मोहाली में मतदाता सूचियों में डाल दिया मृतकों का नाम, लोगों ने डीसी से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की

चुनाव की घोषणा होने के बाद मोहाली में आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

चंडीगढ़ के मोहाली में मतदाता सूचियों में खामियां होने का मामला गरमा रहा है। गांव कुंभड़ा के लोगों ने इस संबंध में मोहाली के डीसी को लिखित शिकायत दी है। लोगों का आरोप है कि एक तो विभिन्न वार्डों की वोटों को एक दूसरे में तबदील कर दिया है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 12:38 PM (IST) Author: Vinay kumar

मोहाली, जेएनएन। मोहाली में चुनाव की घोषणा होने के बाद एक बार फिर से आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। मोहाली शहर की मतदाता सूचियों में खामियां होने का मामला गरमा रहा है। गांव कुंभड़ा के लोगों ने इस संबंध में मोहाली के डीसी को लिखित शिकायत दी है। लोगों का आरोप है कि एक तो विभिन्न वार्डों की वोटों को एक दूसरे में तबदील कर दिया है। जबकि वोटर सूचियों में अभी तक भी 50-60 नाम ऐसे हैं। जोकि  दुनिया में ही नहीं है। मरे हुए 10-15 साल हो गए हैं। लेकिन अभी तक  मृतको के वोट बने हैं।

लोगों ने इस संबंध में उचित कार्रवाई की मांग की है। इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों और मुलाजिमों पर उचित कार्रवाई होनी चाहिए, ताकि अन्य मुलाजिमों को भी सबक मिल पाए। अत्याचार एवं भ्रष्टाचार विरोधी फ्रंट के प्रधान बलविंदर सिंह कुंभड़ा ने बताया कि लंबे समय से विभाग की ओर से बीएलओ लगाकर मतदाता सूचियों में संशोधन का काम किया गया था। लेकिन इस दौरान वार्ड नंबर 28 के करीब 150 वोट वार्ड नंबर-26 में डाल दी गई हैं। इसी तरह वार्ड-26 की वोट वार्ड-28 में डाली गई हैं। इतना ही नहीं 50-60 नाम मतदाता सूचियों में ऐसे हैं। जिनकी मौत हुए 10-15 साल हो गए हैं। लेकिन उनके नाम अभी तक मतदाता सूची में है।

उन्होंने इस संबंध में पूरा रिकॉर्ड विभाग को दिया है। उन्होंने कहा कि इस काम को करने वाले मुलाजिमों ने अपनी ड्यूटी बढिय़ा तरीके से नहीं की। इससे जहां सरकारी खजाने को नुकसान हुआ है। वहीं, सरकारी रिकार्ड भी खराब हुआ है। ऐसे में उक्त लोग पर सख्त कार्रवाई की जाए। बता दें कि यह पहला मामला नहीं है, इस तरह के मामले फेज-1, नयागांव और कुराली में भी सामने आ चुके हैं। इतना ही नहीं खरड़ में भी यह मामला उठा चुका है।

मुख्य निर्वाचन आयोग अधिकारी के नाम डीसी को दी गई शिकायत में कहा गया है कि वार्ड नंबर 28 का पोलिंग बूथ गांव से दूर बनाया जाए। वहीं, सूची नंबर-1 वार्ड नंबर-28 का पोलिंग बूथ गांव के सरकारी स्कूल में बना दिया जाए। लोगों ने उम्मीद जताई है कि इससे लोगों को फायदा होगा। ध्यान रहे कि जीरकपुर डेराबस्सी, लालडू नयागांव खरड़ व कुराली में भी मतदाता सूचियों का मामला गर्मा चुका है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.