चंडीगढ़ में बोर्ड परीक्षा: मल्टीपल बेस्ड क्वेश्चन से स्टूडेंट्स खुश, इंटरनेट स्लो होने से देरी से डाउनलोड हुआ प्रश्नपत्र

कोरोना महामारी के चलते पहली बार बोर्ड एग्जाम दो टर्म में आयोजित करवाया जा रहा है। पहले टर्म की परीक्षा में पेपर में स्टूडेंट्स से 50 फीसद स्लेबस के प्रश्न पूछे गए हैं। वहीं दूसरे टर्म की परीक्षा मार्च अप्रैल में होगी।

Ankesh ThakurPublish:Tue, 30 Nov 2021 03:48 PM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 03:48 PM (IST)
चंडीगढ़ में बोर्ड परीक्षा: मल्टीपल बेस्ड क्वेश्चन से स्टूडेंट्स खुश, इंटरनेट स्लो होने से देरी से डाउनलोड हुआ प्रश्नपत्र
चंडीगढ़ में बोर्ड परीक्षा: मल्टीपल बेस्ड क्वेश्चन से स्टूडेंट्स खुश, इंटरनेट स्लो होने से देरी से डाउनलोड हुआ प्रश्नपत्र

सुमेश ठाकुर, चंडीगढ़। शहर में आज से सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो गई हैं। पहले दिन दसवीं कक्षा का सोशल साइंस का एग्जाम हुआ। एग्जाम सुबह साढ़े ग्यारह बजे शुरू हुआ जो दोपहर एक बजे तक आयोजित हुआ। पेपर देकर परीक्षा केंद्र से बाहर निकले स्टूडेंट्स खुश दिखे तो वहीं, परीक्षा केंद्र आयोजकों के पसीने छूट गए।

कोरोना महामारी के चलते पहली बार बोर्ड एग्जाम दो टर्म में आयोजित करवाया जा रहा है। पहले टर्म की परीक्षा में पेपर में स्टूडेंट्स से 50 फीसद स्लेबस के प्रश्न पूछे गए हैं। वहीं, दूसरे टर्म की परीक्षा मार्च अप्रैल में होगी। मंगलवार को दसवीं कक्षा का सोशल स्टडीज विषय की परीक्षा हुई जिसमें शहर के 110 सेंटर पर 16 हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स एग्जाम देने पहुंचे थे। 

इंटरनेट और प्रिंटर से स्कूल प्रबंधन परेशान

बोर्ड एग्जाम में पहली बार प्रश्न पत्र और आंसरशीट सीबीएसई की तरफ से ऑनलाइन जारी की गई। परीक्षा शुरू होने से 20 मिनट पहले आंसरशीट और 15 मिनट पहले प्रश्न पत्र जारी किया गया, जिसे डाउनलोड करने के बाद परीक्षा केंद्र में स्कूल प्रबंधन को प्रिंट करके स्टूडेंट्स को देना था, लेकिन शहर के ज्यादतर परीक्षा केंद्रों में पहले इंटरनेट और उसके बाद प्रिंटर की परेशानी आई और पेपर 15 से 30 मिनट देरी से शुरू हो सका। परीक्षा आयोजकों के अनुसार एक साथ लिंक जारी होने के बाद सर्वर धीमा हुआ और प्रिंटर पर ज्यादा प्रिंट निकालने को लेकर भी परेशानी हुई। हालांकि परीक्षा देरी से शुरू होने के चलते स्टूडेंट्स को अतिरिक्त समय दिया गया।

मल्टीपल बेस्ड क्वेश्चन से स्टूडेंट्स खुश

मल्टीपल बेस्ड क्वेश्चन आने से स्टूडेंट्स खुश दिखे। स्टूडेंट साहिल ने बताया कि पेपर जल्द खत्म हो गया, हाथ भी थके नहीं। वंही आरती ने बताया कि पेपर आसान था जिसके चलते उसे समय पर पूरा कर लिया गया। टिक मार्क करने के चलते पेपर हल करने में मजा आया।