पर्यावरण प्रेमियों के जज्बे के आगे सर्दी भी बेअसर

पर्यावरण प्रेमियों के जज्बे के आगे सर्दी भी बेअसर

पर्यावरण प्रेमियों के जज्बे के आगे सर्दी भी बेअसर दिखाई दे रही है।

Publish Date:Sun, 24 Jan 2021 05:51 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, फरीदकोट

पर्यावरण प्रेमियों के जज्बे के आगे सर्दी भी बेअसर दिखाई दे रही है। सीर सोसायटी से जुड़े यह प्रर्यावरण प्रेमी नि:स्वार्थ भाव से शहर के अंदर बाहर के साथ-साथ आसपास के हिस्सों को हरा-भरा बनाने में जुटे हैं। सोसायटी के सदस्य इस ठंड में पेड़-पौधों को लगाने व उसकी काट-छांट करने के लिए पहुंच जाते है, जिस समय लोग अपनी रजाई में सोए रहते हैं। सोसाइटी की कड़ी मेहनत का ही परिणाम है कि फरीदकोट शहर हरा-भरा दिखने लगा है।

सोसायटी के प्लांटेशन चेयरमैन संदीप अरोड़ा व पदाधिकारी नवदीप गर्ग ने बताया कि सोसायटी पिछले दस सालों से शहर में काम कर रही है। सोसायटी के बेहतर कार्यो को देखते हुए लोग निरंतर इससे जुड़ रहे हैं। सोसाइटी पांच प्रोजेक्टों पर रोज काम कर रही है, जिसे सोसायटी के अलग-अलग सदस्य अलग-अलग समय में अंजाम दे रहे हैं। अरोड़ा ने बताया कि सोसायटी द्वारा पहले छायादार, कीमती लकड़ी वाले पौधे लगाए जा रहे थे, क्योंकि इन्हें नुकसान पहुंचने की आशंका कम होती थी, परंतु पिछले कुछ सालों से औषधीय गुणों वाले पौधों के साथ ही फलदार पौधे भी लगाए जा रहे हैं जिसमें लोगों का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है।

नवदीप गर्ग ने बताया कि सेहत विभाग और सोसायटी के सहयोग से फरीदकोट सिविल अस्पताल में कुख भरी धरती हरी प्रोजेक्ट चलाया जा रहा है, जिसमें नवजन्में बच्चों के अभिभावकों को एक फलदार पौधा लगाने के लिए दिया जाता है, जो कि बच्चे के बढ़ने के साथ-साथ बढ़ेगा और अपना फल परिवार व समाज को देगा। उन्होंने बताया कि सोसायटी के प्रधान गुरमीत सिंह संधू, बब्बू उप-प्रधान, प्रतीक सेठी, भरपूर सिंह, मोहित कुमार, लक्की चोपड़ा आदि का सुबह के समय विशेष रूप से सहयोग रहता है।

बाक्स-

रोज चलने वाले पांच प्रोजेक्ट

-कुख भरी-धरती हरी,

-जन्मदिन के उपलक्ष्य पर शाम के समय रोजाना पौधारोपण,

-सुबह के समय पौधों की रोपाई

-सुबह के समय पौधों की कटाई-छटाई के साथ उनकी देखभाल,

-टैंकर में पानी भर कर पौधों की जरूरत के अनुरूप सिचाई।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.