फाजिल्का में कोरोना से 28 साल के युवक की मौत, 51 नए केस

फाजिल्का में कोरोना से 28 साल के युवक की मौत, 51 नए केस

जिले में कोरोना के नए केसों के साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटों में एक कोरोना संक्रमित की मौत हो जाने के चलते जिले में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 83 तक पहुंच गया है।

JagranTue, 06 Apr 2021 10:58 PM (IST)

संवाद सूत्र, फाजिल्का : जिले में कोरोना के नए केसों के साथ मौतों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। पिछले 24 घंटों में एक कोरोना संक्रमित की मौत हो जाने के चलते जिले में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 83 तक पहुंच गया है। डिप्टी कमिश्नर अरविंद पाल सिंह संधू ने बताया कि मंगलवार को 51 पाजिटिव केस आए हैं, जिससे कोरोना के केसों की कुल संख्या 4622 हो चुकी है, जबकि मंगलवार को 29 संक्रमितों के स्वस्थ होने से स्वस्थ होने वालों का आंकड़ा 4264 पर पहुंच गया है । उन्होंने बताया कि एक्टिव मामलों की संख्या 275 हो गई है, जबकि 83 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि अबोहर निवासी 28 वर्षीय व्यक्ति, जोकि बीमार होने के चलते पिछले कुछ दिन से फरीदकोट मेडिकल कालेज में भर्ती था, की कोरोना से इलाज के दौरान मौत हो गई। डीसी ने कहा कि पाजिटिव मामलों के आने की दर आगे की अपेक्षा बढ़ गई ह। इसलिए जिला निवासियों को सरकार और सेहत विभाग द्वारा जारी सावधानियों व दिशानिर्देशों की पालना करनी चाहिए।

फाजिल्का में रोजाना 5571 लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य संवाद सूत्र, फाजिल्का : कोरोना की रोकथाम के लिए जिले में रोजाना 5571 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है। डीसी अरविंद पाल सिंह संधू ने कोरोना वैक्सीनेशन प्रक्रिया में तेजी लाने के उद्देश्य के तहत अलग-अलग विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक कर वैक्सीनेशन के प्रति लोगों को जागरूक करने के आदेश दिए हैं।

डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की 137 टीमों की ओर से स्वास्थ्य केंद्रों में वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। रोजाना के आधार पर कुल जिले में 5571 वैक्सीनेशन के लक्ष्य में अबोहर तहसील में लगभग 2300, फाजिल्का में 1900 और जलालाबाद में 1400 व्यक्तियों को वैक्सीनेशन लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि हाट-स्पोट इलाके की पहचान कर ली गई है और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को हाट-स्पाट एरिया में पहल के आधार पर वैक्सीनेशन करने के आदेश जारी किए गए हैं। उन्होंने संबंधित एसडीएम को भी हिदायत की कि वह अपनी तहसील में निगरानी रखें और स्वास्थ्य केंद्रों में वैक्सीनेशन लगाने प्रति अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करने के प्रयास करें। इस मौके सिविल सर्जन डा. हरजिंदर सिंह ने बताया कि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा कि 45 साल से अधिक उम्र के व्यक्ति यह वैक्सीन जरूर लगवाएं। उन्होंने कहा कि सबूत के तौर पर कोई भी पहचान पत्र लेकर स्वास्थ्य विभाग में पहुंचकर वैक्सीन लगवाई जा सकती है। इस मौके सहायक कमिश्नर कंवरजीत सिंह, एडीसीडी नवल राम, कविता, डीपीएम राजेश व अन्य उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.