फौजी ने दूसरी पत्नी के भाई से करवाई थी पहली पत्नी की हत्या

गांव तुर्कांवाली में बुधवार को हुई महिला की हत्या के मामले को पुलिस ने 14 घंटे के भीतर सुलझा लिया है और हत्या के आरोपित महिला के फौजी पति गिरफ्तार कर लिया है।

JagranThu, 18 Nov 2021 10:02 PM (IST)
फौजी ने दूसरी पत्नी के भाई से करवाई थी पहली पत्नी की हत्या

संवाद सूत्र, फाजिल्का : गांव तुर्कांवाली में बुधवार को हुई महिला की हत्या के मामले को पुलिस ने 14 घंटे के भीतर सुलझा लिया है और हत्या के आरोपित महिला के फौजी पति गिरफ्तार कर लिया है, जबकि वारदात को अंजाम देने वाला फौजी की दूसरी पत्नी का भाई अभी फरार है।

सदर थाना में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान एसपी गुरमीत सिंह ने बताया कि फाजिल्का के गांव नवचां सलेमशाह निवासी सुखविद्र सिंह ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि उसकी बहन की शादी करीब सात साल पहले ढाणी राय सिंह निवासी मक्खन सिंह के साथ हुई थी। शादी के बाद उनके घर में दो बच्चे हुए। उसका जीजा मक्खन सिंह छत्तीसगढ़ में बीएसएफ में नौकरी करता है। करीब दो महीने पहले वह छुट्टी काटने के लिए आया और 14 नवंबर को घर से अपने ड्यूटी के बारे में कहकर चला गया। 17 नवंबर को उन्हें सूचना मिली कि उसकी बहन ऊषा रानी की मौत हो गई है। वह मौके पर पहुंचे तो उन्होंने ऊषा रानी गले पर कुछ निशान देखे, जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सुखविद्र ने शक जताया कि मक्खन सिंह ने ही उसकी बहन की हत्या की है, जिस पर पुलिस ने उक्त मामले में जांच शुरू की और सुखविद्र के बयान पर मक्खन के खिलाफ मामला दर्ज किया। उन्होंने बताया कि एसएसपी हरमनबीर सिंह गिल की अगुवाई में डीएसपी इन्वेस्टिगेशन जसबीर सिह, डीएसपी फाजिल्का जोरा सिंह, सीआइए स्टाफ-2 अबोहर इंस्पेक्टर परमजीत सिंह की एक टीम बनाई गई, जिन्होंने काफी तलाश के बाद मक्खन सिंह को गिरफ्तार कर लिया। एसपी गुरमीत सिंह ने बताया कि मक्खन से पूछताछ में पता चला कि उसने एक और विवाह करवाया हुआ है। मक्खन ने और उसके साले ने मिलकर उसकी पत्नी की हत्या की। उन्होंने बताया कि 16 नवंबर की रात को पहले फौजी घर पर आया और बाद में उसका साला, जिन्होंने गला घोंटकर महिला की हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस ने मक्खन सिंह को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके साले की गिरफ्तारी प्रयास किए जा रहे हैं।

गिरफ्तारी के लिए धरने पर बैठा परिवार

मृतका के शव को घर ले जाने को लेकर मायके व ससुराल परिवार ने हंगामा किया। लड़की वाले शव को अपने घर ले जाना चाहते थे, जबकि ससुराल वाले मृतका का संस्कार अपने गांव करना चाहते थे। काफी बहस के बाद महिला के परिवार वाले महिला को ले गए। लेकिन सुबह परिवार ने आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर फ्लाईओवर के निकट शव रखकर रोष प्रदर्शन किया, जिसके बाद तुरंत डीएसपी मौके पर पहुंचे और आरोपित के गिरफ्तार करने की सूचना दी, जिसके बाद परिवार ने धरना समाप्त कर दिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.