पंजाब में कोराेना से मरने वालों की संख्या 10 हजार के पार, 18+ वालों को वैक्‍सीन परसों से

पंजाब में 18 साल से ऊपर के लोगों को साेमवार से वैक्‍सीन दी जाएगी। (सांकेतिक फोटो)

CoronaVirus पंजाब में कोरोना वायरस के कारण मरने वालों की संख्‍या 10 हजार के पार पहुंच गई है। मई के पहले सप्‍ताह में ही राज्‍य मेे कोरोना संक्रमित 1126 लोगों की मौत हो गई है। दूसरी ओर राज्‍य में 18 से ऊपर के लोगों को सोमवार से वैक्‍सीन दी जाएगी।

Sunil Kumar JhaSat, 08 May 2021 08:11 AM (IST)

जालंधर/चंडीगढ़, जेएनएन। CoronaVirus: पंजाब में कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर में मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान पंजाब में 165 मौत हो गई है। इसके साथ अब तक मरने वालों का आंकड़ा 10,144 पर पहुंच गया है। मई के पहले हफ्ते में ही 1126 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य में लगातार छठे दिन 150 से ज्यादा लोगों की जान गई।  दूसरी ओर, राज्‍य में 18 साल से 45 साल तक के लोगों को सोमवार से वैक्‍सीन लगाई जाएगी।

24 घंटों में 165 की मौत, लगातार छठे दिन गई 150 से ज्यादा की जान

पिछले 24 घंटे के दौरान अमृतसर में सबसे ज्यादा 22, लुधियाना में 20 और बठिंडा में 19 लोगों की मौत हुई। वहीं, संक्रमण के 8367 नए मामले सामने आए। इनमें लुधियाना में सबसे ज्यादा 1465 और बठिंडा में 1027 केस रिकार्ड किए गए। प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 69,724 पहुंच गई है। राज्य में इस समय 8283 लोग आक्सीजन सपोर्ट पर हैं, जबकि 277 को वेंटीलेटर पर रखा गया है। पंजाब में शुक्रवार को 68545 लोगों को वैक्सीन लगाई गई।

सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया से आज मिल सकती है वैक्सीन की एक लाख डोज

दूसरी ओर, पंजाब में 18 से 45 साल के आयु वर्ग के लोगों के टीकाकरण पर असमंजस खत्म हो गई है। इस आयु वर्ग के लिए सोमवार से टीकाकरण शुरू हो जाएगा। सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (एसआइआइ) से आज (शनिवार) एक लाख डोज पंजाब पहुंच सकती है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सभी जिलों के अधिकारियों को कहा है कि सोमवार से सरकारी अस्पतालों में 18 से 45 वर्ष के लोगों के टीकाकरण की तैयारियां की जाएं।

श्रमिक, शिक्षक, सभी सरकारी कर्मचारी और शुगर, बीपी आदि बीमारी वाले लोगों को प्राथमिकता

मुख्यमंत्री ने कहा कि खुराक मिलते ही राज्य सरकार प्राथमिक ग्रुपों का टीकाकरण शुरू करेगी। राज्य सरकार ने निर्माण में जुटे श्रमिक, शिक्षक, सभी सरकारी कर्मचारी और सह बीमारी (शुगर बीपी आदि) वाले लोगों को प्राथमिक ग्रुप में शामिल किया है। मुख्यमंत्री ने कोविड समीक्षा के लिए बुलाई वर्चुअल मीटिंग में सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए टीकाकरण के लिए विशेष निर्देश दिए। इसमें ऐसे कर्मचारी नहीं होंगे, जिन्हें स्वास्थ्य संबंधी कोई गंभीर परेशानी है। इसके लिए सभी जिलों के डीसी की जिम्मेदारी तय की गई है। 

बीमारी वालों के टीकाकरण की योजना भी डीसी ही बनाएंगे। अग्रिम रजिस्ट्रेशन और टीकाकरण के लिए निर्धारित जगहों की आज्ञा दे दी गई है। श्रम विभाग पंजाब बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्शन वर्कर्स वेलफेयर बोर्ड (बीओसीडब्ल्यूडब्ल्यूबी) की फंडिग से सभी निर्माण वर्करों और उनके परिवारों के टीकाकरण के लिए तालमेल करेगा।

सरकार ने दिया है तीस लाख डोज का आर्डर

राज्य सरकार ने तीसरे चरण के टीकाकरण के लिए सीरम इंस्टीट्यूट को 30 लाख डोज का आर्डर दिया है। केंद्र सरकार ने इस महीने के लिए पंजाब को 3.30 लाख डोज अलाट की हैं।

विश्व बैंक की कर्ज की राशि खर्च करने के आदेश

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को निर्देश दिए हैं कि राज्य के विश्व बैंक से लिए कर्जे में से कुछ हिस्सा टैंकरों सहित 10 हजार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, ऑक्सीजन प्लांट और वैक्सीन खरीदने के लिए इस्तेमाल किया जाए। टाटा ग्रुप ने भेजे 700 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर टाटा ग्रुप ने 700 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर पंजाब के लिए भेजे हैं। इसमें से टाटा मेमोरियल अस्पताल ने 200 कंसंट्रेटर दिए हैं। इसके लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने टाटा ग्रुप का धन्यवाद किया है।

यह भी पढ़ें: हरियाणा सरकार कोरोना संक्रमित लोगाें को देगी आर्थिक मदद, जानें किसे कितनी राशि मिलेगी

यह भी पढ़ें: नवजोत सिद्धू के लिए पंजाब कांग्रेस में बने रहना अब आसान नहीं, पार्टी में विकल्‍पों पर चर्चा तेज


हरियाणा की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.