top menutop menutop menu

चंडीगढ़ में सैलून खोलने की मांग, उद्योग व्‍यापार मंडल ने प्रशासन को लिखा पत्र

चंडीगढ़, जेएनएन। चंडीगढ़ उद्योग व्‍यापार मंडल ग्रुप ने प्रशासन से शहर में हेयर कटिंग सैलून की दुकानें खोलने की मांग की है। चंडीगढ़ उद्योग व्यपार मंडल ग्रुप के संयोजक कैलाश चंद जैन व मनोनीत पार्षद हाजी ख़ुर्शीद मोहम्मद सलमानी ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा है कि प्रशासन सुरक्षा के सभी मापदंड अपनाने के बाद निर्धारित शर्तों आधार पर शहर में उक्त गतिविधिया शुरू करने की इजाजत दे।

इस संबंध में चंडीगढ़ उद्योग व्यपार मंडल ग्रुप के संयोजक कैलाश चंद जैन ने चंडीगढ़ के प्रशासक को पत्र भी लिखा है, जिसकी प्रति गृह मंत्रालय को भी भेजी है। पत्र में कैलाश जैन ने कहा है कि वर्तमान कारोना संकट में लॉकडाउन-4 में प्रशासन द्वारा शहर में व्यवसाय की लगभग हर गतिविधियों को खोल दिया गया है। लेकिन अभी तक सैलून को बंद रखा गया है जबकि अधिकतर हेयर कटिंग सैलून वाले बहुत ही छोटे व गरीब दुकानदार होते हैं। काफी संख्या में तो पेड़ों के नीचे दुकान सजाकर अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं। इनकी दुकान न खुलने से इनको रोजी-रोटी के लाले पड़े हुए हैं और साथ ही साथ शहर वासियों के लिए भी यह सुविधा मुहैया नहीं हो रही है।

कैलाश जैन का कहना है कि जबकि पड़ोसी राज्‍यों पंजाब व हरियाणा, विशेषकर ट्राइसिटी के शहर पंचकूला, मोहली,जीरकपुर में इस गतिविधि को मंजूरी दे दी गई है। केंद्र सरकार की गाइडलाइन के अनुसार भी इस संबंध में लोकल एडमिनिस्ट्रेशन को फैसला लेने का अधिकार है। इसलिए चंडीगढ़ में भी हजारों की संख्या में खाली बैठे इन हेयर कटिंग सैलून चलाने वाले दुकानदारों को भी पूरे एतिहात बरतने के निर्देश देकर व सुरक्षा के पूरे इंतजाम करने के उपरांत प्रशासन के द्वारा तय मानकों के अनुसार दुकानें खोलने की इजाजत दे देनी चाहिए।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.