पीयू सीनेट के 36 नॉमिनेटेड सदस्यों की लिस्ट जारी, कैंपस प्रोफेसर का रहा दबदबा; यहां देखें पूरी लिस्ट

पंजाब यूनिवर्सिटी सीनेट के नॉमिनेटेड 36 सदस्यों की लिस्ट मंगलवार देर रात चांसलर ऑफिस (उपराष्ट्रपति) की ओर से जारी कर दी गई है। लिस्ट में पूरी तरह से पीयू कैंपस से जुड़े प्रोफेसर और अधिकारियों का दबदबा रहा है।

Vinay KumarWed, 22 Sep 2021 07:52 AM (IST)
पीयू सीनेट के नॉमिनेटेड सदस्यों की लिस्ट मंगलवार देर रात चांसलर ऑफिस की ओर से जारी कर दी गई है।

चंडीगढ़, डा. सुमित सिंह श्योराण। पंजाब यूनिवर्सिटी सीनेट के नॉमिनेटेड 36 सदस्यों की लिस्ट मंगलवार देर रात चांसलर ऑफिस (उपराष्ट्रपति) की ओर से जारी कर दी गई है। लिस्ट में पूरी तरह से पीयू कैंपस से जुड़े प्रोफेसर और अधिकारियों का दबदबा रहा है। अधिकतर सदस्य बीजेपी-आरएसएस से जुड़े हुए हैं। पहली बार नॉमिनेटेड लिस्ट ने सभी को चौंका दिया है। लिस्ट जारी होते ही देर रात सीनेट के लिए नॉमिनेटेड होने वालों को बधाइयों का दौर शुरू हो गया। पीयू कुलपति के लिए नॉमिनेटेड लिस्ट को 26 सितंबर को होने वाले ग्रेजुएट चुनाव क्षेत्र से पहले घोषित करवाना नाक का सवाल बन गया था। लिस्ट में अधिकतर सदस्य कुलपति के विश्वासपात्र हैं। दैनिक जागरण ने सबसे पहले अधिकतर संभावित उम्मीदवारों के बारे में खबर प्रकाशित कर दी थी।

 लिस्ट में सबसे बड़ा झटका कांग्रेस को लगा है। पहली बार पूर्व सांसद और रेल मंत्री रहे पवन कुमार बंसल को लिस्ट में जगह नहीं मिल पाई है।

उधर, चंडीगढ़ बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष संजय टंडन भी लिस्ट में नहीं आ सके। मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष अरुण सूद और बीजेपी नेता और पूर्व सीनेटर डॉक्टर सुभाष शर्मा का भी इस बार लिस्ट से नाम कट गया है ।यूआईसीटी के प्रोफेसर सुशील कंसल और यूआईईटी से उनकी भाभी प्रोफेसर सविता गुप्ता का लिस्ट में नाम शामिल है ।नॉमिनेटेड लिस्ट में अधिकतर उम्मीदवार सीनेट में पहली बार पहुंचेंगे। डीएसडब्ल्यू प्रोफेसर एसके तोमर,एसोसिएट डीएसडब्ल्यू प्रो.अशोक कुमार,डीयूआइ के अलावा पंजाब यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन (पुटा) और पंजाब यूनिवर्सिटी नॉन टीङ्क्षचग एसोसिएशन (पुसा) को भी सीनेट में प्रतिनिधित्व दिया गया है, लेकिन स्टूडेंट काउंसिल की इस बार भी अनदेखी कर दी है। सेंट्रल यूनिवर्सिटी बठिंडा के कुलपति और पीयू सीनेट रिफॉर्म्स कमेटी के चेयरमैन प्रोफेसर आरपी तिवारी और सेंट्रल यूनिवर्सिटी महेंद्रगढ़ के कुलपति प्रोफेसर कुमार के भी सीनेट में आने की प्रबल संभावना थी लेकिन अंतिम समय पर नाम शामिल नहीं हो सका। पिछले सीनेट में सदस्य रहे केंद्रीय राज्य मंत्री सोम प्रकाश इस बार भी सीनेट में पहुंचे हैं उन्होंने ही पिछली बार सीनेट को खत्म करवाने की बात कही थी जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था।

सीनेट में हिंदी विभाग का जलवा, बना नया रिकॉर्ड

सीनेट की नॉमिनेटेड लिस्ट में कई विभागों की लाटरी लग गई है। एक ही विभाग से दो से तीन सदस्यों का लिस्ट में नाम शामिल है। हिंदी विभाग ने इस बार सीनेट में सबको पछाड़ दिया है। ङ्क्षहदी विभाग से प्रो.गुरमीत ङ्क्षसह, प्रो.अशोक कुमार और प्रोफेसर योजना रावत नॉमिनेटेड सीनेटर बने हैं। उधर, हमेशा ही खुद को उपेक्षा का शिकार माने जाने वाले डेंटल कॉलेज से डायरेक्टर प्रो.हेमंत बत्रा और डॉ.जगत भूषण भी नॉमिनेटेड सदस्य चुने गए हैं हैं। हिंदी विभाग के प्रो.गुरमीत सिंह ने लगातार तीसरी बार चांसलर ऑफिस में मजबूत पकड़ दिखा दी है।

