चंडीगढ़ के सेक्टर-22डी में दो महीने से चल रही अवैद्य पार्किंग, बिना एग्रीमेंट पर्चियां काट रहा ठेकेदार

प्रेस कॉन्फेंस के दौरान बिजवाड़ा शोरुम्स मार्केट एसोसिएशन के सदस्य।
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 02:25 PM (IST) Author: Vikas_Kumar

चंडीगढ़, जेएनएन। सेक्टर-22डी स्थित बिजवाड़ा शोरुम्स मार्केट एसोसिएशन ने अपनी मार्केट में गत दो महीनों से अवैद्य रुप से चल रही पार्किंग को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है। इस मामले को आड़े लेते हुए एसोसिएशन ने एमसी कमीशनर, एसएसपी, चंडीगढ़ पुलिस और स्थानीय सेक्टर-17 स्थित एसएचओ में शिकायत दर्ज कर मामलें को गंभीरता से लेने का आग्रह किया है।

एसोसिएशन के अध्यक्ष विकास बंसल ने पार्किंग ठेकेदार पाश्चात्य इंटरटेनमेंट के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि पेड पार्किंग का यह सिलसिला गत दो माह से चल रहा था। ठेकेदार सेक्टर-22सी की पार्किंग पर्ची पर ही सेक्टर-22डी की पार्किंग पर अवैद्य रुप से कब्जा जमाए बैठे था। गत दिनों मार्केट ऐसोसियेशन के सदस्यों ने जब अपने ग्राहकों और पार्किंग ठेकेदार के बीच होने वाली नोकझोंक को गंभीरता से लिया, तो पता चला कि यह पार्किंग नगर निगम के बिना किसी ऐग्रीमेंट के चलाई जा रही थी। उक्त ठेकेदार सेक्टर 22सी की पार्किंग पर्चियों की एवज में सेक्टर 22डी की पार्किंग पर्चियां काटता जब पकड़ा गया तो वह नगर निगम के साथ अपने ऐग्रीमेंट को स्पष्ट नहीं कर पाया। ठेकेदार को अपना ऐग्रीमेंट दिखाने के लिए मार्केट ऐसोसिएशन ने पर्याप्त समय दिया, परन्तु वह अपने ठेके के अधिकारिक प्रमाण नहीं दिखा पाया।

एसोसिएशन के महासचिव विजय गर्ग ने बताया कि इस मामले को जब पुलिस के संझान में रखा गया, तो सेक्टर-22 स्थित पुलिस पोस्ट ने डीडीआर में एसोसिएशन द्वारा इस मामले पर समझौते पर स्वीकृति देकर ठेकेदार के प्रति अपना नरम रवैया दिखाया, जोकि ऐसोसिएशन को गंवारा नहीं है। चैयरमेन डीपी गर्ग ने बताया कि ठेकेदार ने न केवल लोगों और स्थानीय दुकानदारों से पर्ची काट और पास इश्यू कर ठगी की है बल्कि सरकारी राजस्व को भी नुकसान पहुंचाया है। एसोसिएशन ने मांग की है कि प्रशासन ठेकेदार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे और इस प्रकरण में लिप्त संबंधित एमसी अधिकारी और पुलिसकर्मियों को बेनकाब करें। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.