अगस्त में बदलेगा प्रशासन का चेहरा, बड़े स्तर पर होगा फेरबदल

यूटी प्रशासन में एक बार फिर बड़े स्तर पर फेरबदल होने जा रहा है। अगस्त में फिर से प्रशासन का चेहरा बदलेगा।

JagranMon, 02 Aug 2021 08:20 AM (IST)
अगस्त में बदलेगा प्रशासन का चेहरा, बड़े स्तर पर होगा फेरबदल

बलवान करिवाल, चंडीगढ़

यूटी प्रशासन में एक बार फिर बड़े स्तर पर फेरबदल होने जा रहा है। अगस्त में फिर से प्रशासन का चेहरा बदलेगा। कई महत्वपूर्ण पदों पर आसीन अधिकारी कार्यकाल खत्म होने के बाद वापस लौटने वाले हैं, तो नए अधिकारी ज्वाइन करेंगे। प्रशासक से लेकर डीसी तक सब बदल रहे हैं। अभी कुछ दिन पहले ही एडवाइजर और फाइनेंस सेक्रेटरी भी बदले हैं। चंडीगढ़ को मिलेंगे नए प्रशासक

सबसे पहले प्रशासक वीपी सिंह बदनौर का कार्यकाल अगस्त के आखिर में समाप्त हो रहा है। पांच साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद बदनौर वापस लौटेंगे। उनकी जगह नए प्रशासक की सुगबुगाहट अभी से शुरू हो चुकी है। पंजाब के राज्यपाल का दायित्व होने पर भी बदनौर की सक्रियता चंडीगढ़ में ज्यादा रही है। वह कार्यकाल के अंतिम दिनों में अपने ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा कराने में लगे हैं। इनमें बर्ड एविअरी, गवर्नमेंट प्रेस म्यूजियम और इलेक्ट्रिक बस जैसे प्रोजेक्ट प्रमुख हैं। हालांकि कोरोना महामारी में प्रशासक की सक्रियता सराहनीय रही।

नए होम सेक्रेटरी करेंगे ज्वाइन

प्रिसिपल सेक्रेटरी होम अरुण कुमार गुप्ता डेपुटेशन पीरियड पूरा होने के बाद तीन महीने की एक्सटेंशन पर हैं। उनका एक्सटेंशन पीरियड भी अगस्त के आखिर में पूरा हो रहा है। इसके बाद वह वापस हरियाणा लौटेंगे। उनकी जगह हरियाणा काडर के 2000 बैच के अधिकारी नितिन कुमार यादव नए होम सेक्रेटरी का कार्यभार संभालेंगे। केंद्र सरकार उनके नाम को मंजूरी दे चुकी है। अरुण गुप्ता के कार्यकाल में स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर काम हुआ। कई प्रोजेक्ट का काम चल रहा है।

नए नगर निगम कमिश्नर करेंगे ज्वाइन

नगर निगम कमिश्नर कमल किशोर यादव का कार्यकाल 24 मई को पूरा हो गया था। वह तभी से तीन महीने की एक्सटेंशन पर हैं। उनका एक्सटेंशन पीरियड अगस्त में पूरा हो रहा है। उनकी जगह पंजाब काडर की अधिकारी आनंदिता मित्रा ज्वाइन करेंगे। केके यादव ने नगर निगम में कई तरह के सुधार किए। स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने में अहम जिम्मेदारी निभाई।

डीसी भी बदल रहे हैं

चंडीगढ़ में डीसी का पद हरियाणा कोटे में आता है। हरियाणा सरकार ही इसके लिए अधिकारी को डेपुटेशन पर भेजती है। डीसी मनदीप सिंह बराड़ का तीन साल का कार्यकाल अक्तूबर में पूरा हो रहा है। बराड़ 2005 बैच के आइएएस अधिकारी हैं। बराड़ अक्तूबर में वापस लौट जाएंगे। उनकी जगह हरियाणा सरकार तीन अधिकारियों का पैनल भेज चुकी है। इनमें एक नाम पंचकूला के मौजूदा डीसी 2010 बैच के विनय प्रताप सिंह, 2010 बैच के मुकुल कुमार और तीसरा नाम 2010 बैच के आइएएस प्रभजोत सिंह का शामिल है।

पीजीआइ और हेल्थ डायरेक्टर भी होंगे नए चेहरे

पीजीआइ के डायरेक्टर प्रो. जगत राम का कार्यकाल पूरा हो चुका है। वहीं, यूटी डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज डा. अमनदीप कौर कंग सेवानिवृत्त हो रही हैं। उनकी जगह नए डायरेक्टर के लिए पंजाब से पैनल आ चुका है। हेल्थ सेक्टर में यह दो बड़े बदलाव होंगे। इसी तरह से प्रशासन में कई पीसीएस अधिकारी भी लंबे समय से एक्सटेंशन पर हैं। इनकी वापसी भी तय है। ऐसे पांच अधिकारियों की सूची तैयार हो गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.