गिद्दे व भंगड़े से जवानों ने बांधा समां

सीमा सुरक्षा बल के 57वें स्थापना दिवस पर सीमा सुरक्षा बल की 52वीं बटालियन की ओर से बार्डर रोड पर स्थित अपने मुख्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन शाम साढ़े पांच से नौ बजे तक किया गया।

JagranFri, 03 Dec 2021 03:49 PM (IST)
गिद्दे व भंगड़े से जवानों ने बांधा समां

संवाद सूत्र, फाजिल्का : सीमा सुरक्षा बल के 57वें स्थापना दिवस पर सीमा सुरक्षा बल की 52वीं बटालियन की ओर से बार्डर रोड पर स्थित अपने मुख्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन शाम साढ़े पांच से नौ बजे तक किया गया। इस कार्यक्रम में सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों व जवानों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया।

बटालियन कमांडेंट जांगलून सिगसन, सेकेंड इन कमान रमेश कुमार, डिप्टी कमांडेंट जेके सिंह, डिप्टी कमांडेंट अजय डेविड, डिप्टी कमांडेंट शमशेर सिंह की देखरेख में आयोजित कार्यक्रम के दौरान दी गई प्रस्तुतियों से सीमा सुरक्षा बल के जवानों व उनके पारिवारिक सदस्यों ने मेहमानों व उपस्थिति को झूमने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम में बीएसएफ की महिला कार्मिकों ने गिद्दे तो पुरुषों ने आसामी बिहु, भोजपुरी के विभिन्न लोक नृत्यों की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में फाजिल्का की डीसी बबीता कलेर, एसपी हेडक्वार्टर गुरमीत सिंह, एसएमओ डा. सुधीर पाठक, डा. एरिक एडिसन, एलडी शर्मा व राकेश नागपाल ने विशेष रूप से शिरकत की। इस मौके अधिकारियों ने बताया कि 52वीं वाहिनी की ओर से स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। इसके तहत 26 नवंबर को सेक्रेड हार्ट कान्वेंट स्कूल में हथियारों की प्रदर्शनी, 27 नवंबर को सीमा चौकी जगन्नाथ में आत्म वल्लभ पब्लिक स्कूल के नौवीं कक्षा के 90 छात्र छात्राओं, चार शिक्षकों व तीन स्टाफ सदस्यों को हथियार प्रदर्शनी के जरिये हथियारों से अवगत करवाया गया। इसके अलावा सीमा चौकी का भ्रमण व सीमा प्रहरियों द्वारा की जाने वाली ड्यूटी के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। इसके अलावा डॉग स्कवायड की कार्य प्रणाली के बारे में भी बताया गया। उन्हें घोड़ों पर पैदल भारतीय सीमा की सुरक्षा के लिए पेट्रोलिग करने वाले बहादुर बीएसएफ जवानों के हौसले से परिचित करवाया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.