UPSC में 68वां रैंक पाने वाली अक्षिता के घर पहुंचे हरियाणा विस अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता, मुंह मीठा करवा दी बधाई

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी में 69 वां रैंक हासिल करने वाली डा. अक्षिता गुप्ता के चंडीगढ़ निवास सेक्टर 32 पहुंचकर उन्हें मिठाई खिलाकर बधाई व आशीर्वाद दिया। वहीं ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता के घर भी गए।

Ankesh ThakurSat, 25 Sep 2021 04:35 PM (IST)
चंडीगढ़ सेक्टर-32 स्थित अक्षिता के घर पर उन्हें गुलदस्ता भेंट करते ज्ञानचंद गुप्ता।

जागरण संवाददाता, पंचकूला। Civil Services Exam- 2020: यूपीएससी में ऑल इंडिया 69वां रैंक हासिल करने वाली डॉ. अक्षिता गुप्ता को हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने विशेष तौर पर बधाई दी है। शनिवार को पंचकूला विधायक व विधानसभा अध्यक्ष अक्षिता गुप्ता के चंडीगढ़ सेक्टर-32 स्थित घर उससे मिलने पहुंचे। गुप्ता ने अक्षिता को मिठाई खिलाकर बधाई व आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर अक्षिता के पिता पवन गुप्ता, माता मीना गुप्ता परिवार के अन्य सदस्यों के साथ सार्थक स्कूल के अध्यापक उपस्थित थे। डॉ. अक्षिता गुप्ता के पिता पवन गुप्ता सेक्टर-12ए सार्थक स्कूल में बतौर प्रिंसिपल हैं और उनकी माता सरकारी स्कूल में मैथ टीचर हैं। 

गुप्ता ने कहा कि हरियाणा की बेटी डॉक्टर अक्षिता गुप्ता ने पहले ही बार में यूपीएससी में 69वां रैंक हासिल कर हरियाणा के साथ साथ अपने माता पिता का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर अक्षिता गुप्ता सरकारी स्कूल से पढ़कर पहले एमबीबीएस डॉक्टर बनीं और अब यूपीएससी में पहले ही अटेंप्ट में 69वां रैंक हासिल कर हरियाणा का नाम देशभर में रोशन किया है, हमें अक्षिता पर गर्व है।

सिविल सर्विसेज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को मिठाई खिलाते विस अध्यक्ष। 

 

इसके बाद ज्ञानचंद गुप्ता ने आज यूपीएससी सिविल सर्विसेज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता के निवास स्थान सेक्टर-7 में पंहुचकर उन्हें शुभकामनाएं व आशीर्वाद दिया और आयुष के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उनके साथ नगर निगम के महापौर कुलभूषण गोयल भी उपस्थित थे। गुप्ता ने कहा कि आयुष गुप्ता ने यह उपलब्धि हासिल कर पंचकूला का ही नहीं पूरे हरियाणा का नाम रोशन किया है।

आयुष गुप्ता के पिता हरियाणा उच्च न्यायालय के एडवोकेट सरवन गुप्ता ने बताया कि पूरे परिवार को आयुष की इस उपलब्धि पर गर्व है। कि कोविड के दौरान आयुष ने घर बैठकर ही यूपीएससी की तैयारी की और उनकी मेेहनत रंग लाई। आयुष ने सेंट जॉन सेक्टर-26 से अपनी शिक्षा पूरी की और वह 7वीं, 8वीं व 9वीं कक्षा में स्कॉलर ब्लेज्र हॉल्डर भी रहे। इसके बाद उन्होंनेे पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ से लॉ ऑनर्स की। आयुष गुप्ता ने कहा कि उनके पिता सरवन गुप्ता का सपना था कि वे आइएएस बने और उनका यह सपना आज पूरा हो गया। उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य समाज की सेवा करना और वे सिविल सर्विसेज के माध्यम से इसे पूरा करने का प्रयास करेंगे। इस अवसर पर आयुष की माता रेणू गुप्ता, बड़े भाई शिखर गुप्ता व परिवार के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.