Punjab New Cabinet Ministers List: पंजाब कैबिनेट के 15 नए मंत्रियों ने ली शपथ, सीएम सहित 18 मंत्री हुए

Punjab New Cabinet Ministers List पंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों काे शपथ दिलाई गई। समारोह राज्‍यपाल ने 15 नए मंत्रियों को शपथ दिलाई। अब कैबिनेट में सीएम सहित 18 मंत्री हो गए हैं। मंत्रियों की लिस्‍ट से अंतिम में क्षणों में कुलजीत सिंह नागरा का नाम काट दिया गया।

Sunil Kumar JhaSun, 26 Sep 2021 10:07 AM (IST)
पंजाब के राज्‍यपाल बनवारी लाल पुरोहित ब्र‍ह्म मोहिंदरा को शपथ दिलाते हुए। (एएनआइ)

चंडीगढ़, जेएनएन/एएनआइ। Punjab New Cabinet Ministers List: पंजाब की चरणजीत सिंह चन्‍नी मंत्रिमंडल में 15 नए मंत्रियों काे शपथ दिलाई गई। अब कैबिनेट सहित 18 नए मंत्री हो गए हैं। सबसे पहले शपथ लेने वालों में मनप्रीत सिंह बादल, ब्रह्म मोहिंद्रा, राणा गुरजीत सिंह सोढ़ी और तृप्‍त राजिंदर सिंह बाजपा शामिल र‍हे। अरुणा चौधरी ने भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। सुखविंदर सिंह सरकारिया ने कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। ये सभी कैप्टन अमरिंदर सिंह मंत्रिमंडल में भी शामिल रहे हैं। रजिया सुल्‍ताना और विजय इंदर सिंगला ने भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। मंत्रियों की सूची से कुलजीत सिंह नागरा का नाम अंतिम समय में काटा गया और उनकी जगह रणदीप सिंह नाभा उर्फ काका रणदीप का नाम शामिल किया गया। पंजाब मंत्रिमंडल में आज शामिल किए गए सभी 15 नेता कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं।

अंतिम समय में कुलजीत नागरा का नाम कटा, शपथ लेने वालें सभी 15 मंत्रियों को कैबिनेट मंत्री का दर्जा

राज्‍यपाल ने भारत भूषण आशू को भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ दिलाई। वह कैप्‍टन अमरिंदर सिंह के कैबिनेट  में थी। रणदीप सिंह नाभा ने भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। वह पहली बार मंत्री बने हैं। वह नाभा हलके के  विधायक हैं। राज कुमार वेरका ने भी कैबिनेट पद की शपथ ली। वह पहली बार मंत्री बन रहे हैं। 

शपथ ग्रहण करतीं अरुणा चौधरी और तृप्‍त राजिंदर सिंह बाजवा। (एएनआइ)

संगत सिंह गिलजियां ने कैबिनेअ मंत्री पद की शपथ ली। वह भी नए चेहरे हैं। परगट सिंह और अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने  भी कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली। दोनों पहली बार मंत्री बने हैं। गुरकीरत सिंह कोटली ने भी कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ ली।

शपथ ग्रहण करते राण गुरजीत सिंह साेढ़ी और राणा गुरमीत। (एएनआइ)

शपथ लेने वाले 15 नए मंत्रियों की सूची से कुलजीत सिंह नागरा का नाम कट गया है। उनकी जगह रणदीप सिंह नाभा उर्फ काका रणदीप सिंह को मंत्री बनाया गया है।  समारोह में पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत और कांग्रेस के केंद्रीय पर्यवेक्षक हरीश चौधरी भी पहुंचे हैं।

शपथ ग्रहण करते मनप्रीत सिंह बादल। (एएनआइ)

विधायक कुलजीत सिंह नागरा ने कहा कि कृषि कानूनों के विरोध में इस्तीफा दे चुका हूं,  इसलिए मंत्री पद लेने से खुद इन्‍कार किया। राज्‍य के 15 नए मंत्रियों को शपथ ग्रहण राजभवन में आयोजित किया जा रहा है। मंत्रियों को राज्‍यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इसके साथ ही राज्‍य की नई कैबिनेट में मुख्‍यमंत्री सहित मंत्रियों की संख्‍या 18 हो गई है। अभी कैबिनेट में तीन सदस्‍य मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी, उपमुख्‍यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा और उपमुख्‍यमंत्री ओपी सोनी हैं।

शपथ ग्रहण समारोह में नए मंत्री और कांग्रेस के नेता। (एएनआइ)

नए मंत्रियों को राजभवन में राज्‍यपाल दिलाए रहे हैं शपथ

बताया जाता है कि पंजाब कांग्रेस में कुलजीत सिंह नागरा के नाम पर विवाद हो  गया। इसके बाद नए मंत्रियों के शपथ लेने से पहले सूची में बदला कर दिया गया। कैबिनेट में शामिल किए जाने वाले मंत्रियों की सूची से कुलजीत नागरा के नाम काट दिए गया।  फतेहगढ़ साहिब जिले के अमलोह क्षेत्र से विधायक हैं। इनके दादा जनरल शिवदेव सिंह सेहत मंत्री थे। पिता गुरदर्शन सिंह चार बार विधायक और दो बार मंत्री बने। माता सतिंदर कौर पंजाब महिला कांग्रेस के दो बार अध्यक्ष रहे। खुद दो बार नाभा और दो बार अमलोह से विधायक चुने गए।

