नियम ताक पर रख चल रहे 13 स्कूल वाहनों के चालान, एक को किया सीज

बाल अधिकार आयोग के आदेशों पर डिप्टी डायरेक्टर राजविद्र सिंह ने अपनी टीम सहित अबोहर में वीरवार सुबह सात बजे नियमों का पालन न करने वाले 13 स्कूल वाहनों के चालान किए और एक स्कूल वाहन को सीज किया गया।

JagranThu, 23 Sep 2021 10:21 PM (IST)
नियम ताक पर रख चल रहे 13 स्कूल वाहनों के चालान, एक को किया सीज

संवाद सहयोगी, अबोहर : बाल अधिकार आयोग के आदेशों पर डिप्टी डायरेक्टर राजविद्र सिंह ने अपनी टीम सहित अबोहर में वीरवार सुबह सात बजे नियमों का पालन न करने वाले 13 स्कूल वाहनों के चालान किए और एक स्कूल वाहन को सीज किया गया।

इस मौके पर उनके साथ जिला बाल सुरक्षा अधिकारी रितु बाला, बाल सुरक्षा अफसर फाजिल्का कौशल परूथी, यातायात शिक्षा विभाग के विक्रम बजाज, मनोज कुमार, सुरेंद्र कुमार, परिवहन विभाग से जसविदर चावला, यातायात पुलिस से कशमीरी लाल, एएसआई पवन, अबेाहर इंचार्ज भूपेंद्र सिंह व जंगीर सिंह शामिल थे। डिप्टी डायरेक्टर राजवेंद्र सिंह ने अपनी टीम सहित मलोट रोड़ व सीतो चौक पर सुबह करीब 7 बजे पुलिस व यातायात पुलिस कर्मचारियों की मदद से नाकाबंदी कर स्कूली वाहनों की जांच की तो अधिकतर वाहनों में बैठे बच्चों ने मास्क नहीं लगाए थे और कोरोना नियमों का भी पालन नहीं किया गया था, जिस पर सिमिगो इंटरनेशनल स्कूल की आठ वैनों समेत, सेंट अल्फोंसा कान्वेंट स्कूल व विक्टोरिया पब्लिक स्कूल समेत 13 वाहनों के चालान काटे, जबकि एक वाहन के दस्तावेज पूरे न होने पर उसे सीज कर दिया गया।

डिप्टी डायरेक्टर राजवेंद्र सिंह ने बताया कि पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट की वर्ष 2013 की सेफ वाहन पालिसी के तहत यह चेकिग अभियान चलाया गया है। सरकार के आदेशानुसार कोरोना को देखते हुए वाहनों में 50 फीसदी समर्था में बच्चों को लाने ले जाने की ही आज्ञा है लेकिन स्कूलों द्वारा इन नियमों को ताक पर रखकर बच्चों की जिदगी को खतरे में डाला जा रहा है क्योंकि स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अभी भी तीसरी लहर का खतरा कम नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि देखने में पाया गया अधिकतर बच्चों ने मास्क नहीं पहना हुआ था व न ही वाहनों में सैनिटाइजर की व्यवस्था थी। इसके अलावा स्कूल सेफ्टी वाहनों के नियमों का पालन भी नहीं किया जा रहा है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि बच्चों की सुरक्षा स्कूलों की जिम्मेवारी है अगर उनके जीवन को खतरे में डाला गया तो स्कूलों प्रबंधक कमेटियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने बच्चों के अभिभावकों से भी अपील की है कि वे अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए खुद भी जिम्मेवारी लें। स्कूलों की जांच करवाने के दिए निर्देश

डिप्टी डायरेक्टर ने यातायात पुलिस व बाल सुरक्षा विभाग की टीम को निर्देश दिए किए कोरोना को देखते हुए वाहनों की जांच के साथ साथ स्कूलों में जाकर भी चेकिग की जाए और सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस के पालन को यकीनी बनाया जाए। उन्होंने बताया कि इन दिनों स्कूलों में परीक्षाएं चल रही हैं। इसलिए अभी जांच अभियान नहीं चलाया गया, जबकि आने वाले दिनों में स्कूलों की चेकिग की जाएगी। नहीं चली पार्षद की सिफारिश

बच्च की सुरक्षा को लेकर की स्कूली वैनों पर की गई कारवाई के दौरान एक पार्षद द्वारा इन वाहन चालकों को कार्रवाई से बचाने के लिए राजनीतिक रसूख का फायदा उठाते हुए अधिकारी की किसी राजनेता से बात करवानी चाही, लेकिन अधिकारी ने बात करने से साफ मना कर दिया। अधिकारी ने कहा कि नियमों के आधार पर जो बनती कारवाई बनती है वह की जाएगी। क्योंकि यह बच्चों की सुरक्षा का सवाल है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.