पेट्रोल, रसोई गैस की बढ़ी कीमतों के विरोध में दिया मांग पत्र

पेट्रोल, रसोई गैस की बढ़ी कीमतों के विरोध में दिया मांग पत्र

पेट्रोल डीजल की बढ़ती मांगों के विरोध में अकाली डेमोक्रेटिक ने डीसी को मांगपत्र देकर सरकार से इसकी कीमतें कम करने की मांग की

JagranWed, 24 Feb 2021 11:09 PM (IST)

संवाद सहयोगी फरीदकोट

पेट्रोल डीजल की बढ़ती मांगों के विरोध में अकाली डेमोक्रेटिक ने डीसी को मांगपत्र देकर सरकार से इसकी कीमतें कम करने की मांग की। पार्टी नेताओं सरकार से इस पर लगाए गए टैक्सों को कम करने की मांग की, जिससे टैक्सों का बोझ कम हो सके।

जगजीत सिह ने बताया कि पेट्रोल डीजल के दाम ज्यादा होने से हर वर्ग के लोग परेशान है। इससे महंगाई बढ़ रही है। सरकार काम लोगों की सेवा करना है न की जनता से कमाई करना है। सरकार ने पेट्रोल डीजल पर जो इतने टैक्स लगा रखे हैं। उसे वापस ले, जिससे इसकी कीमतें कम हों और जनता को राहत मिल सके। उन्होंने कहा कि सरकार ने रसोई गैस की कीमतें भी बढ़ा दी है, जिससे लोगों की रोटी भी अब महंगी हो गई है।

इस दौरान हरजिंदर सिंह पंजगराई, नैब सिंह पूर्व सरपंच, गुरजगपाल सिह, रमनजीत सिघ संधू, सरनाम सिह संधू, गुरचरन सिह दबड़ीखाना, महिद्र सिंह बराड़ दबड़ीखाना, जसप्रीत सिह दबड़ीखाना, जगतार सिंह कोठे बंबीहा उपस्थित थे। ----

गांव गुरुसर का परिवार कनाडा से आ किसान आंदोलन में हुआ शामिल

दोदा (श्री मुक्तसर साहिब)

किसान आंदोलन में विदेश से भी लोग इसमें शामिल हो रहे हैं।गांव गुरुसर का एक परिवार जो कि कनाडा से सीधा आंदोलन में दिल्ली में किसानों के बीच में पहुंच गया। गांव गुरुसर के बलवंत सिंह गिल की बेटी तथा बेटा जो कि कनाडा में रहते हैं। वह कनाडा से वापिस आए तो वह अपने गांव आकर सीधा दिल्ली के टिकरी बार्डर पर गुरुसर के किसानों के पास पहुंच गए तथा अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। उन्होंने कहा कि किसानी के दम पर ही वह विदेशों तक पहुंचे है। उन्होंने कहा कि हमारा फर्ज बनता है कि हम अपने परिवार का साथ दें। उन्होंने कहा कि किसानों के साथ वह मोड़े के साथ मोड़ा जोड़कर खड़े है। उन्होंने कहा कि वह पहले आंदोलन में अपने उपस्थिति दर्ज करवाएंगे उसके बाद ही वह अपने परिवारिक मैंबरों के पास गांव गुरुसर में जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.