पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किया पार्टी कार्यालय का उद्घाटन, कहा- विधानसभा चुनाव जीतना है लक्ष्य

पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपनी पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी के कार्यालय का उद्घाटन कर दिया है। इसके साथ ही पंजाब की राजनीति में गरमी भी बढ़ जाएगी। कैप्टन आज से अपनी राजनीतिक गतिविधियां शुरू करेंगे।

Kamlesh BhattMon, 06 Dec 2021 12:25 PM (IST)
पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की फाइल फोटो।

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। कांग्रेस छोड़कर 'पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी' बनाकर 2022 के चुनावी दंगल में ताल ठोकने की तैयारी कर रहे पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आज सेक्टर-9 में अपनी पार्टी के दफ्तर का शुभारंभ कर दिया है। इसके साथ ही राज्य की राजनीतिक गतिविधियों में और गरमी आने की संभावना है। दफ्तर की शुरुआत के बाद कैप्टन अधिकारिक रूप से राजनीति में अपनी सक्रियता बढ़ाएंगे। कैप्टन ने कहा कि विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करना उनका लक्ष्य है।

कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर कोई बड़ा चेहरा कैप्टन के साथ नजर नहीं आया। हालांकि पूर्व विधायक हरजिंदर सिंह ठेकेदार और प्रेम मित्तल इस मौके पर मौजूद रहे। इसके अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह के पुराने नजदीकी दिखाई दे रहे हैं, लेकिन इनमें बड़े नाम नहीं हैं। कैप्टन के दावों के विपरीत अभी तक कोई भी बड़ा चेहरा कैप्टन के साथ खड़ा नजर नहीं आया। वहीं, कांग्रेस के सूत्रों का यह भी कहना है कि जब तक राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू नहीं हो जाती है तब तक सही तस्वीर उभर कर सामने नहीं आएगी।

पार्टी कार्यालय के उद्घाटन से पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें वह अरदास करते नजर आ रहे हैं। कैप्टन ने लिखा, आज पंजाब लोक कांग्रेस कार्यालय का उद्घाटन करने से पहले वाहेगुरु जी का आशीर्वाद लिया। पंजाब की समृद्धि और सुरक्षा के लिए ईश्वर से प्रार्थना की, क्योंकि मैं अपने राज्य और इसके लोगों के कल्याण के लिए काम करना जारी रखने का संकल्प लेता हूं।

यह भी पढ़ें: G-23 में शामिल कांग्रेस नेताओं की क्षेत्रीय दल के गठन से तौबा, भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने इसकी उपयोगिता को नकारा

वहीं, कैप्टन की अगले तीन-चार दिन में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक भी होने जा रही है। शनिवार को अमित शाह ने भी कह दिया था कि गठबंधन को लेकर उनकी कैप्टन और सुखदेव सिंह ढींडसा की पार्टी के साथ बातचीत चल रही है। इससे पहले कैप्टन और अमित शाह की बैठक चार दिसंबर को होनी तय हुई थी, लेकिन बाद में इसे टाल दिया गया। अब देखना यह होगा कि अपनी पार्टी का दफ्तर खोलने के बाद कैप्टन 2022 के चुनाव को लेकर अपने राजनीतिक पत्ते कब खोलते हैं।

यह भी पढ़ें: भगवंत मान का आरोप- भाजपा मुझे खरीदना चाहती थी; BJP ने दी नेता का नाम उजागर करने की चुनौती

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.