GATE Result 2021: चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट सचिन शर्मा ने हासिल किया ऑल इंडिया 76वां रैंक

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट सचिन शर्मा ने गेट रिजल्ट में हासिल किया ऑल इंडिया 76वां रैंक।

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (सीयू) के मेकेनिकल इंजीनियरिंग छात्र सचिन शर्मा ने गेट-2021 (ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग) परीक्षा में देशभर में 76वां रैंक हासिल किया है। यूनिवर्सिटी के सचिन शर्मा ने गेट-2021 परीक्षा को अपने पहले ही प्रयास में 84.16 अंकों के साथ पास किया।

Ankesh KumarFri, 09 Apr 2021 04:59 PM (IST)

मोहाली, जेएनएन। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (सीयू) के मैकेनिकल इंजीनियरिंग छात्र सचिन शर्मा ने (ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग) गेट-2021 परीक्षा में देशभर में 76वां रैंक हासिल किया है। सचिन शर्मा ने अपने पहले ही प्रयास में 84.16 अंक हासिल कर यूनिवर्सिटी और अपने माता पिता का नाम रोशन किया है। 

मूल रूप से हलद्वानी उत्तराखंड के सचिन शर्मा ने अपनी कड़ी मेहनत से बिना किसी कोचिंग के परीक्षा में शानदार प्रदर्शन करते हुए 1000 में से 885 स्कोर किया है। सचिन शर्मा ने बारहवीं 67 प्रतिशत अंकों के साथ महर्षि विद्या मंदिर हलद्वानी से की है। ग्रेजुएशन में 7.1 सीजीपीए बरकरार रखा है।

अपनी कामयाबी का श्रेय अपने अभिभावकों और शुभचिंतकों को देते हुए सचिन ने बताया कि सीयू में पढ़ाई के दौरान उनके अध्यापकों ने कोर्स के अतिरिक्त गेट परीक्षा के लिए उनका मार्गदर्शन कर बहुत सहयोग दिया। इसके चलते उन्हें परीक्षा में देशभर में 76वां रैंक मिल पाया है। उन्होंने इस परीक्षा के लिए कोई कोचिंग नहीं ली। सेल्फ स्टडीज के आधार पर परीक्षा की तैयारी करते हुए वह पढ़ाई के लिए सामान्य 5-6 घंटे समय देकर ऑल इंडिया लेवल पर 76वां रैंक हासिल करने में कामयाब रहे हैं।

उल्लेखनीय है सचिन के पिता उत्तराखंड में एक व्यापारी हैं और उनकी मां गृहिणी हैं। सचिन ने कहा कि वह व्हीकल डिजाइनिंग के क्षेत्र में रिसर्च करना चाहते हैं और अपने परिवार को आर्थिक रूप से समर्थन देने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र और उपक्रम क्षेत्र में शामिल होना चाहते हैं। गौरतलब है ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट फॉर इंजीनियरिंग (गेट) परीक्षा-2021 दो नए विषयों एन्वायरमेंटल साइंस एंड इंजीनियरिंग और ह्यूमेनिटीज एंड सोशल साइंसेज सहित कुल 27 पेपरों में आयोजित की गई थी।

रिपोर्ट के अनुसार, परीक्षा में कुल 7,11,542 उम्मीदवारों में से केवल 17.82 प्रतिशत छात्र ही पास हुए हैं, जिनमें सचिन शर्मा ने अपनी जगह बनाकर यूनिवर्सिटी का नाम रोशन किया है। यूनिवर्सिटी के चांसलर सतनाम सिंह संधू ने कहा कि यूनिवर्सिटी अपने छात्रों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा के साथ-साथ सेमिनार, वर्कशॉप और कांफ्रेंस के माध्यम से रिसर्च, उद्योग, प्रशासनिक सेवा जैसे विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों का मार्गदर्शन मुहैया करवाती है, ताकि विद्यार्थियों को उक्त क्षेत्रों की वास्तविकताओं से अवगत करवाकर उनका सर्वांगीण विकास किया जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.