चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव: कड़ाके की ठंड में चढ़ेगा सियासी पारा, एक माह तक राजनीति हलचल तेज

शहर की नई वार्ड बंदी के मुद्दे पर पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में सुनवाई आज को होगी। इसके एक दिन पूर्व ही चुनाव आयोग ने आचार संहिता लागू करते हुए चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी। चुनाव आयुक्त ने कहा कि हाई कोर्ट का जो निर्णय आएगा उसे माना जाएगा।

Mon, 22 Nov 2021 11:55 PM (IST)
वार्डबंदी के मामले पर हाई कोर्ट में आज सुनवाई होगी।

राजेश ढल्ल, चंडीगढ़। चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव का बिगुल बज चुका है। चुनाव आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने सोमवार को यूटी गेस्ट हाउस में चुनाव की तारीखों की घोषणा कर दी है। इसके साथ ही शहर में आचार संहिता लागू हो गई है। तय चुनाव कार्यक्रम के तहत 24 दिसंबर को वोटिंग होगी। जबकि मतगणना 27 दिसंबर को होगी। इससे पहले 27 नवंबर से नामंकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

इस बार शहर के कुल छह लाख 30 हजार वोटर हैं। ये मतदाता 35 वार्डों के पार्षदों का चुनाव करेंगे। आचार संहिता लागू होने के साथ ही अब शहर में कोई नया काम शुरू नहीं हो पाएगा। इसके साथ ही सरकारी महकमों में तबादलों पर भी रोक रहेगी। चुनाव की तारीख तय होने के साथ ही राजनीतिक दलों ने उम्मीदवारों तय करने पर मंथन शुरू कर दिया है।

चुनाव आयुक्त ने बताया कि इसी माह 27 नवंबर से शुरू होने वाली नामांकन प्रक्रिया चार दिसंबर तक चलेगी। सुबह 11 बजे से दोपहर तीन बजे का समय नामांकन के लिए रखा गया है। चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराने के लिए रिट¨र्नग अधिकारी और ऑब्जर्वर तय किए जा चुके हैं।

अब एक माह तक शहर में राजनीति हलचल तेज रहेगी। चुनाव की घोषणा के साथ ही दावेदारों ने टिकट के लिए लॉ¨बग तेज कर दी है। शेड्यूल जारी करने के साथ ही चुनाव आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने शहरवासियों से बढ़चढ़ कर मतदान करने की अपील की है।

वार्ड बंदी के मामले पर हाई कोर्ट में सुनवाई आज

उधर, शहर की नई वार्ड बंदी के मुद्दे पर पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में सुनवाई आज को होगी। इसके एक दिन पूर्व ही चुनाव आयोग ने आचार संहिता लागू करते हुए चुनाव कार्यक्रम की घोषणा कर दी। चुनाव आयुक्त ने कहा कि हाई कोर्ट का जो निर्णय आएगा उसे माना जाएगा। साल 2011 की जनगणना को आधार बनाकर ही वार्डबंदी की गई है। अन्य जगहों पर होने वाले नगर निगम चुनाव में भी इसी तरह से वार्ड बंदी की जाती है। नामांकन से एक दिन पहले तक बन सकते हैं नए वोट चुनाव आयुक्त ने कहा कि नए वोट बनने की प्रक्रिया जारी है। नामांकन से एक दिन पहले तक नए वोट बन सकते हैं। जो भी नए वोटर बनेंगे वह नगर निगम चुनाव में मतदान कर सकेंगे।  

पांच लाख रुपये तक चुनाव प्रचार के लिए खर्च कर सकेंगे

उम्मीदवार इस बार चुनाव आयोग ने उम्मीदवारों के चुनाव प्रचार पर खर्च सीमा पांच लाख रुपये तय की है। जबकि साल 2016 के नगर निगम चुनाव में यह सवा तीन लाख रुपये थी। इंटरनेट मीडिया पर भी होगी चुनाव आयोग की नजर चुनाव प्रचार के दौरान इंटरनेट मीडिया पर भी चुनाव आयोग की ओर से नजर रखी जाएगी। इंटरनेट मीडिया के जरिये जारी होने वाले विज्ञापन को भी उम्मीदवारों के खर्चे में जोड़ा जाएगा। 2016 के चुनाव में निर्दलीय 67 उम्मीदवारों सहित कुल 122 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे। तब 2,37,374 महिलाओं सहित कुल 5,07,627 वोटरों ने मताधिकार का प्रयोग किया था। डीसी ऑफिस में बनेगी ¨सगल ¨वडो डीसी ऑफिस में ¨सगल ¨वडो सिस्टम लागू किया जाएगा। जहां से उम्मीदवार को चुनाव प्रचार कार्यक्रमों करने के अलावा साउंड की मंजूरी दी जाएगी। नियमों का उल्लंघन करने वालों की शिकायत दर्ज करने के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया जाएगा। इस बार चुनाव आयोग की ओर से एक विशेष मोबाइल एप भी बनाया गया है, जिसमें मतदाता चुनाव से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी ले पाएंगे। प्रचार का समय सुबह 10 से शाम सात बजे तक चुनाव प्रचार के लिए सुबह 10 से शाम सात बजे तक चुनाव प्रचार और कार्यक्रम करने का समय रखा गया है। इसके बाद किसी को भी चुनाव प्रचार करने की मंजूरी नहीं होगी।

