लेफ्टीनेंट कर्नल अंकित बुरा ने मुख्य प्रवक्ता के तौर पर हिस्सा लिया।

अंकित बुरा ने विद्यार्थियों को एनडीए एगजाम की तैयारी के बारे में विस्तृत जानकारी दी। प्रिसिपल मनीश पंवार ने बताया कि अंकित बुरा ने पिछले वर्ष ऑल इंडिया में 7वां रैंक हासिल किया था और चेन्नई में ट्रेनिग के बाद वह सेना में लैफ्टीनेंट बने। अंकित ने स्कूल में वर्ष 2003 से 2015 तक शिक्षा ग्रहण करने के बाद एनडीए की परीक्षा दी थी। उन्होंने कहा कि छात्र अवस्था में अंकित बुरा स्कूल के हेड ब्वॉय थे और जेईई मेन्स भी पास की थी।

स्कूल के विज्ञान विद्यार्थियो को सम्बोधित करते हुए अंकित ने कहा क मन में किसी मुकाम को पाने का निर्णय लिया जाए तो मंजिल खुद-ब-खुद उसकी तरफ बढ़ती चली आती है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना में नौकरी करना एक सौभागय होता है, क्योंकि देश की सेवा करने से बड़ी कोई समाजसेवा नहीं होती। उन्होंने कहा कि इस मुकाम को पाने के लिए उसने दिन-रात मेहनत की और उसके माता-पिता, अध्यापको का विशेष आर्शीवाद के कारण ही उसने यह रैंक हासिल किया है। अंकित बुरा ने विद्यार्थियो को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि जो विद्यार्थी सेना में भविष्य बनाना चाहते है, उन्हें एनडीए परीक्षा की तैयारी जरूर करनी चाहिए ताकि सेना में उच्च रैंक हासिल किया जा सके।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.