Constitution Day 2021: चंडीगढ़ के स्कूल कालेजों में हुए विभिन्न कार्यक्रम, स्टूडेंट्स को बताया संविधान का महत्व

Constitution Day 2021 आज संविधान दिवस पर शहर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए गए। स्कूल और कालेजों में विभिन्न प्रकार के भाषण लेखन प्रतियोगिता और लेक्चर कार्यक्रम के बाद शपथ समारोह आयोजित किए गए।

Ankesh ThakurFri, 26 Nov 2021 04:57 PM (IST)
पोस्ट ग्रेजुएट कालेज सेक्टर-42 में आयोजित कार्यक्रम में मौजूद स्टूडेंट्स और कालेज स्टाफ।

जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। Constitution Day 2021: आज संविधान दिवस पर शहर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों में अलग-अलग कार्यक्रम आयोजित किए गए। स्कूल और कालेजों में विभिन्न प्रकार के भाषण, लेखन प्रतियोगिता और लेक्चर कार्यक्रम के बाद शपथ समारोह आयोजित किए गए, जिसमें संकल्प लिया गया कि संविधान के हर नियम का पालन किया जाएगा। स्कूल में स्टूडेंट्स को जहां पर संविधान निर्माता बाबा भीमराव आंबेडकर के बारे में जानकारी दी गई उसके साथ ही संविधान के बारे स्टूडेंट्स को अवगत कराया गया।

देश की आजादी से पहले बाबा भीमराव आंबेडकर ने विश्व के अलग-अलग देशों के संविधानों को पढ़ा और जो भी बेहतर लगा उसे देश की आजादी के बाद वहां से उठाकर भारतीय संविधान में शामिल किया। इस समय भारतीय संविधान में इंग्लैड से लेकर अमेरिका और विश्व के करीब 16 देशों के संविधान का समावेश किया गया है। भारतीय संविधान को 26 नवंबर 1949 को संविधान सभा की तरफ से स्वीकार किया गया था जिसके बाद इसे लागू किया गया। संविधान तैयार करने में बाबा भीमराब आंबेडकर को दो साल 11 महीने 18 दिन का समय लगा था।

स्टूडेंट्स को बताया संविधान का अर्थ

शहर के अलग-अलग स्कूलों में आयोजित कार्यक्रम में स्टूडेंट्स काे संविधान का महत्व और जरूरत बताई गई। संविधान के द्वारा ही देश को एक सूत्र में बांधकर चलाया जा रहा है और इसमें दिए गए अधिकारों और कर्तव्यों का पालन करते हुए देश विकास की तरफ बढ़ सकता है। केबी डीएवी स्कूल सेक्टर-7 की प्रिंसिपल पूजा प्रकाश ने बताया कि बाबा भीमराव आंबेडकर ने देश को आगे बढ़ाने के लिए लंबा संघर्ष किया है। उनके द्वारा तैयार किए गए संविधान को 26 जनवरी 1950 को देश पर लागू किया गया जिसके बाद उस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है।

संसद के साथ जुड़ मनाया गया संविधान दिवस

गवर्नमेंट पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कालेज फार गर्ल्स सेक्टर-42 में संविधान दिवस के मौके पर भारतीय संसद से जुड़कर आनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया गया। छात्राओं ने संविधान में दिए गए अधिकार, कर्तव्य और धाराओं के प्रचार के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिता के बाद आनलाइन स्ट्रीमिंग के जरिये संसद की कार्रवाई से जुड़ा गया और संविधान के बारे में देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के विचारों से रू-ब-रू हुआ गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.