पीयू सीनेट में बदलाव की सिफारिशों को लेकर रिफार्म कमेटी की रिपोर्ट चांसलर को भेजी

पंजाब यूनिवर्सिटी की सुप्रीम बॉडी सीनेट में बड़े बदलाव को लेकर रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। पीयू चांसलर ऑफिस की ओर से सीनेट-सिडिकेट रिफा‌र्म्स को लेकर गठित 11 सदस्यों की कमेटी की फाइनल रिपोर्ट तैयार कर चांसलर ऑफिस को भेज दी गई है।

JagranPublish:Wed, 28 Apr 2021 07:39 AM (IST) Updated:Wed, 28 Apr 2021 07:39 AM (IST)
पीयू सीनेट में बदलाव की सिफारिशों को लेकर रिफार्म कमेटी की रिपोर्ट चांसलर को भेजी
पीयू सीनेट में बदलाव की सिफारिशों को लेकर रिफार्म कमेटी की रिपोर्ट चांसलर को भेजी

डॉ. सुमित सिंह श्योराण, चंडीगढ़

पंजाब यूनिवर्सिटी की सुप्रीम बॉडी सीनेट में बड़े बदलाव को लेकर रिपोर्ट तैयार कर ली गई है। पीयू चांसलर ऑफिस की ओर से सीनेट-सिडिकेट रिफा‌र्म्स को लेकर गठित 11 सदस्यों की कमेटी की फाइनल रिपोर्ट तैयार कर चांसलर ऑफिस को भेज दी गई है। कमेटी को दो महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट देने के निर्देश दिए गए थे, जिसका समय 2 मई को पूरा हो रहा है। सूत्रों के अनुसार रिफा‌र्म्स कमेटी की ओर से पूरे मामले में रिपोर्ट तैयार करने को लेकर तीन सदस्यों की सब कमेटी गठित की गई थी, जिसने सीनेट में जरुर बदलावों को लेकर अपने सुझाव देने थे। सूत्रों की माने तो कमेटी ने मौजूदा सीनेट में सदस्यों की संख्या करीब आधा करने का सुझाव दिया है। साथ ही सभी फैकल्टी को भी पूरी तरह खत्म करने की सिफारिश की गई है। कमेटी ने नए सीनेट में कुल 47 सदस्य का सुझाव दिया है, जिसमें अधिकतर पीयू चांसलर की ओर से नामिनेट किए जाएंगे।

सूत्रों के अनुसार कमेटी की ओर से दिए सुझाव में पीयू सिडिकेट के सभी सदस्यों का चयन पीयू चांसलर की ओर से किया जाएगा। जिसके लिए पीयू सीनेट का सदस्य होना अनिवार्य नहीं होगा। पंजाब सरकार ने नहीं दी सुझाव रिपोर्ट, मांगा अतिरिक्त समय

सीनेट रिफा‌र्म्स कमेटी की ओर से चांसलर को भेजी गई रिपोर्ट पर फिलहाल किसी तरह के अमल की संभावना कम है। पूरे मामले में पंजाब सरकार की भूमिका को चांसलर ऑफिस अनदेखा नहीं कर सकता। चांसलर ऑफिस को भेजी गई रिफा‌र्म्स रिपोर्ट में पंजाब सरकार के सुझावों से जुड़ी रिपोर्ट शामिल नहीं की गई है। सूत्रों के अनुसार कमेटी ने बीते हफ्ते हुई मीटिग के बाद पंजाब सरकार को एक हफ्ते में सीनेट रिफा‌र्म्स को लेकर सरकार के सुझावों से जुड़ी रिपोर्ट मांगी थी, लेकिन मुख्यमंत्री के नॉमिनी प्रो.जसपाल सिंह की ओर से कोरोना महामारी से पंजाब के मौजूदा हालात का हवाला देते हुए अभी रिपोर्ट के लिए अतिरिक्त समय मांगा है। ग्रेजुएट की सभी 15 सीटों को खत्म करने का सुझाव

नई सीनेट को लेकर रिफा‌र्म्स कमेटी ने बड़ा फैसला लिया है। सूत्रों के अनुसार कमेटी ने सीनेट सदस्यों की संख्या 91 से घटाकर 47 करने का फैसला लिया है। ग्रेजुएट चुनाव क्षेत्र की सभी 15 सीटें खत्म हो जाएंगी। सभी छह फैकल्टी भी समाप्त कर दी जाएंगी। सीनेट के 18 सदस्य नॉमिनेटेड होंगे। सीनेट में चार सीटें पीयू प्रोफेसर, चार कॉलेज और चार कॉलेज प्रिसिपल की होंगी। सीनेट में चंडीगढ़ सांसद की सीट, दो एमएलए पंजाब सरकार के अलावा पुटा और पुसा प्रतिनिधि को सीट मिलेगी। पीयू स्टूडेंट काउंसिल को लेकर अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है।