नौ लाख के प्रोजेक्ट का उद्घाटन करने पहुंचे मेयर, सुरक्षा में लगा दिए 125 पुलिसकर्मी

सेक्टर-48 की मोटर मार्केट में पिछले दिनों हिसक प्रदर्शन के दौरान मेयर पर हुए हमले के बाद से ही उनकी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। अब जिस कार्यक्रम में मेयर जाते हैं वहां भारी संख्या में पुलिस बल तैनात होता है। इस वजह से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

JagranTue, 27 Jul 2021 07:40 AM (IST)
नौ लाख के प्रोजेक्ट का उद्घाटन करने पहुंचे मेयर, सुरक्षा में लगा दिए 125 पुलिसकर्मी

जासं, चंडीगढ़ : मेयर रविकांत शर्मा और अन्य भाजपा नेताओं को सुरक्षा मुहैया करवाना सिरदर्दी साबित हो रहा है। सेक्टर-48 की मोटर मार्केट में पिछले दिनों हिसक प्रदर्शन के दौरान मेयर पर हुए हमले के बाद से ही उनकी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। अब जिस कार्यक्रम में मेयर जाते हैं, वहां भारी संख्या में पुलिस बल तैनात होता है। इस वजह से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

सोमवार को सेक्टर-48 स्थित केंद्रीय विहार सोसायटी में पानी आपूर्ति से जुड़ी समस्या दूर करने के लिए नौ लाख रुपये की लागत से नई पाइपलाइन का उद्घाटन हुआ। उद्घाटन मेयर रविकांत शर्मा ने किया। केंद्रीय विहार सोसाइटी सेक्टर-48 की मोटर मार्केट से चंद दूरी पर है। मोटर मार्केट में ही पिछले दिनों हिसक प्रदर्शन हुआ था। इसलिए कार्यक्रम से तीन घंटे पहले ही मार्केट के तीनों गेट बंद कर दिए गए। लोगों को आने-जाने के लिए सिर्फ एक ही गेट खोला गया। एंट्री और एग्जिट प्वांट्स बंद कर लोगों को सेक्टर में नहीं होने दिया दाखिल

सेक्टर के सभी एंट्री व एग्जिट प्वांट्स बंद कर दिए गए थे। यहां पर करीब 125 पुलिस कर्मी कार्यक्रम से तीन घंटे पहले ही तैनात कर दिए गए थे। इस बीच कई लोगों को सेक्टर के अंदर दाखिल होने से रोक दिया गया। रेजिडेंशियल एरिया से भी लोगों को बाहर नहीं निकलने दिया गया। बाहर से आने वाले कई लोगों को अपने घर जाने के लिए पहचान पत्र दिखाना पड़ा। शहर में नहीं थम रहा भीड़ जुटाने का सिलसिला

गौरतलब है कि शहर में कोरोना संकट और कानून-व्यवस्था के मद्देनजर ही धारा-144 लागू है। ऐसी स्थिति में किसी भी सूरत में भीड़ एकत्र करने की सख्त मनाही है। मगर शहर में सियासी दलों की ओर से भीड़ जुटाने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। बैरिकेड्स लगाकर लोगों को कार्यक्रम स्थल तक पहुंचने से रोका

केंद्रीय विहार सोसायटी में उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान थाना प्रभारी नरिदर पटियाल भी मौजूद रहे। कार्यक्रम स्थल के पास बैरिकेड्स लगाकर संदिग्ध लोगों पर नजर रखी गई। अनजान लोगों को कार्यक्रम स्थल तक नहीं पहुंचने दिया गया। सिर्फ सीमित संख्या में ही लोगों को बुलाया गया था। इस मौके पर वार्ड पार्षद देवेश मोदगिल, चीफ इंजीनियर एनपी शर्मा और सुपरिंटेंडट इंजीनियर शेलेंद्र सिंह भी मौजूद थे। गांव कजेहड़ी में भी हुआ था मेयर का विरोध

पिछले दिनों गांव कजेहड़ी में भी ग्रीन बेल्ट के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान मेयर का विरोध हुआ था। ऐसे में लोगों का कहना है कि मेयर रविकांत शर्मा को चाहिए कि वह ऑनलाइन ही उद्घाटनों में शामिल हों, ताकि पुलिस के साथ-साथ आम लोग भी परेशान न हों। दुकानदारों ने जताई नाराजगी, कहा- मेयर चाहते तो कार्यक्रम में वर्चुअल तरीके से कर सकते थे शिरकत

मोटर मार्केट के दुकानदार विवेक मल्होत्रा का कहना है कि नगर निगम के कार्यक्रम के कारण कारोबार भी प्रभावित हुआ। शाम 6.30 बजे तक भी गेट नहीं खोले गए। दो सप्ताह पहले भी जब मेयर पर मार्केट के बाहर हमला हुआ था उस दिन भी शाम तक मार्केट के गेट बंद रहे। मल्होत्रा ने कहा कि मेयर चाहते तो ऑनलाइन भी कार्यक्रम में शामिल हो सकते थे। कांग्रेस ने भी उठाए सवाल

मेयर के कार्यक्रम के कारण यूनिवर्सल सोसाइटी में रहने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। कांग्रेस नेता संदीप भारद्वाज ने कहा कि सोसाइटी का गेट शाम साढ़े चार बजे बंद कर दिया गया। उन्होंने पहले डीएसपी और उसके बाद एसएसपी कुलदीप चहल से मोबाइल पर बात की। पुलिस ने बताया कि मेयर की सुरक्षा के कारण ऐसी व्यवस्था की गई थी। भारद्वाज का कहना है कि यह मेयर की कैसी सुरक्षा है कि जब इसके कारण सेक्टर वासियों को परेशानी का सामना करना पड़े।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.