चुनाव कार्यक्रम

- 27 नवंबर से शुरू होगी नामंकन प्रक्रिया, यह चार दिसंबर तक चलेगी।

- 09 दिसंबर तक नॉमिनेशन वापस ले सकेंगे

- 35 वार्डो के पार्षद चुने जाएंगे इस बार, पूर्व में थे 26 वार्ड

- 2016 में हुए थे 59.54 फीसद मतदान कुल मतदाता 630311, पुरुष 330713, महिलाएं 299581, थर्ड जेंडर 17, मतदान केंद्र 694

प्रत्येक रिट¨र्नग अधिकारी के पास होंगे चार वार्ड

रिटर्निग अधिकारी वार्ड नंबर                  मोबाइल नंबर

पीसीएस नवजोत कौर वार्ड-1 से 4           9888182552

एचसीएस मनीष कुमार लोहान 5 से 8       9416717952

पीसीएस जगजीत ¨सह 9 से 12                9814236221

पीसीएस राकेश कुमार पोपली 13 से 16    9815664124

पीसीएस तेजदीप सैनी 17 से 20               9915194695

पीसीएस हरजीत ¨सह संधू 21 से 24         9815425128

एचसीएस प्रद्युम्न ¨सह 25 से 28              9501155115

पीसीएस सौरभ अरोड़ा 29 से 32             9501602021

पीसीएस कुलजीत पाल माही 33 से 35     9417540040

सरकारी प्रॉपर्टी पर पोस्टर लगाने पर दर्ज होगा केस

चुनाव आयोग के अनुसार सरकारी प्रॉपर्टी पर पोस्टर लगाने की पूरी तरह से मनाही है। ऐसा करने पर मामला दर्ज किया जाएगा।

चुनाव में पहली बार

पहली बार नामांकन ऑनलाइन भी चुनाव आयुक्त एसके श्रीवास्तव ने बताया कि इस बार उम्मीदवार ऑनलाइन भी नामांकन दाखिल कर सकते हैं। लेकिन उम्मीदवार को बाद में अपना शपथ पत्र और दस्तावेज की हार्ड कॉपी रिट¨र्नग अधिकारी को देनी होगी। छह दिसंबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी। नामांकन के लिए जनरल कैटेगरी के लिए जमानत राशि छह हजार रुपये रखी गई है। जबकि एससी- एसटी उम्मीदवार के लिए यह राशि तीन हजार रुपये तय है। गौरतलब है कि 31 दिसंबर को नगर निगम का वर्तमान कार्यकाल पूरा हो रहा है। ऐसे में चुनाव की प्रक्रिया दिसंबर के अंत तक पूरी करनी है।

कोरोना संक्रमित मरीज भी कर सकेंगे मतदान

मतदान के दिन हर सेंटर पर सेनिटाइजर और मास्क की भी व्यवस्था होगी। कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए मतदान का अंतिम एक घंटा रखा गया है, जिसकी सूचना पहले रिटर्निग अधिकारी को देनी होगी। वो¨टग मशीन पर उम्मीदवार की तस्वीर भी होगी इस बार वो¨टग मशीन पर चुनाव चिह्न और उम्मीदवार के नाम के अलावा उसकी तस्वीर भी ¨प्रट होगी। ऐसा नगर निगम चुनाव में पहली बार हो रहा है। ऐसे में नामांकन के समय हर उम्मीदवार से दो दो तस्वीरें मांगी गई है।

साल 2016 में थी यह स्थिति

-भाजपा ने 22 सीटों पर चुनाव लड़ा था, जिनमें से 20 पर जीत दर्ज की।

- कांग्रेस को सिर्फ चार सीटों पर ही संतोष करना पड़ा।

- शिअद ने चार सीटों पर चुनाव लड़ा, सिर्फ एक पर मिली जीत

- बापूधाम से एक निर्दलीय उम्मीदवार दलीप शर्मा जीते।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.