कृषि कानूनों की वापसी पर बोला चंडीगढ़ का आटो ड्राइवर, थैंक्यू पीएम, 10 दिन तक लोगों को कराएगा फ्री राइड

बता दें कि शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों (Agriculture Laws) को वापस लेने का एलान किया था। चंडीगढ़ के आटो चालक अनिल कुमार ने पीएम के फैसले को लेकर और किसानों के समर्थन में 10 दिन तक शहर में फ्री राइड का पेशकश की है।

Ankesh ThakurSat, 20 Nov 2021 05:18 PM (IST)
अनिल कुमार ने अपने आटो पर बकायदा एक पोस्टर लगा रखा है।

चंडीगढ़, आनलाइन डेस्क। चंडीगढ़ के आटो चालक (Chandigarh Auto Driver) अनिल कुमार एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार अनिल ने शहर में अगले दस दिन तक अपने आटो में फ्री राइड (Free Ride) देने का फैसला लिया है। यह फैसला उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi) का आभार जताने के लिए लिया है।

बता दें कि शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों (Agriculture Laws) को वापस लेने का एलान किया था। उनके इस फैसले का सभी स्वागत कर रहे हैं। ऐसे में चंडीगढ़ के आटो चालक ने कृषि कानून वापस लिए जाने के पीएम के फैसले को लेकर और किसानों के समर्थन में 10 दिन तक शहर में फ्री राइड का पेशकश की है। अनिल कुमार के मुताबिक आने वाले दस दिनों तक किसी भी सवारी से पैसे नहीं लेंगे।

अनिल ने बताया कि देश के प्रधानमंत्री मोदी ने किसानों के हक में फैसला लेते हुए तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का एलान किया है। पीएम ने देश हित में यह फैसला लिया है। इसलिए वह उनके इस फैसले को समर्थन में शहरवासियों को अगले दस दिन तक फ्री में अपने आटो में लेकर उनके गंतव्य तक पहुंचाएंगे। सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक अनिल के आटो में जो भी सवारी बैठेगी उनसे किसी तरह का किराया नहीं लिया जाएगा। अनिल ने अपने आटो पर बकायदा एक पोस्टर लगा रखा है, जिसमें उन्होंने साफ साफ लिखा है कि वह लोगों से बिना कोई किराया लेकर फ्री राइड करवाएंगे।

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-पाक के मैच को लेकर भी अनिल ने शहर में एक दिन फ्री राइड की घोषणा की थी। बीते महीने 24 अक्टूबर को टी-20 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए मुकाबले में भारत की जीत पर अनिल ने यह एलान किया था। लेकिन बदकिस्मती से भारत उस मुकाबले में हार गया था।

सैनिक और गर्भवती महिलाओं के लिए हमेशा फ्री राइड

अनिल शहर का ऐसा पहला आटो ड्राइवर है जो कि रेलवे स्टेशन से लेकर बस स्टैंड पर मिलने वाले भारतीय सैनिक और गर्भवती महिलाओं से अपने आटो में सफर करने का कोई किराया नहीं लेता। भारतीय सेना के किसी भी सैनिक और गर्भवती महिलाओं को उनकी मंजिल तक पहुंचने को अनिल अपना कर्तव्य समझते हैं। इसके अलावा कोरोना काल में मेडिकल स्टाफ को भी फ्री सफर करवाया था।

ओलिंपिक में गोल्ड मेडल मिलने पर भी दी थी फ्री राइड

टोक्यो ओलिंपिक 2020 में देश के लिए नीरज चोपड़ा ने जैवलिन में स्वर्ण पदक जीता था। उससे अगले दिन भी अनिल ने फ्री राइड का ऑफर दिया था। उस दिन शहर में यूपीएससी का एग्जाम था, जिसके चलते अनिल ने डेढ़ सौ से ज्यादा स्टूडेंट्स को बस स्टैंड सेक्टर-17 से फ्री सफर करवाते हुए सेक्टर-11, सेक्टर-16, सेक्टर-23 में बने एग्जाम सेंटर्स तक छोड़ा था।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.