आधा बाजार बंद होने पर भी कम नहीं हो रही भीड़

आधा बाजार बंद होने पर भी कम नहीं हो रही भीड़

मिनी लाकडाउन में भी फाजिल्का में वीरवार सुबह कई दुकानें खोली गई जबकि कई दुकानदारों ने आधे शटरों के साथ सामान को बेचा। इसके अलावा आधे बाजार बंद होने के बावजूद लोग अपने वाहनों पर घरों से बाहर निकल रहे हैं जबकि कोविड-19 के पास को लेकर अभी भी दुकानों पर कार्य कर रहे कर्मचारियों में जागरूकता नहीं है।

JagranThu, 06 May 2021 11:01 PM (IST)

संवाद सूत्र, फाजिल्का : मिनी लाकडाउन में भी फाजिल्का में वीरवार सुबह कई दुकानें खोली गई, जबकि कई दुकानदारों ने आधे शटरों के साथ सामान को बेचा। इसके अलावा आधे बाजार बंद होने के बावजूद लोग अपने वाहनों पर घरों से बाहर निकल रहे हैं, जबकि कोविड-19 के पास को लेकर अभी भी दुकानों पर कार्य कर रहे कर्मचारियों में जागरूकता नहीं है।

उधर, व्यापार मंडल के प्रधान अशोक गुलबद्धर ने कहा कि बाजार में लोगों के बीच घबराहट का माहौल है, जिससे बैंकों में भीड़, बाजार में जरूरी वस्तुओं की दुकानों में भीड़, सब्जी मंडी में भीड़ अर्थात हर जगह भीड़ नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि पड़ाव अनुसार दुकानें खोलने के फैसले को लेकर अभी जिला प्रशासन की तरफ से कोई संदेश नहीं आया है। लेकिन अगर संदेश आया तो दुकानदारों के साथ विचार विमर्श लेने के उपरांत जिला प्रशासन के सामने स्थिति रखी जाएगी। पड़ाव अनुसार दुकानें खोलने का फैसला सही है, जिससे दुकानदारों को कुछ समय अपनी दुकानें खोलने का मौका मिलेगा। क्योंकि छोटे दुकानदारों पर इसकी कोरोना की मार सबसे ज्यादा पड़ रही है। क्योंकि उसने दुकान का किरया, बिजली का बल, घर का खर्च और मुलाजिम का वेतन दुकान से ही निकालना होता है, अगर दुकान ही बंद रहेगी, तो यह सब खर्च उसकी पहुंच से बाहर हो जाएंगे। ई-पास बनाकर ही घर से निकलें: डीसी

जिला मैजिस्ट्रेट अरविद पाल सिंह संधू ने जिला निवासियों को कोविड के बढ़ते खतरे के मद्देनजर अपील की है कि लोग घरों से बाहर निकलने से गुरेज करें। उन्होंने कहा कि आपसी संपर्कों को कम करके ही इस बीमारी को रोका जा सकता है। डीसी ने कहा कि सरकार के आदेशों अनुसार सरकार द्वरा जिन कार्यो के लिए मंजूरी दी गई है उसी काम के उद्देश्य के लिए पैदल और साइकिल पर व्यक्तियों के यातायात को छूट है। जबकि वाहन चालकों के मामलों में वैलिड पहचान पत्र प्रयोग किया जा सकता है और पहचान पत्र न होने पर वाहन पर ई-पास जरूरी तौर पर डिस्पले होना चाहिए।

आस पड़ोस के साथ बैठना बंद करें लोग: सिविल सर्जन

उधर सिविल सर्जन डा. हरजिदर सिंह ने लोगों से कहा कि है कि वह यातायात पाबंदियों के मद्देनजर सफर से तो गुरेज करने लगे हैं। लेकिन देखा गया है कि अकसर लोग सुबह शाम अपने घरों के बाहर आस पड़ोस के लोगों के साथ जुड़कर बैठ जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह का व्यवहार भी कोविड को न्योता देता है। उन्होंने कहा कि इस समय के हालातों में आपसी मेलजोल बिल्कुल बंद किया जाए और फोन काल और वीडियो काल के द्वारा ही अपने मित्रों, रिश्तेदारों और स्नेहियों के संपर्क में रहा जाए तो ज्यादा उचित होगा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.