सोनीपत, गुरुग्राम और रोहतक में छिपा रखी है एचसीएस व डेंटल सर्जन परीक्षा की लिस्ट, याचिका खारिज

हरियाणा लोक सेवा आयोग की विभिन्न भर्तियों के लिए रिश्वत लेने के आरोपित आयोग के उपसचिव अनिल नागर अश्वनी शर्मा और नवीन कुमार को पंचकूला की कोर्ट ने जेल भेज दिया।

JagranWed, 24 Nov 2021 08:43 AM (IST)
सोनीपत, गुरुग्राम और रोहतक में छिपा रखी है एचसीएस व डेंटल सर्जन परीक्षा की लिस्ट, याचिका खारिज

जागरण संवाददाता, पंचकूला : हरियाणा लोक सेवा आयोग की विभिन्न भर्तियों के लिए रिश्वत लेने के आरोपित आयोग के उपसचिव अनिल नागर, अश्वनी शर्मा और नवीन कुमार को पंचकूला की कोर्ट ने जेल भेज दिया। अदालत ने विजिलेंस की दलीलों को दरकिनार करते हुए तीनों आरोपितों को 26 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

इससे पहले चार दिन का रिमांड खत्म होने के बाद विजिलेंस की टीम मंगलवार दोपहर तीनों आरोपितों को कोर्ट लेकर पहुंची। विजीलेंस की टीम ने कोर्ट में दलील दी कि आरोपित अनिल नागर को गुरुग्राम और रोहतक लेकर जाना है, जबकि नवीन एवं अश्वनी शर्मा को सोनीपत ले जाकर कुछ दस्तावेज बरामद करने हैं, लेकिन बचाव पक्ष के एडवोकेट विशाल गर्ग नरवाना ने कहा कि अनिल नागर चार दिन से विजिलेंस के पास रिमांड पर थे, लेकिन इन दिनों में वह उसे कहीं नहीं लेकर गए, इसलिए अब भी कहीं नहीं ले जाना चाहते, केवल नागर का रिमांड लेकर उनसे जबरन हल्फनामे पर हस्ताक्षर करवाना चाहते हैं। इस पर अदालत ने कड़ा रुख दिखाते हुए नागर सहित तीनों आरोपितों का रिमांड देने से इन्कार कर दिया।

विजिलेंस ने अदालत को बताया कि रिमांड के दौरान अनिल नागर ने बताया है कि उसने एचसीएस प्री परीक्षा के रोल नंबर 125273 की असल कॉपी एवं 235848 की कॉर्बन कॉपी व इसके अलावा इन दोनों परीक्षाओं से संबंधित रोल नंबर की उम्मीदवार प्रति व अन्य दस्तावेज अपने मामा राम किशन खंगलवा गांव रिठाल जिला गुरुग्राम के घर पर छिपा रखे हैं। रिमांड पत्र के अनुसार अनिल नागर ने कहा कि मेरा अपने मामा के घर काफी आना-जाना लगा रहता था और मैं अपने गुप्त कागज मामा के घर में अलमारी में छिपाकर रखता हूं। इसके अलावा अनिल नागर ने अपने मकान नंबर 12/766 पुराना आर्य नगर रोहतक में डेंटल सर्जन एवं एचसीएस की परीक्षा के रोल नंबर की ओएमआर शीटों की उम्मीदवार कॉपी बरामद करवानी है, जबकि आरोपित नवीन ने बताया कि शिव कालोनी सोनीपत से एचएससी की प्री परीक्षा 2021 व डेंटल सर्जन की लिखित परीक्षा के रोल नंबर जो उसने अश्वनी शर्मा को दिए है, उसकी ओएमआर शीट की उम्मीदवार कॉपी की फोटोस्टेट, नाम, पते एवं फोन नंबर की लिस्ट सोनीपत में अश्वनी के किराये के मकान में छिपाकर रखी हुई है। लिस्ट में जिन-जिन उम्मीदवारों से आरोपित नवीन ने परीक्षा पास करवाने के लिए पैसे लिए हैं व लिस्ट में उनके नाम के टिकमार्क लगाया हुआ है। उनके पैसे बकाया हैं, उनके आगे पेंडिग का निशान लगाया है। हालांकि विजिलेंस की दलीलें किसी काम नहीं आई और कोर्ट ने उनका रिमांड देने से इन्कार कर दिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.