चंडीगढ़ प्रशासनिक अधिकारियों के बदलेंगे विभाग, प्रशासक बनवारी लाल से चर्चा के बाद जारी होंगे आदेश

पूर्व होम सेक्रेटरी के चंडीगढ़ से रिलीव होने के बाद उनके डिपार्टमेंट फाइनेंस सेक्रेटरी के साथ चीफ कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट देबेंद्र दलाई को भी दिए गए हैं। लेकिन अब दोबारा से यह सभी विभाग होम सेक्रेटरी को वापस दिए जा सकते हैं।

Ankesh ThakurTue, 14 Sep 2021 01:53 PM (IST)
नए होम सेक्रेटरी नितिन यादव ने सोमवार को ज्वाइन कर लिया है।

जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। चंडीगढ़ प्रशासन में कई महीने से अदला बदली का खेल चल रहा है। यह खेल एडवाइजर के बदलने से शुरू हुआ था जो अभी तक जारी है। इसके बाद प्रशासक से लेकर होम सेक्रेटरी सब बदल चुके हैं। अधिकारी के बदलते ही विभागों में भी फेरबदल हो रहा है। अब एक बार फिर से बड़ा फेरबदल प्रशासनिक अधिकारियों के काम में होने जा रहा है। अधिकारियों से पुराने विभाग लेकर नए दिए जाएंगे। यह बदलाव अब नए होम सेक्रेटरी नितिन यादव के ज्वाइन करने की वजह से हो रहा है।

नितिन यादव ने ज्वाइन तो सोमवार को कर लिया था लेकिन उनको अभी डिपार्टमेंट आवंटित नहीं हुए हैं। मंगलवार को प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित दिल्ली से चंडीगढ़ लौट आए हैं। बताया जा रहा है कि शाम तक उनसे चर्चा के बाद विभागों में फेरबदल के साथ ट्रांसफर ऑर्डर जारी हो जाएंगे। यह बदलाव केवल आइएएस स्तर पर ही नहीं एचसीएस और पीसीएस अधिकारियों के स्तर पर भी होगा।

पूर्व होम सेक्रेटरी के चंडीगढ़ से रिलीव होने के बाद उनके डिपार्टमेंट फाइनेंस सेक्रेटरी के साथ चीफ कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्ट देबेंद्र दलाई को भी दिए गए हैं। लेकिन अब दोबारा से यह सभी विभाग होम सेक्रेटरी को वापस दिए जा सकते हैं। ऐसा इसलिए भी क्योंकि आइएफएस को यह डिपार्टमेंट देने से कई संगठन लगातार सवाल उठा रहे हैं। हालांकि अब यह बदलाव रूटीन प्रक्रिया मानी जा रही है। इसका कारण नए होम सेक्रेटरी का ज्वाइन करना भी है।

फाइनेंस सेक्रेटरी के पास सबसे अधिक डिपार्टमेंट

नए होम सेक्रेटरी नितिन यादव हरियाणा कैडर के 2000 बैच के अधिकारी हैं। हरियाणा सरकार ने केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद तीन साल के लिए नितिन यादव की सेवाएं चंडीगढ़ को सौंपी हैं। हालांकि अभी नितिन यादव को डिपार्टमेंट आवंटित नहीं किए गए हैं। अरुण कुमार गुप्ता के वापस हरियाणा लौटने पर उनके विभाग फाइनेंस सेक्रेटरी विजय नामदेवराव जेदे और कई दूसरे अधिकारियों को सौंप रखे हैं। इस समय विजय जेदे के पास सबसे अधिक 20 डिपार्टमेंट हैं। प्रशासन के दूसरे अधिकारियों पर भी उनकी तरह वर्कलोड है। लेकिन अब फिर से सभी विभागों का आवंटन हो जाएगा।

दो एचसीएस और पीसीएस की होगी वापसी

हरियाणा सरकार के भेजे पैनल में से प्रशासन ने एक एचसीएस अधिकारी का नाम फाइनल कर लिया है। वह भी अगले एक दो दिनों में चंडीगढ़ ज्वाइन कर सकते हैं। यह पैनल एचसीएस तिलकराज की रिप्लेसमेंट में आया है। इसके अलावा एचसीएस राधिका सिंह भी चंडीगढ़ प्रशासन से रिलीव होकर वापस हरियाणा लौट चुकी हैं। उनकी रिप्लेसमेंट में भी अधिकारी चंडीगढ़ को मिलेगा। इसी तरह से पीसीएस पैनल भी मांगा गया है। पंजाब से यह पैनल मिलते ही अधिकारी का नाम फाइनल होगा। जबकि दो एचसीएस और दो पीसीएस अधिकारी अगले कुछ दिनों में वापस अपने मूल राज्य लौट जाएंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.