मास्क और पानी की बोतल के बिना नहीं मिलेगी कोचिग सेंटर में एंट्री

मास्क और पानी की बोतल के बिना नहीं मिलेगी कोचिग सेंटर में एंट्री

अगर आप स्टूडेंट हैं और आपको कोचिग के लिए शहर के किसी भी कोचिंग सेंटर में जाना है तो आपके पास बेहतर मास्क और पानी की बोतल होनी अनिवार्य है।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 04:26 AM (IST) Author: Jagran

सुमेश ठाकुर, चंडीगढ़ : अगर आप स्टूडेंट हैं और आपको कोचिग के लिए शहर के किसी भी कोचिग सेंटर में जाना है तो आपके पास बेहतर मास्क और पानी की बोतल होनी अनिवार्य है। यदि आपके पास इन दोनों में से कोई एक भी चीज नहीं है तो आपको कोचिग सेंटर में एंट्री नहीं मिलेगी। यह निर्देश शहर के सभी कोचिग सेंटरों ने स्टूडेंट्स को जारी कर दिए हैं। उल्लेखनीय है कि एक दिसंबर से शहर के सभी कोचिग सेंटर कोविड-19 के नियमों का पालन करते हुए खुलने जा रहे हैं। जिसके लिए पहले तो प्रशासन की तरफ से एसओपी जारी की गई है। जिसका पालन कोचिग सेंटर प्रबंधक कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरह शहर के ज्यादातर कोचिग सेंटर ने भी स्टूडेंट्स को एसओपी जारी कर दी है, ताकि कोरोना संक्रमण का कोई खतरा न बचे। आठ महीने बाद खुलने जा रहे हैं कोचिग सेंटर

मार्च में कोविड-19 के केस सामने आने के कारण शहर के सभी कोचिग सेंटर बंद हो गए थे। शहर के स्कूल 21 सितंबर से खुले हैं, जिसमें नौंवी से बारहवीं कक्षा के स्टूडेंट्स आ रहे है, जबकि शहर के कॉलेज भी 23 नवंबर से खुलन गए है। हालांकि यहां पर स्टूडेंट्स की हाजिरी नहीं के बराबर है। उसके बाद अब एक दिसंबर से शहर के कोचिग सेंटर के अलावा लाइब्रेरी और कॉलेजों के हॉस्टल भी खुलने जा रहे हैं।

40 प्रतिशत स्टूडेंट्स ही आएंगे कोचिग सेंटर में

प्रशासन की तरफ से आठ महीने बाद खुलने जा रहे कोचिग सेंटरों के लिए नियम तय किए हैं। जिसमें सबसे अहम स्टूडेंट्स की संख्या है। कोचिग सेंटर की तरफ से जितने स्टूडेंट्स के लिए हॉल की मंजूरी करवाई हुई है। उसका 40 प्रतिशत हिस्सा ही सेंटर में आ सकेगा। 40 प्रतिशत से ज्यादा स्टूडेंट्स को सेंटर में बुलाने की परमिशन नहीं होगी। इसके अलावा सिटिग असेरमेंट के लिए भी बंदोबस्त होना चाहिए। स्टूडेंट्स की सीटिंग के लिए मार्किग होनी अनिवार्य है, ताकि स्टूडेंट्स एक उचित दूरी बनाकर बैठ सकें। बैठने के लिए सीटिग प्लान में एक से दूसरे स्टूडेंट्स के बीच कम से कम छह फीट की दूरी होना अनिवार्य है। मास्क और सेनिटाइजर का होना चाहिए प्रबंध

कोचिग सेंटर के मुख्य गेट पर मास्क और सेनिटाइजर की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके साथ ही हर स्टूडेंट्स का तापमान चेक होगा। बुखार, सर्दी, जुकाम या खांसी होने पर स्टूडेंट सेंटर में प्रवेश नहीं कर सकेगा। इसके साथ ही पीने के पानी की व्यवस्था स्टूडेंट्स घर से ही करके आएगा। खाने के साथ पानी की बोतल अनिवार्य रहेगी। स्टूडेंट्स को निर्देश जारी हो चुके हैं। यदि एडमिशन लेने वाला स्टूडेंट भी बिना मास्क और पानी के बोतल के आता है तो उसे हम एडमिशन नहीं देंगे। कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए है।

-आरके महाजन, डायरेक्टर ब्राइट एकेडमी सेक्टर-15 चंडीगढ़

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.