राज्‍यपाल से शपथ ग्रहण करते गुरप्रीत सिंह कोटली और शपथ लेने के बाद दस्‍तावेज पर हस्‍ताक्षर करते भारत भूषण आशू। (एएनआइ)

दरअसल माना जा रहा है कि कांग्रेस हाईकमान ने पंजाब की नई कैबिनेट के माध्‍यम से राज्‍य कांग्रेस को पूरी तरह अपने कंट्रोल लेने के साथ ही कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सहित अन्‍य नेताओं के प्रभाव को बेअसर करने के लिए सियासी बिसात बिछाई है। बता दें कि करीब छह दिन की माथा पच्ची के बाद शनिवार को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के मंत्रिमंडल की तस्वीर साफ हुई थी।

शपथ ग्रहण के बाद कागजात पर हस्‍ताक्षर करतीं रजिया सुल्‍ताना और विजय इंदर सिंगला। (एएनआइ)

कैबिनेट में कैप्टन के खास रहे पांच पूर्व मंत्रियों की छुट्टी कर दी गई और सात नए चेहरों को जगह दी गई है। इनमें राहुल गांधी या हाईकमान के करीबियों की संख्या ज्यादा है। वहीं, कैप्टन की कैबिनेट में शामिल रहे आठ पूर्व मंत्रियों पर चन्नी ने फिर से भरोसा जताया है। हाईकमान ने मंत्रिमंडल गठन का कंट्रोल काफी हद तक अपने हाथ में ही रखा।

दिल्ली से तार जोड़े रखने वालों को मिली मंत्रिमंडल में प्राथमिकता

कैप्टन अमरिंदर सिंह के हटने के बाद यह माना जा रहा था कि सरकार और संगठन में पूरी तरह से पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू हावी हो जाएंगे, लेकिन मंत्रिमंडल के गठन और इस पर अंतिम मुहर लगने तक हाईकमान ने अपने हिसाब से नई बिसात बिछाई। दरअसल नई कैबिनेट में दिल्‍ली दरबार खासकर राहुल गांधी के करीबी नेताओं को प्राथमिकता दी गई है।

बता दें कि 72 घंटे में मुख्यमंत्री के तीन दिल्ली दौरे इस बात का संकेत है कि राहुल गांधी समेत पूरे हाईकमान ने कैबिनेट में खूब माथापच्ची की। अंतिम सूची में कई नाम ऐसे हैं, जिनके जरिए हाईकमान ने यह संदेश देने का प्रयास किया है कि सिर्फ चन्नी और सिद्धू की ही नहीं चलेगी। अपने करीबियों को भी राहुल ने मंत्रिमंडल में उचित स्थान दिलाया है।

पांच की छुट्टी, सात की न्यू एंट्री, आठ पर चन्नी का भरोसा कायम

कैबिनेट के गठन में सभी वर्गो को प्रतिनिधित्व देने का प्रयास किया गया है। इनमें नौ जट्ट सिख, तीन अनुसूचित जाति, चार हिंदू, एक पिछड़ा वर्ग और एक अल्पसंख्यक वर्ग से रखा गया है। कैबिनेट में हर आयु वर्ग का भी ख्याल रखा गया है। ब्रह्म मोहिंदरा जैसे सीनियर विधायक को मंत्रिमंडल में लिया गया है। वहीं, भारत भूषण आशु और विजय इंदर सिंगला जैसे पहली बार बने विधायकों को भी जगह दी गई है। युवा कांग्रेस में सेवाएं देने वाले चार नेता विजय इंदर सिंगला, अमरिंदर सिंह राजा वडिंग और गुरकीरत कोटली भी कैबिनेट का हिस्सा बने हैं।

 पंजाब कैबिनेट। 

        नई कैबिनेट इस प्रकार है -

- चरणजीत सिंह चन्नी- मुख्‍यमंत्री -सुखजिंदर सिंह रंधावा- उपमुख्‍यमंत्री -ओपी सोनी - उपमुख्‍यमंत्री - ब्रह्म मोहिंदरा - कैबिनेट मंत्री -मनप्रीत सिंह बादल - कैबिनेट मंत्री। -तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा - कैबिनेट मंत्री -सुखबिंदर सिंह सरकारिया - कैबिनेट मंत्री -अरुणा चौधरी - कैबिनेट मंत्री -रजिया सुल्ताना - कैबिनेट मंत्री -विजय इंदर सिंगला - कैबिनेट मंत्री -भारत भूषण आशु - कैबिनेट मंत्री - डा. राजकुमार वेरका - कैबिनेट मंत्री -संगत सिंह गिलजियां - कैबिनेट मंत्री -अमरिंदर सिंह राजा वडि़ंग - कैबिनेट मंत्री -परगट सिंह - कैबिनेट मंत्री - काका रणदीप सिंह- कैबिनेट मंत्री -गुरप्रीत कोटली - कैबिनेट मंत्री। -राणा गुरजीत सिंह - कैबिनेट मंत्री।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.