CAT Exam 2020: कोविड-19 के कारण कैट परीक्षा में कम रही अटेंडेंस, परीक्षा का पैटर्न भी बदला

चंडीगढ़ में कैट परीक्षा देकर बाहर आते स्टूडेंट। जागरण

CAT Exam 2020 कैट में इस बार 2.25 लाख बच्चों ने हिस्सा लिया। इस बार स्टूडेंट्स को बदला पैटर्न मिला। ट्राईसिटी में आयोजित परीक्षा में छह हजार से अधिक अभ्यर्थी अपीयर हुए। कैट-2020 का आयोजन इस बार आइआइएम इंदौर द्वारा आयोजित किया जाता है।

Publish Date:Sun, 29 Nov 2020 09:06 PM (IST) Author: Kamlesh Bhatt

चंडीगढ़ [डाॅ. सुमित सिंह श्योराण]। CAT Exam 2020: देशभर के टाॅप मैनेजमेंट इस्टीट्यूट्स इंडियन इंस्टीट्यूट आॅफ मैनेजमेंट (आइआइएम) में एडमिशन के लिए रविवार को काॅमन एडमिशन टेस्ट (कैट) परीक्षा का आयोजन किया गया। ट्राईसिटी में आयोजित परीक्षा में छह हजार से अधिक अभ्यर्थी अपीयर हुए। कैट-2020 का आयोजन इस बार आइआइएम इंदौर द्वारा आयोजित किया गया।

कोविड-19 के कारण इस बार 15 से 20 फीसद कम कैंडीडेट्स ने परीक्षा दी। कैट विशेषज्ञों के अनुसार परीक्षा का स्तर बीते साल की तरह ही था, लेकिन इस बार कैट परीक्षा के पैटर्न में बदलाव से स्टूडेंट्स को कुछ दिक्कत हुई। कोविड-19 के कारण कैट परीक्षा का समय तीन घंटे से कम कर दो घंटे कर दिया गया। परीक्षा कुल 12 सेंटर पर आॅनलाइन आयोजित की गई।

बुल्स आई हेड ह्दयेश मदान के अनुसार देशभर से इस बार 2 लाख 27 हजार कैंडीडेट्स ने आवेदन किया था। बीते सालों में ट्राईसिटी से 50 से अधिक स्टूडेंट्स का कैट में बेहतर स्कोर पर टाॅप आइआइएम में एडमिशन होता है। आइआइएम से एमबीए डिग्री के बाद युवाओं को औसतन 15 लाख तक का पैकेज मिल जाता है। परीक्षा देने वाले पेक स्टूडेंट कुशल डुडेजा ने कहा कि परीक्षा को लेकर वह काफी संतुष्ट हैं। जिन स्टूडेंट्स ने टाइम मैनेजमेंट किया होगा उन्हें कोई दिक्कत नहीं आई होगी। एसडी काॅलेज में बीकाॅम स्टूडेंट भवित सिंगला के अनुसार वर्बल सेक्शन सबसे मुश्किल रहा, लेकिन पेपर में गणित आसान रहा।

105 से 110 स्कोर पर आइआइएम में मिल जाएगा दाखिला

कैट परीक्षा में इस साल कुल 76 सवाल पूछे गए, जिसमें तीन सेक्शन शामिल रहे। परीक्षा का समय भी तीन से घटाकर दो घंटे कर दिया गया। विशेषज्ञों का कहना है कि कैट में 105 से 110 स्कोर करने पर 99 परसेंटाइल मिलने की उम्मीद है। इस स्कोर पर देश के टाॅप आइआइएम में दाखिले की उम्मीदें काफी बढ़ जाएंगी। देश भर में कई प्राइवेट बिजनेस स्कूल भी कैट स्कोर पर दाखिला देते हैं।

यूबीएस में भी कैट स्कोर पर मिलेगा दाखिला

देश के सभी आइआइएम के अलावा पंजाब यूनिवर्सिटी स्थित यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल(यूबीएस) में भी कैट स्कोर के आधार पर ही करीब 180 सीटों पर हर साल दाखिला दिया जाता है। नब्बे परसेंटाइल से अधिक पाने वाले स्टूडेंट्स को यूबीएस में दाखिले की उम्मीद रहती है। इस रीजन में आइआइएम सिरमौर (हिमाचल) और आइआइएम अमृतसर में दाखिला भी ट्राईसिटी के युवाओं की प्राथमिकता में रहेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.