मंडी गोबिदगढ़ की ट्रैफिक समस्या के आगे सभी फेल, पुलिस भी बेबस

राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसी लोहा नगरी मंडी गोबिदगढ़ की ट्रैफिक समस्या कोई नई नहीं पनपी है। लंबे समय से चली आ रही इस समस्या का समाधान करने में सिविल व पुलिस दोनों ही प्रशासन अभी तक फेल साबित हुए हैं।

JagranSun, 26 Sep 2021 12:10 AM (IST)
मंडी गोबिदगढ़ की ट्रैफिक समस्या के आगे सभी फेल, पुलिस भी बेबस

धरमिदर सिंह, मंडी गोबिदगढ़ (फतेहगढ़ साहिब) : राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसी लोहा नगरी मंडी गोबिदगढ़ की ट्रैफिक समस्या कोई नई नहीं पनपी है। लंबे समय से चली आ रही इस समस्या का समाधान करने में सिविल व पुलिस दोनों ही प्रशासन अभी तक फेल साबित हुए हैं। आम लोगों के साथ साथ अब तो पंजाब की सबसे अमीर नगर कौंसिल मंडी गोबिदगढ़ के अधिकारी भी इस समस्या से तंग आ चुके हैं। शनिवार को ट्रैफिक जाम का आलम यह था कि शहर का एक किलोमीटर क्षेत्र निकलने के लिए करीब एक घंटे का समय लगा। जाम में फंसी गाड़ियों की तीन-तीन लाइनें लगी हुई थीं। वाहन रेंगते रहे किसी को आगे निकलने का रास्ता नहीं मिला। एंबुलेंस भी जाम में फंसी रही। ट्रैफिक समस्या की इन लाइव तस्वीरों को देख रहे चौराहों में तैनात ट्रैफिक पुलिस कर्मी भी बेबस दिखाई दे रहे थे। यह जाम सुबह से लेकर शाम तक रहा। हैरानी की बात यह है कि ऐसा आलम पहली बार नहीं था। यह मंडी गोबिदगढ़ में आम जैसा हो गया है। स्थानीय लोग बेहद दुखी हो चुके हैं। अगर किसी ने घर से बाजार जाना होता है तो उसे घर लौटने में कितना समय लगेगा, इसका उन्हें खुद नहीं पता होता। घर से बाजार दस मिनट का रास्ता होता है। लेकिन ट्रैफिक जाम में घंटों भर समय बर्बाद हो जाता है। मुख्य बाजार का आलम यह है कि दुकानदारों के अतिक्रमण से सिविल अस्पताल को आने जाने के लिए मरीजों के वाहनों को जगह नहीं मिलती। सर्विस लेन पर धर्मकांटे मुख्य वजह, नहीं होती कार्रवाई

मंडी गोबिदगढ़ में सैकड़ों औद्योगिक इकाइयां हैं। इसके चलते यहां अनेक धर्मकांटे हैं। धर्म कांटों पर वजन कराने के लिए हजारों वाहन आते जाते रहते हैं। कांटा मालिकों की तरफ से कोई भी प्रबंध नहीं किया जाता। इसके चलते वाहनों की लंबी लाइनें लगी रहती हैं जो ट्रैफिक जाम की मुख्य वजह है। इस पर पुलिस प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं करता। ट्रांसपोर्टरों की अवैध पार्किंग भी परेशानी का सबब

मंडी गोबिदगढ़ में ट्रांसपोर्टरों ने जगह-जगह अवैध पार्किंग बना रखी है। जहां दिल करता है वहां ट्रक खड़े कर दिए जाते हैं। पुल के साथ सर्विस लेन किनारे दिन-रात ट्रक खड़े रहते हैं। ट्रैफिक पुलिस की तरफ से इन्हें रोकने की दिशा में सख्त कदम नहीं उठाए जाते। इतना दुखी हैं अब खुद सड़कों पर आएंगे : बौबी

टेलीकाम कारोबारी कृष्ण वर्मा बौबी ने कहा कि बहुत समय देख लिया, कोई भी इस समस्या का हल नहीं कर रहा है। वे खुद एक घंटे तक जाम में फंसे रहे। उनकी पत्नी पार्षद हैं। लोग रोजाना ही ट्रैफिक की शिकायतें ही लेकर आते हैं। इतना दुखी हैं अब खुद लोगों को साथ लेकर सड़कों पर आएंगे ताकि प्रशासन को जगाया जा सके। नेशनल हाईवे लापरवाही, होनी चाहिए कार्रवाई : प्रिस

नगर कौंसिल मंडी गोबिदगढ़ अध्यक्ष हरप्रीत सिंह प्रिस ने कहा कि ट्रैफिक समस्या को लेकर कई बार जिला प्रशासन से बैठक की गई। डीसी ने खुद यहां आकर बैठक की। नेशनल हाईवे लापरवाही कर रहा है। सड़कों की रिपेयर नहीं की जाती। पानी की निकासी नहीं हो रही है। नेशनल हाईवे अथारिटी खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। अगर सड़क हादसे में कोई जान गंवाता है तो नेशनल हाईवे वालों खिलाफ एफआइआर दर्ज की जाए।

--------------------------

ट्रैफिक समस्या को लेकर वे सोमवार को डीएसपी से बैठक करेंगे। पुलिस प्रशासन से मिलकर इसका हल निकालेंगे।

- नमन मड़कन, एसडीएम, अमलोह।

---------------------

समस्या को एसएसपी के नोटिस में लाया जाए, तो समस्या हल करेंगे।

-जसपाल सिंह, जिला ट्रैफिक पुलिस प्रभारी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.