तहसीलदार के माध्यम से प्रधानमंत्री को भेजा मांगपत्र

जासं, अबोहर

अखिल भारतीय बिश्नोई युवा संगठन के नेतृत्व में विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा जोधपुर के खेजडली गांव में वृक्षों की रक्षा करते हुए शहीद हुए 363 नर-नारियों को श्रद्धांजलि देने के लिए सामूहिक उपवास कार्यक्रम का आयोजन तहसील परिसर में किया गया। इस मौके पर तहसीलदार जैत कंवर के माध्यम से एक ज्ञापन प्रधानमंत्री मोदी को भेजा गया।

शिष्टमंडल ने अपने मांगपत्र में कहा कि खेजडली महाबलिदान की याद में भारतीय पर्यावरण दिवस की घोषणा की जाए। सभी राज्यों के शिक्षा बोर्ड की किताबों में इस महाबलिदान की घटना को शामिल किया जाए। इसके साथ ही भारत सरकार सभी राज्य सरकारों से अनुरोध करे कि पर्यावरण संरक्षण व वृक्ष रक्षण का कार्य करने वाले लोगों को हर वर्ष भारत सरकार की भांति दिए जाने वाले अमृता देवी पर्यावरण संरक्षण पुरस्कार अपने-अपने राज्यों में आरंभ करें। उन्होंने यह भी मांग उठाई कि जिला फाजिल्का तथा अबोहर में शहीदी चौक का निर्माण किया जाए। इस मौके पर अखिल भारतीय जीव रक्षा बिश्नोई सभा, अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा, बिश्नोई सभा अबोहर, अबोहर विकास मंच, मेरा अबोहर फ्री लीगल सेवा, गो ग्रीन संस्था, सर्वधर्म सुखयोग साधना आश्रम, रोटरी क्लब सैंट्रल, नवमित्रा संस्था, नर सेवा नारायण सेवा आदि के सदस्यों ने भी अपना समर्थन दिया। इस मौके पर गंगाबिशन भादू, लोकेश गोदारा, गौरव धतरवाल, अमित गोदारा, विकास बिश्रोई, एडवोकेट ऐ¨जद्र ¨सह खालसा, एडवोकेट हरप्रीत ¨सह, कुलदीप सोनी, एंकर देव, विपन शर्मा, गुरमीत प्रजापत, राजू चराया, बिट्टू नरुला, ऐडवोकेट प्रवीन धंजू आदि उपस्थित रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.