प्लाट बेचने के नाम पर की धोखाधड़ी, तीन पर केस

प्लाट बेचने के नाम पर की धोखाधड़ी, तीन पर केस

फर्म के नाम पर लिया प्लाट धोखे से महिला को बेचकर ठगी के आरोप में पुलिस तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 10:40 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : फर्म के नाम पर लिया प्लाट धोखे से महिला को बेचकर ठगी के आरोप में पुलिस तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। थाना छावनी फिरोजपुर के एएसआइ सुरिद्र सिंह ने बताया कि पुलिस को दिए बयान में कृष्णा पत्नी मदन लाल वासी मकान नंबर 117 गली नंबर 56 बन्नेवाला वेहड़ा भारत नगर फिरोजपुर ने बताया कि अश्वनी मल्होत्रा, कविता मल्होत्रा पत्नी अश्वनी मल्होत्रा वासी मोची बाजार व सुखदेव कुमार प्रापर्टी डीलर वासी मोहल्ला पीरां वाला ने मैस.गणेश एनक्लेव फर्म डीड 2013 के अनुसार तैयार कर उसके कुल 12 हिस्सादार बनाए थे और दरखास्ती नवीन सचदेवा व उत्तरवादी अश्वनी मल्होत्रा व उसकी भाभी सुनीता मल्होत्रा भी उक्त फर्म के हिस्सेदार है। शिकायतकर्ता के अनुसार इस फर्म में 3.31 मरले का प्लाट अश्वनी मल्होत्रा की भाभी सुनीता मल्होत्रा के हिस्से आया था, फर्म के इस प्लाट के पार्टनर अश्वनी मल्होत्रा ने फर्म के साथ धोखाधड़ी करके अपनी पत्नी कविता मल्होत्रा की मिलीभगत के साथ सुनीता मल्होत्रा की जगह पर फोटो लगाकर उक्त प्लाट शिकायतकर्ता कृष्णा पत्नी मदन लाल को बेचकर धोखाधड़ी की है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। चार लाख लोन पर खरीदी कार के आगे बेचा, केस संवाद सूत्र, फाजिल्का : शहर के रहने वाले एक व्यक्ति ने एक गांव के रहने वाले एक व्यक्ति पर उसे बिना बताए लोन पर कार खरीद बेचने के आरोप लगाए हैं। नगर थाना पुलिस को दी शिकायत में फाजिल्का निवासी पुष्पिद्र सिंह ने बताया कि उसने 13 जून 2016 को अमनदीप कुमार से चार लाख रुपये में कार खरीदी थी, जिस संबंधी उसने कार लेकर उक्त व्यक्ति को सारे पैसे दे भी दिए। लेकिन बीते दिनी उसे मोबाइल पर आए मैसेज से पता चला कि उक्त कार पर लोन लिया गया है। जांच करवाने पर पता चला कि अमनदीप ने एक व्यक्ति से यह कार खरीदी थी, जिसने कार खरीदते समय अबोहर में एक कंपनी से लोन लिया था, जब उक्त व्यक्ति ने कार बेची तो अमनदीप ने वह कार चार लाख रुपये में खरीदी। जबकि बाद में उक्त व्यक्ति ने उसे बिना लोन के बारे में बताए यह कार आगे उसे बेच दी। लेकिन अमनदीप और सबसे पहले कार खरीद करने वाले ने कार का लोन नहीं भरा, जब इस बारे में उसने अमनदीप से बात की तो उसने लोन की किश्त भरने से इंकार कर दिया, जबकि उक्त कंपनी की ओर से उसे लोन भरने के लिए कहा जा रहा है।

जांच अधिकारी एसआई कृष्ण लाल ने बताया कि शिकायतकर्ता द्वारा पेश किए गए दस्तावेज और दोनों पक्षों के बयान दर्ज करने के बाद उन्होंने जांच की फाइल एसएसपी को सौंपी। जिनकी मंजूरी के बाद पुलिस ने अब उक्त व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.