top menutop menutop menu

पंजाब में कर्फ्यू की अवधि 14 अप्रैल तक बढ़ाई गई, सभी परीक्षाएं भी स्‍थगित

चंडीगढ़, जेएनएन। पंजाब की कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार ने राज्‍य में काेरोना से पैदा हालात को देखते हुए कर्फ्यू की अवधि 14 दिन बढ़ा दी है। अब पंजाब मेें 14 अप्रैल तक कर्फ्यू जारी रहेगा। राज्‍य कैबिनेट ने यह फैसला सोमवार शाम लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों देश में 21 दिन के Lock Down की घोषणा की थी। यह अवधि 14 अप्रैल को पूरी होगी। इसके बाद केंद्र सरकार द्वारा किए जाने वाले फैसले के अनुरूप पंजबा सरकार कर्फ्यू को आगे जारी रखने या नहीं रखने के बारे में फैसला करेगी। इसके साथ ही राज्‍य में परीक्षाएं भी अनिश्चितकाल के लिए स्‍थगित कर दी गई हैं।

मुख्यमंत्री ने छह मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की मीटिंग की। इसी बैठक में फैसला किया गया कि राज्‍य में कर्फ्यू की अवधि में 14 दिनों की वृद्धि की जाए। फैसला किया गया कि राज्‍य में 1 से 14 अप्रैल तक कर्फ्यू जारी रहेगा। बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों पूरे देश में 21 दिनों का लॉक डाउन करने की घोषणा की थी।

यह लॉक डाउन 14 अप्रैल तक रहेगा। पंजाब सरकार इससे पहले 23 मार्च से 31 मार्च तक पूरे राज्‍य में कर्फ्यू लागू किया था। बता दें कि पंजाब में अब तक कोरोना वायरस के 38 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। इसमें से दो मरीजों की मौत हो गई। इसके अलावा चंडीगढ़ में आठ मरीजों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

--------

8वीं, 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड की परीक्षाएं अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

दूसरी ओर, कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए शिक्षा विभाग ने 8वीं, 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड की परीक्षाओं को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया है। पहले यह परीक्षाएं 1 अप्रैल से होनी थी। शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने  बताया कि शिक्षा विभाग ने अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया को भी 15 अप्रैल तक रोक दिया है। इस भर्ती प्रक्रिया के अधीन  बॉर्डर कैडर की हिंदी, पंजाबी, गणित, सामाजिक अध्ययन, अंग्रेज़ी और विज्ञान विषय के अध्यापकों के पद भरे जाने थे।

शिक्षा मंत्री ने बताया कि 8वीं, 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड की परीक्षाएं जो पहली अप्रैल से होनी थीं, को अगले आदेश तक मुलतवी कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इससे पहले पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड (पीएसईबी) द्वारा पहले 31 मार्च तक परीक्षाओं को मुलतवी किया गया था परन्तु आठवीं कक्षा के कुछ प्रैक्टिकल और बारहवीं कक्षा की थ्यूरी की परीक्षाएं पहली अप्रैल से होनी थीं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस की बीमारी के मद्देनजऱ देश भर में हुए लॉकडाउन के कारण यह परीक्षाएं मुलतवी की गई हैं।

उन्‍होंने बताया कि 8वीं और बारहवीं कक्षा के अलावा,  3 अप्रैल से शुरू होनेवाली 10वीं कक्षा की कुछ थ्यूरी की परीक्षाओं को भी तुरंत प्रभाव से मुलतवी कर दिया गया है। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि हालात आम की तरह होने के तुरंत बाद इन इम्तिहानों के लिए संशोधित डेटशीट जारी कर दी जाएगी। इसी प्रकार शिक्षा विभाग ने अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया पर 15 अप्रैल, 2020 तक रोक लगा दी गई है।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.