वरिष्ठ सीनेटर सत्यपाल जैन ने भी अपने करीबी पूर्व मेयर देवेश मौदगिल को उम्मीद के मुताबिक सीनेट में एंट्री दिलवा दी है। लिस्ट में इस बार कम सही लेकिन हरियाणा और हिमाचल को भी प्रतिनिधित्व मिल गया है। सोशल सर्विस विभाग के प्रो.गौरव गौड़ नॉमिनेटेड लिस्ट में सबसे कम उम्र के उम्मीदवार हैं। पूर्व कुलपति अरुण ग्रोवर और यूआइइटी पूर्व डायरेक्टर प्रो.सविता गुप्ता को भी सीनेट में जगह मिल गई है।  

नॉमिनेटेड लिस्ट

नाम- किस पद पर कार्यरत

-सोम प्रकाश- केंद्रीय राज्य मंत्री

-किरण खेर-सांसद

-सत्यपाल जैन-एडिशनल सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया और पूर्व सांसद

-प्रो.हरमोहिंदर सिंह बेदी-चांसलर सेंट्रल यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश

- गुरजोत सिंह मल्ही-पूर्व डीजीपी हरियाणा

- प्रो.गुरमीत सिंह-प्रोफेसर हिंदी विभाग पीयू

- प्रो.प्रशांत गौतम-यूनिवर्सिटी इंस्टीट्यूट ऑफ हॉस्पिटेलिटी एंड टूरिज्म मैनेजमेंट पीयू

- प्रो.शिव कुमार डोगरा-डिपार्टमेंट ऑफ लॉ पीयू

- प्रो.लतिका -डिपार्टमेंट ऑफ एजुकेशन पीयू

- डॉ.कुलदीप अग्निहोत्री-पूर्व कुलपति सेंट्रल यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश

- डॉ.अरविंदर सिंह भल्ला- प्रिंसिपल गुजरेवाला कॉलेज लुधियाना, पंजाब

- डॉ.कृष्ण गाबा-हेड ओरल हेल्थ साइंस सेंटर पीजीआइ चंडीगढ़

- देवेश मोदगिल- एक्स मेंबर बोर्ड ऑफ स्टडीज फैकल्टी ऑफ लॉ पीयू

- प्रो.गौरव गौड़-असिस्टेंट प्रोफेसर डिपार्टमेंट ऑफ सोशल सर्विसेज पीयू

- प्रो.अरुणा गोयल-पूर्व प्रोफेसर संस्कृत विभाग पीयू

- प्रो.अख्तर महमूद- पूर्व सीनेटर और पूर्व हेड बायेकेमिस्ट्री विभाग पीयू

- प्रो.योजना रावत-पूर्व विभागाध्यक्ष हिंदी विभाग यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग (यूसोल) पीयू

- प्रो.देवेंद्र सिंह-पूर्व पुटा प्रेसिडेंट ,चेयरमैन डिपार्टमेंट ऑफ लॉ पीयू

- प्रो.एसके तोमर-डीन स्टूडेंट वेलफेयर पूर्व चेयरमैन डिपार्टमेंट ऑफ मैथेेमेटिक्स

- प्रो.सोनल चावला-डिपार्टमेंट ऑफ कंप्यूटर साइंस एंड एप्लीकेशन, डायरेक्टर आइएएस कोङ्क्षचग सेंटर

- प्रो.जगत भूषण- कंट्रोलर ऑफ एग्जामिनेशन और पूर्व डायरेक्टर डेंटल कॉलेज पीयू

- डा.प्रियतोष शर्मा -डिपार्टमेंट ऑफ हिस्ट्री पीयू

- प्रो.जयंती दत्ता- डिप्टी डायरेक्टर यूजीसी एचआरडी सेंटर पीयू

- प्रो.हेमंत बत्रा-प्रिंसिपल कम प्रोफेसर डेंटल कॉलेज पीयू

- प्रो.सुशील कंसल-यूआइसीईटी पंजाब यूनिवर्सिटी

- प्रो.अशोक कुमार- डायरेक्टर सीएसएसईआपी और प्रोफेसर हिंदी विभाग पीयू

- डॉ.निधि गौतम-यूआइएएमएस वार्डन गल्र्स हॉस्टल पीयू

- प्रो.सविता गुप्ता-पूर्व डायरेक्टर यूआइइटी पीयू

- प्रो.रविइंद्र सिंह- डायरेक्टर पीयू रीजनल सेंटर लुधियाना

- प्रो.अरुण ग्रोवर- पूर्व कुलपति पंजाब यूनिवर्सिटी

- डॉ.सुरेंद्र सिंह सांघा- प्रिंसिपल दशमेश गल्र्स कॉलेज बादल पंजाब

- प्रो.सुखबीर कौर-डिपार्टमेंट ऑफ जूलॉजी, पूर्व डीएसडब्ल्यू वुमेन पीयू

- डॉ.अमित जोशी, हेड डिपार्टमेंट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड बायोइनफोरमेटिक्स एसजीजीएस कॉलेज

- प्रेसिडेंट -पंजाब यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन(पुटा) पीयू

- प्रेसिडेंट-पंजाब यूनिवर्सिटी नॉन टीचिंग इम्पालइज फेडरेशन पीयू

- डीन- डीन यूनिवर्सिटी इंस्ट्रक्शन पंजाब यूनिवर्सिटी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.